गृह मंत्री अमित शाह ने इंटरपोल के सेक्रेटरी जनरल जार्गेन से की मुलाकात

भारत (India) की ओर से कहा गया कि नोटिस जारी होने में देर होने के कारण आर्थिक और गंभीर अपराध में लिप्त अपराधी फरार हो जाते हैं. इस पर इंटरपोल (Interpol) को तत्परता दिखानी चाहिए.

News18Hindi
Updated: August 31, 2019, 6:36 PM IST
गृह मंत्री अमित शाह ने इंटरपोल के सेक्रेटरी जनरल जार्गेन से की मुलाकात
इंटरपोल के सेक्रेटरी जनरल जार्गेन से मिले गृहमंत्री अमित शाह.
News18Hindi
Updated: August 31, 2019, 6:36 PM IST
गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने शनिवार को इंटरपोल (Interpol) के सेक्रटरी जार्गेन स्टाक से मुलाकात की. इस दौरान उन्होंने इंटरपोल सेक्रेटरी के सामने रेड नोटिस जारी होने में देरी की चिंता जाहिर की.

भारत की ओर से कहा गया कि नोटिस जारी होने में देर होने के कारण आर्थिक और गंभीर अपराध में लिप्त अपराधी फरार हो जाते हैं. इस पर इंटरपोल को तत्परता दिखानी चाहिए.

भारत ने इंटरपोल को प्रस्ताव दिया कि वह भारत में एशिया रीजन (Asia Region) का रीजनल हब बनाए. इसके साथ ही साफ किया गया कि भारत में आतंकवाद (Terrorism), ड्रग ट्रैफिकिंग (Drug Trafficking) और अन्य तरीके के गंभीर अपराध के खिलाफ जीरो टॉलरेंस पॉलिसी है

भारत की ओर से यह भी बताया गया कि देश की कई एजेंसी गंभीर अपराधों से लड़ने के लिए काम कर रही हैं. इंटरपोल इन एजेंसियों को ज्यादा से ज्यादा सहयोग करे.

ये भी पढ़ें: मोदी आज दुनिया का नेतृत्व कर रहे हैं : अमित शाह

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 31, 2019, 6:36 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...