जीका वायरस से बचने के लिए क्‍या करें और क्‍या न करें

घर में कहीं भी मच्छर पैदा न होने दें. सफाई का खास खयाल रखें.

News18Hindi
Updated: November 11, 2018, 3:38 PM IST
जीका वायरस से बचने के लिए क्‍या करें और क्‍या न करें
सांकेतिक तस्वीर
News18Hindi
Updated: November 11, 2018, 3:38 PM IST
जीका वायरस के लिए कोई वैक्सीन नहीं है. यह बीमारी मच्छरों के जरिए फैलती है. मच्छरों से बचाव ही इसका बेहतर इलाज है. इससे बचने के लिए आप रूम में रुका हुआ पानी और कचरा न रखें. घरों के आस-पास पानी के कंटेनर न होंऔर सुनिश्चित करें कि दरवाजा और खिड़की स्क्रीन ठीक हो.

इसके साथ ही जहां भी पानी का स्टोरेज करते हों उसे टाइचट बंद करें ताकि वह खुला न रहे. जो ढक्कन बिना कंटेनर के हों उस पर तार की जाली लगा दें. वहीं जो पानी पीने योग्य न हो उसे स्टोर करने के लिए उपयोग में लाए जाने वाले पानी के बड़े कंटेनर में लार्वासाइड्स का इस्तेमाल करें.

यह भी पढ़ें:  जीका वायरस क्या है, कैसे फैलता है और कैसे बचें इससे...

अंधेरे आर्द्र क्षेत्रों में एक आउटडोर फ्लाइंग इन्सेक्ट स्प्रे का उपयोग करें जहां मच्छर रहते हैं, जैसे आंगन में मौजूद फर्नीचर, या कारपोर्ट या गैराज में. कीटनाशकों का उपयोग करते समय, हमेशा लेबल निर्देशों का पालन करें. यदि आपके पास सेप्टिक टैंक है, तो उसमें आई दरारें की मरम्मत कराएं. खुले वेंट या पाइप के लिए मच्छर की साइज से छोटे तारों की जाली का इस्तेमाल करें.

यह भी पढ़ें: गर्भवती महिलाएं जीका वायरस से रहें सावधान! ऐसे करें बचाव

घर को मच्छरों से मुक्त करने के लिए कपूर, लेमोन्ग्रास, सिन्ट्रोनेला समेत अन्य तेलों का इस्तेमाल करें. अपने घर को मच्छरों से मु्क्त करने के लिए मच्छरदानी, स्प्रे का इस्तमेला करेंगे. इसके साथ ही घर पर कपड़े खुले में न रखें. उन्हें अलमारी में कवर कर के रखें.

अगर आपको जीका के लक्षण नजर आते हैं तो यह तरीके अपनाएं
Loading...

  • खूब आराम करें.

  • डिहाइड्रेशन से बचने के लिए तरल पदार्थ पीयें.

  • बुखार और दर्द को कम करने के लिए दवा लें.

  • यदि आप किसी अन्य चिकित्साके लिए दवा ले रहे हैं, तो अतिरिक्त दवा लेने से पहले अपने डॉक्टर से बात करें.


यह भी पढ़ें:  क्या जीका वायरस से निपटने के लिए कोई वैक्सीन या दवा है?
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर