लॉकडाउन: मंदिरों में अब चरणामृत-प्रसाद बांटने पर हो सकती है रोक, ये राज्य बना रहे हैं नए नियम

लॉकडाउन: मंदिरों में अब चरणामृत-प्रसाद बांटने पर हो सकती है रोक, ये राज्य बना रहे हैं नए नियम
तिरुपति वेंकेटेश्वर मंदिर तिरुपति में स्थित एक प्रसिद्ध हिंदू एवं जैन मंदिर है.

लॉकडाउन (Lockdown) के पूरी तरह समाप्त होने के बाद कैसे होंगे मंदिरों में दर्शन इसके लिए राज्य सरकारें विचार कर रही है. पूरी तरह लॉकडाउन खुलने के बाद भी मंदिर में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जाएगा.

  • Share this:
नई दिल्ली. देश में कोरोना वायरस (Coronavirus) के प्रसार को रोकने के लिए जारी लॉकडाउन 3.0 (lockdown 3.0) रविवार को ख़त्म हो जाएगा. लेकिन बढ़ते संक्रमण के खतरे को देखते हुए लॉकडाउन का बढ़ना तय है. लॉकडाउन 4.0 को लेकर आज गृह मंत्रालय की ओर से गाइडलाइन जारी हो जाएगी. कोरोना के चलते 23 मार्च से ही मंदिरों में भी ताले लटके पढ़े हैं, पुजारी के अलावा किसी को भी अनुमति नहीं दी गई है. लॉकडाउन के पूरी तरह समाप्त होने के बाद कैसे होंगे मंदिर में दर्शन इसके लिए कई राज्यों ने अपनी गाइडलाइन तैयार कर ली है.

कैसी होंगी व्यवस्थाएं
संक्रमण को रोकने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग सबसे ज्यादा जरूरी है. इसलिए फिलहाल तो मंदिरों को बंद ही रखा जाएगा, लेकिन राज्य सरकारें और देशभर के मंदिर प्रशासन इस बात पर विचार कर रहे हैं कि लॉकडाउन पूरी तरह से खुलने के बाद की व्यवस्थाएं कैसी होनी चाहिए. लॉकडाउन खुलने के बाद भी मंदिर में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जाएगा. आंध्र प्रदेश और कर्नाटक ने नए नियम भी बना लिए हैं. अभी अंतिम फैसला होना बाकी है.

ये हो सकते हैं नए नियम
>> चरणामृत और प्रसाद बांटने पर रहेगी रोक


>> गर्भगृहों में जाने की नहीं होगी अनुमति
>> दर्शन के लिए आधार कार्ड लाना होगा जरूरी
>> दूर से ही होंगे भगवान के दर्शन
>> एक दिन पहले ही बुक कराना होगा स्लॉट
>> SMS से मिलेगी जानकारी
>> फूल-मालाएं और प्रसाद पर लग सकती है रोक

गुरुद्वारा में भी बदल सकते हैं नियम
गुरुद्वारा में लंगरों में होने वाली भीड़ को रोकने और सोशल डिस्टेंस बनाए रखने के लिए गुरुद्वारा समितियां भी इस पर विचार कर रही हैं.

ये भी पढ़ें : स्पेशल ट्रेन में ऑनलाइन टिकट बुक करने के बदल गए नियम, करना होगा ये काम
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading