लाइव टीवी

कई बार नियम तोड़ चुकी है गांधी फैमिली, इसलिए हटाई राहुल, प्रियंका और सोनिया की SPG सुरक्षा

News18Hindi
Updated: November 9, 2019, 7:37 AM IST
कई बार नियम तोड़ चुकी है गांधी फैमिली, इसलिए हटाई राहुल, प्रियंका और सोनिया की SPG सुरक्षा
सरकारी आंकड़ों के अनुसार कई मौकों पर गांधी परिवार ने एसपीजी नियमों का उल्‍लंघन किया.

पिछले सालों में कई मौके आए हैं, जब राहुल गांधी (Rahul Ganhdi), सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) और प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने अपनी सुरक्षा संबंधी नियमों को तोड़ा है. सरकार ने पहले भी चेतावनी दी थी कि अगर गांधी परिवार ने नियमों को तोड़ा या अपनी यात्रा के बारे में जानकारी नहीं दी तो उनकी सुरक्षा में से एसपीजी कवर हटा लिया जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 9, 2019, 7:37 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्र सरकार गांधी परिवार (Ganhdi Family) को मिलने वाली एसपीजी सुरक्षा (SPG) को वापस लेगी. गांधी परिवार को मिलने वाली जेड प्लस सुरक्षा मिलती रहेगी, लेकिन उनके सुरक्षा दायरे में एसपीजी कवर हटा लिया जाएगा. अब उनकी सुरक्षा का जिम्मा सीआरपीएफ (CRPF) के पास रहेगा. सरकार के अनुसार, पिछले सालों में ऐसे कई मौके आए हैं, जब राहुल गांधी (Rahul Ganhdi), सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) और प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने अपनी सुरक्षा संबंधी नियमों को तोड़ा है. सरकार ने पहले भी चेतावनी दी थी कि अगर गांधी परिवार ने नियमों को तोड़ा या अपनी यात्रा के बारे में जानकारी नहीं दी तो उनकी सुरक्षा में से एसपीजी कवर हटा लिया जाएगा.

सरकार के अनुसार, गांधी परिवार ने पिछले सालों में कई बार नियमों को तोड़ा और एसपीजी के साथ सहयोग नहीं किया. ऐसे में सरकार ने उनकी सुरक्षा से एसपीजी कवर हटा लिया गया. नियमों का उल्लंघन राहुल गांधी, प्रियंका गांधी वाड्रा और सोनिया गांधी की ओर से किया गया. इनमें बिना बुलेट प्रूफ गाड़ी के यात्रा करना, कई मौकों पर खुली गाड़ी में यात्रा करना शामिल है.

राहुल गांधी...1892 बार बुलेट प्रूफ गाड़ी के बिना यात्रा 
2005 से 2014 तक राहुल गांधी ने देश के अलग अलग हिस्सों में 18 बार बिना बुलेट प्रूफ गाड़ी के यात्रा की. 2015 के बाद तो बुलेट प्रूफ गाड़ी के बिना यात्रा करने के मामले में राहुल गांधी हजारों बार नियम को तोड़ा. 2015 से मई 2019 तक 1892 मौके ऐसे आए राहुल गांधी ने दिल्ली में बुलेट प्रूफ गाड़ी के बिना यात्रा की. इतना ही नहीं जून 2019 तक उन्होंने दिल्ली से बाहर 247 बार बिना बुलेट प्रूफ गाड़ी के यात्रा की.

खुली गाड़ी में भी कई बार की यात्रा
राहुल गांधी कई बार खुली जीप में यात्रा कर भी सुरक्षा नियमों के अलावा मोटर व्हीकल एक्ट का उल्लंघन कर चुके हैं. 2017 में गुजरात के बनासकांठा में भी अपनी यात्रा के दौरान राहुल गांधी ने बुलेट प्रूफ गाड़ी के बिना यात्रा की थी. जबकि एसपीजी की ओर से उन्हें ऐसा न करने के लिए कहा गया था. इसी दौरान यहां पर हुई पथराव की घटना में एक एसपीजी जवान घायल हुआ था. इस घटना को टाला जा सकता था यदि राहुल गांधी बुलेट प्रूफ गाड़ी का इस्तेमाल करते. बाद में इस घटना को कांग्रेस ने संसद में उठाया. इसके बाद गृहमंत्री ने लोकसभा में बताया कि राहुल गांधी ने कई मौकों पर एसपीजी के नियमों को अनदेखा किया.


Loading...

1991 से राहुल गांधी ने अपनी 156 विदेशी यात्राओं में से 143 पर उन्होंने एसपीजी सुरक्षा नहीं ली. इन 143 यात्राओं में ज्यादातर में उन्होंने यात्रा कार्यक्रम को ग्यारहवें घंटे में साझा किया, जिससे एसपीजी अधिकारियों को यात्रा पर जाने से रोका जा सके. इतना ही नहीं राहुल गांधी ने पिछले पांच वर्षों में अपने सार्वजनिक भाषणों में कई मौकों पर एसपीजी का नाम घसीटा, जो अवांछनीय है.

सोनिया गांधी: 24 विदेश यात्राओं में एसपीजी अफसरों को लेकर नहीं गईं
कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने 2015 से मई 2019 तक दिल्ली में यात्रा करते समय 50 से ज्यादा बार बुलेट प्रूफ गाड़ी का इस्तेमाल नहीं किया है. इतने समय में सोनिया गांधी ने देश में यात्रा करते समय 13 बार बुलेट प्रूफ गाड़ी को छोड़कर यात्रा की. 2015 से लेकर अब तक करीब 24 विदेश यात्राओं में सोनिया गांधी एसपीजी सुरक्षा अफसरों को लेकर नहीं गईं.

प्रियंका गांधी:  एसपीजी अफसरों पर लगा चुकी हैं आरोप 
एसपीजी के बनाए नियमों को तोड़ने में प्रियंका गांधी भी पीछे नहीं रहीं. 2015 से मई 2019 तक प्रियंका ने दिल्ली में 339 बार बुलेट प्रूफ गाड़ियों का इस्तेमाल नहीं किया. इतना ही नहीं देश के दूसरे हिस्सों में यात्रा के दौरान उन्होंने 64 बार इसी नियम का उल्लंघन किया. इन सभी यात्राओं में एसपीजी ने उन्हें बुलेट प्रूफ गाड़ियों का इस्तेमाल करने के लिए कहा, लेकिन उन्होंने नियमों को अनदेखा किया. प्रियंका गांधी को 1991 से एसपीजी कवर मिला हुआ है. तब से लेकर अब तक वह 99 विदेश यात्राओं पर जा चुकी हैं. इसमें से सिर्फ 21 यात्राओं पर वह एसपीजी अफसरों को लेकर गई हैं. 78 यात्राओं पर वह बिना एसपीजी सुरक्षा के गई हैं. इन विदेश यात्राओं के दौरान उन्होंने अपना यात्रा प्लान 11वें घंटे में जाकर शेयर किया. ऐसे में एसपीजी के लिए ये संभव नहीं था कि तुरंत उनके लिए आफिसर भेज सके.

मई 2014 से अब तक वह कई बार एसपीजी अफसरों पर आरोप लगा चुकी हैं कि वह उनकी निजी और गोपनीय जानकारियां अज्ञात लोगों के साथ शेयर कर रहे हैं. इसके अलावा प्रियंका गांधी एसपीजी अफसरों पर कानूनी कार्रवाई की धमकी भी दे चुकी हैं. एसपीजी ने समय-समय पर इस तरह के आरोपों पर स्पष्टीकरण देते हुए कहा है कि वह आधिकारिक चार्टर को सख्ती से लागू करने का काम करता है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 9, 2019, 7:37 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...