अपना शहर चुनें

States

BJP में शामिल होने से पहले श्रीधरन को उम्‍मीद, केरल में CM बनने का मिलेगा मौका

श्रीधरन आधिकारिक तौर पर बीजेपी में शामिल होने की घोषणा कर दी है.
श्रीधरन आधिकारिक तौर पर बीजेपी में शामिल होने की घोषणा कर दी है.

ई श्रीधरन (E Sreedharan) ने कहा कि यदि भाजपा (BJP) को इस साल अप्रैल-मई में होने वाले विधानसभा चुनाव में जीत मिलती है तो उनका ध्यान बड़े स्तर पर आधारभूत संरचना का विकास करना और राज्य को कर्ज के जाल से निकालना होगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 20, 2021, 1:17 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भाजपा में शामिल होने के फैसले के साथ राजनीति में कदम रखने जा रहे ई श्रीधरन (E Sreedharan) ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि बीजेपी उन्हें केरल (Kerala) विधानसभा चुनावों (Assembly Election) में मुख्यमंत्री उम्मीदवार के तौर पर पेश करेगी. उन्‍होंने कहा कि इससे पार्टी को केरल में नया चेहरा मिलेगा और राज्‍य में पार्टी को अपनी छवि बदलने का मौका मिलेगा.

इससे पहले गुरुवार को, 88 वर्षीय इंजीनियर ने कहा था कि उनका मुख्य लक्ष्य केरल में पार्टी को सत्ता में लाना है और पार्टी के जीतने पर वह मुख्यमंत्री पद संभालने के लिए भी तैयार हैं. उन्होंने कहा कि यदि भाजपा को इस साल अप्रैल-मई में होने वाले विधानसभा चुनाव में जीत मिलती है तो उनका ध्यान बड़े स्तर पर आधारभूत संरचना का विकास करना और राज्य को कर्ज के जाल से निकालना होगा.

'मेट्रो मैन' के नाम से मशहूर और आधारभूत ढांचे से जुड़ी बड़ी परियोजनाओं के निर्माण में अपनी कुशलता दिखा चुके श्रीधरन ने CNN-News18 से बात करते हुए कहा कि भाजपा ने केरल में अभी तक कोई सीएम चेहरा नहीं उतारा है. मुझे उम्मीद है कि भाजपा मेरे पास सीएम पद का प्रस्ताव लेकर आएगी, तभी भाजपा को एक नया चेहरा और नई छवि मिलेगी. मुझे लगता है कि मेरे भाजपा में शामिल होने से पार्टी के अंदर आत्मविश्वास बढ़ेगा और लोग ज्‍यादा से ज्‍यादा संख्‍या में भाजपा को मतदान करेंगे.
इसे भी पढ़ें :- 21 फरवरी को BJP जॉइन करेंगे ई श्रीधरन, मेट्रो मैन ने बताई राजनीति में आने की वजह



राज्‍यपाल पद संभालने में नहीं है कोई दिलचस्‍पी
श्रीधरन ने स्पष्ट कर दिया कि राज्यपाल पद संभालने में उनकी कोई दिलचस्पी नहीं है. उन्होंने कहा कि यह पूरी तरह संवैधानिक पद है और इसके पास कोई शक्ति नहीं है और वह ऐसे पद पर रहकर राज्य के लिए कोई सकारात्मक योगदान नहीं दे पाएंगे. उन्होंने कहा, 'मेरा मुख्य मकसद भाजपा को केरल में सत्ता में लाना है. अगर भाजपा केरल में चुनाव जीतती है तो तीन-चार ऐसे क्षेत्र होंगे जिस पर हम ध्यान केंद्रित करना चाहते हैं. इसमें बड़े स्तर पर आधारभूत संरचना का विकास और राज्य में उद्योगों को लाना शामिल है.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज