Home /News /nation /

बंगाल में बच्चों को समलैंगिंक संबंधों पर फिल्म दिखाने पर बवाल, सेंसर बोर्ड ओर यूनिसेफ से मांगा जवाब

बंगाल में बच्चों को समलैंगिंक संबंधों पर फिल्म दिखाने पर बवाल, सेंसर बोर्ड ओर यूनिसेफ से मांगा जवाब

रिपोर्ट के अनुसार युवा फिल्म मेकर्स ने समलैंगिंक संबंधों पर आधारित 8 शॉर्ट फिल्म बनाई हैं. (फाइल फोटो)

रिपोर्ट के अनुसार युवा फिल्म मेकर्स ने समलैंगिंक संबंधों पर आधारित 8 शॉर्ट फिल्म बनाई हैं. (फाइल फोटो)

Same Sex Movies screening in Bengal schools: मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार युवा फिल्मकारों द्वारा समलैंगिंक संबंधों पर बनाई गई 8 लघु फिल्मों को पश्चिम बंगाल के स्कूलों में दिखाए जाने की योजना. राष्ट्रीय बाल संरक्षण अधिकार आयोग ने पूछा- किस आधार पर इन फिल्मों को स्क्रीनिंग के लिए चुना गया. NCPCR ने राज्य से 10 दिन के अंदर जवाब देने को कहा.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली: पश्चिम बंगाल के स्कूलों में समलैंगिक संबंधों पर आधारित फिल्मों के प्रदर्शन के मुद्दे पर विवाद बढ़ गया है. इस मामले में राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (NCPCR) ने बुधवार को केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (CBFC) और यूनिसेफ से जवाब मांगा है. दरअसल पश्चिम बंगाल में CBFC और UNICEF की समलैंगिंक संबंधों से जुड़ी शॉर्ट फिल्मों को कई स्कूलों में दिखाने की योजना है. यह खबर सामने आने के बाद इस मुद्दे पर बवाल होने लगा है.

    मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, युवा फिल्म मेकर्स ने समलैंगिंक संबंधों पर आधारित 8 शॉर्ट फिल्म बनाई हैं, जिन्हें प्रयासम “बैड एंड ब्यूटीफूल वर्ल्ड फिल्म फेस्टिवल” के लिए चुना गया है. इन लघु फिल्मों को पश्चिम बंगाल में स्कूलों को दोबारा शुरू होने पर दिखाए जाने की योजना है.

    किस आधार पर मिली फिल्म प्रदर्शन की अनुमति?
    राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण ने कहा कि आयोग को समलैंगिंक संबंधों पर आधारित शॉर्ट फिल्मों की स्क्रीनिंग को लेकर शिकायत मिली है. इस बारे में NCPCR ने राज्य से 10 दिनों के अंदर जवाब मांगा है. राष्ट्रीय बाल संरक्षण अधिकार आयोग ने CBFC से पूछा है कि किस आधार पर इन फिल्मों को स्क्रीनिंग के लिए चुना गया है.

    यह भी पढ़ें- गर्भवती महिलाओं के भ्रूण पर अटैक करता है ZIKA VIRUS, कानपुर में अब तक 107 मामले, जानें डॉक्टर्स की राय

    यह भी पढ़ें- आजादी को लेकर कंगना के बयान पर बढ़ा विवाद, वरुण गांधी बोले- ‘इसे पागलपन कहूं या देशद्रोह’, दर्ज हुई शिकायत

    इसके अलावा, NCPCR ने CBFC और UNICEF को पत्र लिखकर पूछा है कि नाबालिग बच्चों को समलैंगिंक संबंधों पर आधारित फिल्म दिखाए जाने का फैसला किन बातों को ध्यान में रखकर लिया गया है. उक्त रिपोर्ट के आधार पर क्या चयनित फिल्मों को स्कूलों में दिखाये जाने के लिए राज्य से अनुमति ली गई है या नहीं. यदि अनुमति ली गई है तो किस कैटेगरी के तहत प्रमाणीकरण दिया गया है.

    Tags: Homosexual Relation, West bengal

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर