गृह मंत्रालय ने एसपीजी पर राहुल के बयान को बताया बेबुनियाद

गृह मंत्रालय ने एसपीजी पर राहुल के बयान को बताया बेबुनियाद
(फाइल फोटो- राहुल गांधी)

मंत्रालय ने कहा कि एसपीजी एक प्रोफेशनल संगठन है जिस पर प्रधानमंत्री, पूर्व पधानमंत्रियों और उनके परिवारों की सुरक्षा का जिम्मा है और वह बिल्कुल प्रोफेशनल तरीके से ऐसा करता है.

  • भाषा
  • Last Updated: September 24, 2018, 3:44 PM IST
  • Share this:
गृह मंत्रालय ने सोमवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के इस बयान को ‘बेबुनियाद’ और ‘तथ्यहीन’ बताया कि एक पूर्व एसपीजी प्रमुख को पद छोड़ना पड़ा क्योंकि उन्होंने आरएसएस द्वारा चुने गए अधिकारियों की सूची मानने से इनकार कर दिया था.

मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘‘मीडिया में आया राहुल गांधी का कथित बयान आधारहीन, तथ्यहीन और दुर्भाग्यपूर्ण है और एक ऐसे व्यक्ति ने यह बयान दिया है जिसे एसपीजी सुरक्षा प्राप्त है.’’ राहुल गांधी, उनकी मां और पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, बहन प्रियंका ऐसे लोगों में शामिल हैं जिन्हें विशेष सुरक्षा दल (एसपीजी) की सुरक्षा प्राप्त है.

ये भी पढ़ेंः चुनाव प्रचार: गुजरात में आज हार्दिक, मोदी और राहुल का हो सकता है आमना सामना



मंत्रालय ने कहा कि एसपीजी एक प्रोफेशनल संगठन है जिस पर प्रधानमंत्री, पूर्व पधानमंत्रियों और उनके परिवारों की सुरक्षा का जिम्मा है और वह बिल्कुल पेशेवर अंदाज में ऐसा करता है. राहुल गांधी ने यहां शनिवार को शिक्षाविदों के साथ बातचीत में आरोप लगाया था कि शिक्षण संस्थान, सुप्रीम कोर्ट, चुनाव आयोग और अन्य (सरकारी) संगठनों पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ द्वारा कब्जा किया किया जा रहा है.
एक उदाहरण पेश करते हुए कांग्रेस प्रमुख ने आरोप लगाया था, ‘‘जब श्री मोदी सत्ता में आए तब गुजरात के एक व्यक्ति को एसपीजी की अगुवाई के लिए चुना गया. लेकिन कुछ ही समय में उसने यह पद छोड़ दिया. उसने मुझे बताया कि उसने आरएसएस द्वारा चुने गए एसपीजी अधिकारियों की सूची मानने से इनकार कर दिया था और यही वजह है कि उसे गृह राज्य भेज दिया गया.’’
ये भी पढ़ेंः ‘लश्कर से ज्यादा खतरनाक हिंदू आतंकवाद’ के कथित बयान पर BJP ने राहुल से मांगा जवाब

गृहमंत्रालय ने कहा कि संबंधित अधिकारी पूर्व एसपीजी निदेशक विवेक श्रीवास्तव ने कहा है कि पेशेवेर ड्यूटी के तहत उन्होंने एसपीजी सुरक्षा प्राप्त व्यक्तियों से बातचीत की. लेकिन उन्होंने स्पष्ट तौर पर इससे इनकार किया कि राहुल गांधी से बातचीत के दौरान नये निदेशक की नियुक्ति के संबंध में या उनके एसपीजी छोड़ने के कारणों के बारे में कोई बातचीत हुई.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading