गृह मंत्रालय का निर्देश- ऑक्सीजन ले जाने वाले वाहनों का मुक्त आवागमन सुनिश्चित करें राज्य

सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर

केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने कहा कि ऐसा संज्ञान में आया है कि कुछ राज्य अपने राज्य में स्थित उत्पादन इकाइयों से ऑक्सीजन आपूर्ति की अंतरराज्यीय आवाजाही को बाधित करने की कोशिश कर रहे हैं.

  • भाषा
  • Last Updated: September 18, 2020, 11:49 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्रीय गृह मंत्रालय (Union Ministry of Home Affairs) ने शुक्रवार को सभी राज्यों से कहा कि वे यह सुनिश्चित करें कि ऑक्सीजन (Oxygen) पहुंचाने वाले वाहनों को बगैर किसी रोकटोक के मुक्त रूप से आवागमन करने दिया जाए, क्योंकि कोविड-19 के मध्यम और गंभीर मरीजों को इसकी बहुत जरूरत होती है.

सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के मुख्य सचिवों को भेजे पत्र में केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने कहा कि ऐसा संज्ञान में आया है कि कुछ राज्य अपने राज्य में स्थित उत्पादन इकाइयों से ऑक्सीजन आपूर्ति की अंतरराज्यीय आवाजाही को बाधित करने की कोशिश कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि कुछ राज्य अपने क्षेत्र में स्थित उत्पादकों और आपूर्तिकर्ताओं को यह भी कह रहे हैं कि राज्य के अस्पतालों तक ही अपनी ऑक्सीजन की आपूर्ति सीमित करें.

भल्ला ने कहा कि चिकित्सा उपयोग में लाये जाने वाले ऑक्सीजन की पर्याप्त और निर्बाध आपूर्ति कोविड-19 के मध्यम और गंभीर मरीजों के उपचार के लिये बहुत महत्वपूर्ण है और कोविड-19 के उपचाराधीन मरीजों की बढ़ती संख्या के मद्देनजर ऑक्सीजन की खपत बढ़ने की भी उम्मीद है.



राज्यों को जारी किए निर्देश
पत्र के मुताबिक राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों से कहा गया है कि “राज्यों के बीच चिकित्सा उपयोग वाले ऑक्सीजन की आवाजाही पर ऐसी कोई पाबंदी नहीं होनी चाहिए और परिवहन अधिकारियों को भी इसी के अनुरूप ऑक्सीजन ले जाने वाले वाहनों की बिना रोक-टोक अंतरराज्यीय आवाजाही सुनिश्चित करने के लिये निर्देश दिया जाना चाहिए.” इसमें यह भी कहा गया कि उत्पादकों और आपूर्तिकर्ताओं पर भी ऑक्सीजन की आपूर्ति सिर्फ राज्य के अस्पतालों में ही करने को लेकर कोई पाबंदी नहीं लगाई जानी चाहिए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज