• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • HOW DRDO ANTI CORONA DRUGS 2DG WILL WORK ON CORONA PATIENTS KNOW THE FACTS TO EVERY QUESTION

एक महीने में मरीजों को मिलने लगेगी एंटी कोरोना ड्रग्स 2-DG, जानें DRDO की दवाई की खूबियां

कोरोना पर कितनी असरदार होगी DRDO की एंटी कोरोना ड्रग्स 2 DG. (सांकेतिक फोटो)

कोरोना (Corona) के बढ़ते मामलों को देखते हुए कोरोना वैक्‍सीन (Corona vaccine) को सबसे बड़ा हथियार माना जा रहा है. यही कारण है कि DRDO की तरफ से विकसित एंटी कोरोना ड्रग्स 2 DG को DCGI यानी डायरेक्टर कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने हाल ही में कोरोना के इलाज के लिए अनुमति दे दी है.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. इस समय पूरा देश कोरोना (Corona) की दूसरी लहर (Second Wave) की चपेट में आ चुका है. हर दिन कोरोना संक्रमण (Corona Infection) के मामले बढ़ रहे हैं. कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए कोरोना वैक्‍सीन (Corona vaccine) को सबसे बड़ा हथियार माना जा रहा है. यही कारण है कि DRDO की तरफ से विकसित एंटी कोरोना ड्रग्स 2 DG को DCGI यानी डायरेक्टर कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने हाल ही में कोरोना के इलाज के लिए अनुमति दे दी है.

DRDO में 2 DG ड्रग्स के प्रोजेक्ट डायरेक्टर वैज्ञानिक डॉ. सुधीर चांदना से News18 इंडिया संवाददाता नीरज कुमार ने बातचीत की और बताया कि एंटी कोरोना ड्रग्स 2 DG कोरोना के खिलाफ कैसे काम करेगी.

इसे भी पढ़ें :- WHO की शीर्ष वैज्ञानिक सौम्या स्वामीनाथन ने बताई भारत में कोरोना विस्फोट की वजह

[q]ड्रग्स 2 DG यानि 2 डिआक्सी D ग्लूकोज़ को कैसे तैयार किया गया है?[/q]
[ans]अप्रैल 2020 में जब कोरोना की लहर शुरू हुई थी तभी हमने इस दवाई पर काम करना शुरू कर दिया था. हमने देखा कि 2 DG दवा के इस्तेमाल से वायरस की ग्रोथ सेल के अंदर पूरी तरह से रुक जाती है. इसके बाद हमने DCGI से इसके क्लिनिकल ट्रायल की मंजूरी मांगी. हमें मई 2020 से फेज़-2 ट्रायल की इजाजत मिली और अक्टूबर 2020 तक फेज-2 का ट्रॉयल किया गया, जिसके बहुत अच्छे नतीजे आए. इस दवा को स्टैंण्डर्ड केयर के साथ देने पर ये ज्यादा फ़ायदा पहुंचा रही है.[/ans]

[q]स्टैंडर्ड केयर से मतलब क्या है?[/q]
[ans]स्टैंडर्ड केयर से मतलब है कि जो दवा अस्पताल में अभी कोरोना मरीजों के लिए चलाई जा रही है. उसे स्टैंडर्ड केयर माना जाता है.[/ans]

[q]क्या ये दवा कम लक्षण वाले कोरोना मरीजों के लिए ठीक रहेगी या गंभीर रूप से बीमार कोरोना मरीजों को ही इसका इस्‍तेमाल करना चाहिए?[/q]
[ans]हमने जो ट्रायल किया है वो मध्‍यम से लेकर गंभीर मरीजों पर किया. हमारा ट्रायल अस्पताल में भर्ती मरीजों पर हुआ है और सबको बहुत फायदा हुआ है. अभी तक किसी में भी नुकसान की जानकारी नहीं मिली है. हमारी दवा बहुत सुरक्षित है. दूसरे चरण में हमने देखा कि मरीज का रिकवरी रेट भी बढ़ा और तीसरे फ़ेज़ में मरीज की आक्सीज़न पर निर्भरता में भी कमी आई.[/ans]

[q]कोरोना वायरस के प्रसार और आक्सीज़न पर निर्भरता को कैसे कम करता है 2 DG?[/q]
[ans]जो वायरस से संक्रमित सेल्स होते हैं वहां ये दवा ज्यादा मात्रा में पहुंचती है और वहां वायरस के ग्रोथ को रोकती है. चाहे शरीर के जिस हिस्से में वायरस हो, जैसे ग्लूकोज़ फैलता है वैसे ही ये वायरस भी फैलता है. वायरस को ग्रोथ के लिए जो ऊर्जा चाहिए होती है, उसको कम करता है, जिससे वायरस प्रसार नहीं कर पाता. इसके अलावा जो नया वायरस बनता है उसके प्रोटीन को भी ये दवा नष्ट कर देती है. फेफड़ों में भी कोरोना वायरस हमला करता है और 2DG वहां भी जाती है जिसका असर ये होता है कि आक्सीज़न पर मरीज की निर्भरता कम हो जाती है.[/ans]

इसे भी पढ़ें :- कोरोना से बिगड़े हालात, 24 घंटे में 4.03 लाख नए केस, लगातार दूसरे दिन 4 हजार से ज्यादा मौतें

[q]कितने दिनों के अंदर 2 DG दवा कोरोना मरीजों के बीच होग़ी और अस्पतालों तक पहुंच जाएगी?[/q]
[ans]हमारे इंडस्ट्री पार्टनर डॉ रेड्डी लैब के साथ हमारा काम चल रहा है. मैन्युफैक्चरिंग तेज़ करने की कोशिश है. कुछ दिनों में मरीज को इस्तेमाल के लिए ये दवा मिल जाएगी. हम अनुमान लगाएं तो एक महीने से भी कम समय में ये अस्‍पतालों तक पहुंच जाएगी.[/ans]

2 DG बनाने का कच्‍चा माल क्या भारत में मौजूद है या विदेशो से आयात करना पड़ेगा?
[ans]मेरी जानकारी के मुताबिक कच्‍चे माल की उपलब्धता में कोई दिक्कत नहीं है. प्रक्रिया में थोड़ा वक्त लगता है. हालांकि इसके बारे में सही जानकारी रेड्डी लैब से जानकारी मिलेगी.[/ans]

[q]कोरोना के प्रसार को रोकने और मरीजों की मौत को रोकने में कितनी मदद मिलेगी?[/q]
[ans]जितने मरीजों को हमने ये दवाई दी है, सबने रिकवर किया है. हम उम्मीद करते है जो भी मरीज लेंगे उन्हें फायदा होगा.[/ans]