अपना शहर चुनें

States

महाराष्ट्र, पंजाब में कोरोना के बढ़े मामले, एक्शन में गृह मंत्री शाह, की बड़ी बैठक

गृहमंत्री अमित शाह ने कोरोना की स्थिति को लेकर अधिकारियों के साथ बैठक की (PTI)
गृहमंत्री अमित शाह ने कोरोना की स्थिति को लेकर अधिकारियों के साथ बैठक की (PTI)

Coronavirus Cases in India: भारत के कई राज्यों में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने देश में कोविड-19 स्थिति की समीक्षा के लिए अधिकारियों के साथ बैठक की.

  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Home Minister Amit Shah) ने कुछ राज्यों में कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus) के मामलों में आई अचानक बढ़ोतरी को देखते हुए सोमवार को देश में कोविड-19 स्थिति की समीक्षा की. समीक्षा बैठक में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन, गृह सचिव अजय भल्ला और दोनों मंत्रालयों के शीर्ष अधिकारी शामिल थे. गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि गृह मंत्री ने देश में कोरोना वायरस की स्थिति की समीक्षा की खासकर उन राज्यों की जहां हाल के समय में मामलों में बढ़ोतरी देखी गई.

अधिकारी ने बताया कि बैठक में जारी टीकाकरण प्रक्रिया और वायरस के और प्रसार पर लगाम लगाने के लिए आवश्यक कदमों पर चर्चा की गई. महाराष्ट्र, केरल, पंजाब, छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश जैसे राज्यों में कोविड-19 के मामलों में अचानक बढ़ोतरी की खबरें सामने आई हैं. गौरतलब है कि देश में पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 14,199 नए मामले सामने आने से कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1.10 करोड़ से ज्यादा हो गई. वहीं, लगातार पांचवें दिन उपचाराधीन मरीजों की संख्या में वृद्धि हुई. स्वास्थ्य मंत्रालय के सोमवार को अपडेट किए गए आंकड़ों में यह जानकारी दी गई.

ये भी पढ़ें- कोरोना वायरस: दिल्ली की मेट्रो व बसों में यात्रियों की संख्या पर लिया गया बड़ा फैसला



24 घंटे में 83 लोगों की हुई मौत
मंत्रालय के सुबह आठ बजे जारी आंकड़ों के अनुसार नए मामलों के बाद देश में संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 1,10,05,850 हो गई है. इस बीच, संक्रमण से 83 और मरीजों की मौत के बाद मृतकों की संख्या बढ़कर 1,56,385 हो गई है. देश में संक्रमण से अब तक 1,06,99,410 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं और राष्ट्रीय स्तर पर स्वस्थ होने की दर 97.22 फीसदी है. वहीं, मृत्यु दर 1.42 फीसदी है. आंकड़ों के अनुसार, देश में अभी कोविड-19 का उपचार करा रहे मरीजों की संख्या बढ़कर 1,50,055 हो गई, जो कि कुल मामलों का 1.36 फीसदी है.

भारत में कोविड-19 के मामले सात अगस्त को 20 लाख से ज्यादा हो गए थे, जबकि 23 अगस्त को 30 लाख, पांच सितंबर को 40 लाख और 16 सितंबर को 50 लाख का आंकड़ा पार किया था. 28 सितंबर को यह 60 लाख के पार चला गया, जबकि 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख, 20 नवंबर को 90 लाख और 19 दिसंबर को एक करोड़ का आंकड़ा पार किया था.

ये भी पढ़ें- महाराष्ट्र में कोरोना का नया स्ट्रेन, तो देश में हर्ड इम्युनिटी है दूर की कौड़ी?

भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के अनुसार, 21 फरवरी तक देशभर में कुल 21,15,51,746 नमूनों की जांच हुई, जिनमें से 6,20,216 नमूनों की जांच रविवार को हुई.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज