गृह मंत्रालय ने राज्यों को भेजा अलर्ट- काउंटिंग के दिन भड़क सकती है हिंसा, बनाए रखें कानून-व्यवस्था

गृह मंत्रालय ने सभी राज्यों के मुख्य सचिवों और पुलिस प्रमुखों (डीजीपी) को अलर्ट किया है कि 23 मई को चुनाव नतीजों वाले दिन देश के विभिन्न राज्यों में दंगे भड़क सकते हैं.

News18Hindi
Updated: May 23, 2019, 4:50 AM IST
गृह मंत्रालय ने राज्यों को भेजा अलर्ट- काउंटिंग के दिन भड़क सकती है हिंसा, बनाए रखें कानून-व्यवस्था
गृह मंत्रालय ने सभी राज्यों के मुख्य सचिवों और पुलिस प्रमुखों (डीजीपी) को अलर्ट किया है कि 23 मई को चुनाव नतीजों वाले दिन देश के विभिन्न राज्यों में दंगे भड़क सकते हैं.
News18Hindi
Updated: May 23, 2019, 4:50 AM IST
लोकसभा चुनाव के लिए काउंटिंग से एक दिन पहले गृह मंत्रालय ने हिंसा की आशंका के मद्देनजर सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को अलर्ट कर दिया. गृह मंत्रालय का कहना है कि कुछ पक्षों द्वारा किए गए हिंसा भड़काने के आह्वान को देखते हुए यह कदम उठाया गया है. गृह मंत्रालय ने राज्यों और केंद्र शासित क्षेत्रों में कानून व्यवस्था बनाए रखने की अपील की है.

बयान में कहा गया है, 'गृह मंत्रालय ने राज्य के मुख्य सचिवों और पुलिस महानिदेशकों को मतगणना के सिलसिले में देश के अलग..अलग हिस्सों में हिंसा भड़कने की आशंका के संबंध में अलर्ट किया है.' मंत्रालय ने कहा कि राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को साथ ही यह भी कहा गया है कि वे स्ट्रांग रूम और मतगणना स्थलों की सुरक्षा के लिए पर्याप्त कदम उठायें.



इसमें कहा गया है, 'यह विभिन्न पक्षों की ओर से मतगणना वाले दिन हिंसा भड़काने और बाधा उत्पन्न करने के लिए किए गए आह्वान और दिए गए बयानों के संबंध में किया गया है.'


एक अधिकारी ने कहा कि केंद्रीय सुरक्षा एजेंसियों को सूचना मिली है कि कुछ संगठन और व्यक्तियों ने, विशेष तौर पर उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, बिहार और त्रिपुरा में, कुछ बयान दिये हैं जिससे हिंसा उत्पन्न होने की आशंका है और इससे मतगणना प्रक्रिया में बाधा उत्पन्न हो सकती है.

बता दें कि लोकसभा चुनाव सात चरणों में हुए थे. चुनाव का पहला चरण 11 अप्रैल को शुरू होकर 19 मई तक चला था. वोटों की गिनती गुरुवार यानी 23 मई को होनी है, जिसके मद्देनजर गृह मंत्रालय ने राज्यों को अलर्ट जारी किया है ताकि किसी भी तरह की अप्रिय घटना से समय रहते निपटा जा सके या किसी भी इस तरह की घटना को रोका जा सके. क्योंकि चुनाव संपन्न होने के बाद मीडिया रिपोर्ट्स में कुछ जगहों पर ईवीएम बदलने जैसी खबरें आईं थी. हालांकि, चुनाव आयोग ने इस तरह की किसी भी घटना से इनकार किया है. उनके मुताबिक ईवीएम फुल प्रूफ है और स्ट्रांग रूम में कड़ी सुरक्षा में है.

EVM-VVPAT मामला: विपक्षी दलों की बैठक में दिखा कन्फ्यूज़न, शिकायत लेकर पहुंचे चुनाव आयोग

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...