लाइव टीवी

दिल्ली विधानसभा चुनाव पर कितने सही हो सकते हैं Exit Polls? अब तक ऐसा रहा है इतिहास

News18Hindi
Updated: February 8, 2020, 11:17 PM IST
दिल्ली विधानसभा चुनाव पर कितने सही हो सकते हैं Exit Polls? अब तक ऐसा रहा है इतिहास
एग्जिट पोल के अनुसार, आम आदमी पार्टी एकतरफा जीत हासिल करती दिख रही है.

ज्यादातर Exit Polls के अनुसार दिल्ली में एक बार फिर से आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) की सरकार बनने की संभावना बनती दिख रही है. लेकिन ये एग्जिट पोल (Exit Poll) के नतीजे कितने भरोसेमंद हैं?

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 8, 2020, 11:17 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली विधानसभा चुनावों (Delhi assembly election) के लिए शनिवार को वोट डाले गए और उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला ईवीएम (EVM)में बंद हो गया. वोटिंग के बाद आए ज्यादातर Exit Polls के अनुसार दिल्ली में एक बार फिर से आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) की सरकार बनने की संभावना बनती दिख रही है. दिल्ली में आम आदमी पार्टी को 70 में से 50 सीटें मिलती दिख रही हैं. बीजेपी (BJP) ने दिल्ली में बहुत ही आक्रामक ढंग से चुनाव प्रचार किया, लेकिन इसके बावजूद उसे सिर्फ 14 सीटें मिलती दिख रही है. वहीं कांग्रेस बमुश्किल एक सीट मिल सकती है.

लेकिन ये एग्जिट पोल (Exit Poll) के नतीजे कितने भरोसेमंद हैं? दिल्ली बीजेपी चीफ मनोज तिवारी (Manoj Tewari) के अनुसार, एग्जिट पोल गलत साबित होंगे. बीजेपी (BJP) को 48 सीटें मिल सकती हैं. अगर एग्जिट पोल के पिछले रिकॉर्ड को देखा जाए तो दिल्ली में 2013 और 2015 दोनों में आम आदमी के प्रदर्शन को कम करके दिखाया गया था.



2013 में कुछ एग्जिट पोल किसी को भी बहुमत मिलते नहीं दिखा रहे थे. वहीं कुछ एग्जिट पोल में बीजेपी को बहुमत दिखाया जा रहा था. रिजल्ट के बाद किसी को भी पूर्ण बहुमत नहीं मिला. कोई भी पार्टी 35 के नंबर तक नहीं पहुंची. हालांकि बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी बनी थी. उस चुनाव में आम आदमी पार्टी को 28 सीटें मिली थीं.

2013 में ऐसा रहा था अनुमान
2013 में चार एग्जिट पोल, इंडिया टुडे-ओआरजी, टाइम्स नाउ-सी वोटर, एबीपी नील्सन और चाणक्य पोल आप के प्रदर्शन के बारे में करीब करीब सही साबित हुए थे. इन्होंने अनुमान लगाया था कि आप दिल्ली में 31 के आसपास सीटें जीत सकती है. 2013 में एग्जिट पोल में कांग्रेस को 15 से 24 सीटें भी मिलती दिखाई थीं, लेकिन उसे रिजल्ट के बाद 8 सीटें मिली थीं.

2015 में सभी एग्जिट पोल ने आप को बहुमत मिलते दिखाया था. लेकिन आम आदमी पार्टी को 67 सीटें मिलेंगी, ऐसी तस्वीर किसी भी एग्जिट पोल में प्रदर्शित नहीं की गई थी. सभी एग्जिट पोल ने आम आदमी पार्टी को 35 से 45 सीटें दी थीं. लेकिन उसे 67 सीटें मिलीं. वहीं ज्यादातर एग्जिट पोल में बीजेपी की सीटें दहाई के आंकड़े को पार करती हुई दिख रही थीं. इंडिया टीवी-सी वोटर ने बीजेपी को 33 सीटें तक मिलती दिखाई थीं. लेकिन जब परिणाम आए तो बीजेपी को सिर्फ 3 सीटों पर ही जीत मिली. वहीं कांग्रेस का खाता नहीं खुला.यह भी पढ़ें...
LoC पर पाकिस्‍तान की गोलीबारी में एक जवान शहीद, J&K से 5 आतंकी गिरफ्तार

चीन में फंसे केरल के 15 छात्र कोच्चि पहुंचे, किसी में संक्रमण के लक्षण नहीं

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 8, 2020, 11:13 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर