Home /News /nation /

पंजाब में कांग्रेस कैसे करेगी चुनाव प्रचार, नवजोत सिंह सिद्धू ने बताई पार्टी की रणनीति

पंजाब में कांग्रेस कैसे करेगी चुनाव प्रचार, नवजोत सिंह सिद्धू ने बताई पार्टी की रणनीति

पंजाब कांग्रेस प्रमुख नवजोत सिंह सिद्धू. (फाइल फोटो)

पंजाब कांग्रेस प्रमुख नवजोत सिंह सिद्धू. (फाइल फोटो)

Punjab Assembly Elections 2022: इस बार कांग्रेस, आम आदमी पार्टी (आप), शिअद-बहुजन समाज पार्टी (बसपा) गठबंधन, भाजपा-पीएलसी-शिअद (संयुक्त) राज्य में सरकार बनाने के लिए जी जान से चुनाव लड़ने वाली हैं. वहीं संभवतया संयुक्त समाज मोर्चा की शक्ल में किसानों का मोर्चा भी चुनाव में उतर सकता है. केंद्र के तीन कृषि कानूनों के विरोध में भाग लेने वाले उन्नीस किसान निकायों ने भी चुनाव लड़ने की घोषणा की है.

अधिक पढ़ें ...

चंडीगढ़. पंजाब विधानसभा चुनावों की तारीख का ऐलान होने के साथ ही कांग्रेस ने अपनी रणनीति को अमलीजामा पहनाना शुरू कर दिया है. प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि पार्टी चुनाव प्रचार को लेकर अपनी योजना बना रही है. इसके साथ ही विधानसभा चुनावों के लिए पार्टी उम्मीदवारों की लिस्ट पर उन्होंने स्पष्ट किया कि जल्द ही इस बारे में फैसला लिया जाएगा.

यह पूछे जाने पर कि कांग्रेस अपना चुनाव अभियान कैसे चलाएगी, पंजाब कांग्रेस प्रमुख नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा, “मुझे उम्मीद है कि 15 जनवरी के बाद चीजें बदल जाएंगी. तब तक, निर्देश स्पष्ट हैं कि आपको डिजिटल रूप से प्रचार करना होगा. अगर चीजें बदतर होती हैं तो हमें इस लिटमस टेस्ट को पास करना होगा.”

Agenda Uttar Pradesh: बोले राकेश टिकैत, न योगी के साथ हूं और न अखिलेश के साथ, चुनाव में कहूंगा अपनी बात

पंजाब विधानसभा के लिए पार्टी के उम्मीदवारों की सूची पर नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा, इसे बहुत जल्द अंतिम रूप दिया जाएगा. आज भी स्क्रीनिंग कमेटी की बैठक चल रही है. हम सोच-समझकर फैसला लेंगे. कांग्रेस हमेशा अंत में अपने उम्मीदवारों की घोषणा करती है.”

पंजाब विधानसभा चुनाव में पंच कोणीय मुकाबला रहने की उम्मीद
निर्वाचन आयोग ने 8 जनवरी को पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव की तारीखों की घोषणा कर दी है. पंजाब में परंपरागत कांग्रेस और शिरोमणि अकाली दल (शिअद) के बजाय इस बार मुकाबला पंच कोणीय होने के आसार हैं. पंजाब में विधानसभा चुनाव एक चरण में 14 फरवरी को होंगे, जबकि मतगणना 10 मार्च को होगी. पंजाब में कुल 117 विधानसभा सीटें हैं.

पंजाब चुनाव में संयुक्त समाज मोर्चा की शक्ल में किसान
इस बार कांग्रेस, आम आदमी पार्टी (आप), शिअद-बहुजन समाज पार्टी (बसपा) गठबंधन, भाजपा-पीएलसी-शिअद (संयुक्त) राज्य में सरकार बनाने के लिए जी जान से चुनाव लड़ने वाली हैं. वहीं संभवतया संयुक्त समाज मोर्चा की शक्ल में किसानों का मोर्चा भी चुनाव में उतर सकता है. केंद्र के तीन कृषि कानूनों के विरोध में भाग लेने वाले उन्नीस किसान निकायों ने भी चुनाव लड़ने की घोषणा की है. अभी यह स्पष्ट नहीं है कि क्या मोर्चा सभी सीटों पर उम्मीदवार खड़ा करेगा अथवा नहीं.

भाजपा से किनारा कर शिअद ने बसपा संग किया गठबंधन
पंजाब में राजनीतिक परिदृश्य में पिछले एक वर्ष से अधिक समय में कभी बड़े बदलाव हुए हैं. शिअद ने कृषि कानूनों के मुद्दों पर भाजपा से किनारा कर लिया और बसपा के साथ नया गठबंधन बनाया है. जून 2021 में बने इस गठबंधन में सहमति बनी कि शिअद 97 सीटों पर और बसपा 20 सीटों पर चुनाव लड़ेगी. अकाली दल के अलग होने के बाद, भाजपा जो 23 सीटों पर चुनाव लड़ती थी, ने पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह की पंजाब लोक कांग्रेस और सुखदेव सिंह ढींढसा के नेतृत्व वाली शिरोमणि अकाली दल (संयुक्त) के साथ गठबंधन किया.

(इनपुट भाषा से भी)

Tags: Assembly elections, Congress, Navjot singh sidhu, Punjab, Punjab elections

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर