होम /न्यूज /राष्ट्र /HSL क्रेन हादसे में मरने वालों के परिवार को मिलेगा 50-50 लाख रुपये का मुआवजा

HSL क्रेन हादसे में मरने वालों के परिवार को मिलेगा 50-50 लाख रुपये का मुआवजा

दुर्घटनाग्रस्त हुई क्रेन से लोगों को बचाये जाने के प्रयास अब भी जारी हैं (फाइल फोटो)

दुर्घटनाग्रस्त हुई क्रेन से लोगों को बचाये जाने के प्रयास अब भी जारी हैं (फाइल फोटो)

वरिष्ठ अधिकारी (senior officer) ने बताया कि हादसे (accident) के तुरंत बाद शनिवार को 10 शव (dead bodies) बरामद किए गए, ए ...अधिक पढ़ें

    विशाखापत्तनम (आंध्र प्रदेश). सार्वजनिक क्षेत्र (public sector) की कंपनी हिन्दुस्तान शिपयार्ड लिमिटेड (Hindustan Shipyard Ltd) ने उसके परिसर में हुए क्रेन हादसे में मरने वाले सभी लोगों के परिजन को 50-50 लाख रुपये का मुआवजा (compensation) देने की घोषणा रविवार को की. इस मामले की फिलहाल जांच चल रही है. पुलिस और अधिकारियों (police and officials) का कहना है कि शनिवार को हुए हादसे में मरने वालों की संख्या 11 बतायी गई, लेकिन यह वास्तव में 10 हो सकती है, क्योंकि अभी तक इतने ही शव (dead bodies) बरामद हुए हैं. उनका कहना है कि कितने लोग की मौत हुई है, इसका पता पूरा मलबा हटने के बाद ही चलेगा.

    एचएसएल (HSL) के अतिरिक्त महाप्रबंधक लेफ्टिनेंट कर्नल (Additional General Manager) (अवकाश प्राप्त) संदीप परीजा ने रविवार को पीटीआई-भाषा को बताया, ‘‘हमने मलबे से) एक कटा हुआ हाथ बरामद किया है, लेकिन वहां कोई शव (dead body) नहीं मिला है. मलबा हटाने का काम अभी भी चल रहा है.’’ वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि हादसे के तुरंत बाद शनिवार को 10 शव बरामद किए गए, एक का सिर्फ कुछ हिस्सा ही मिला है.

    हादसे के समय क्रेन के भीतर मौजूद सभी लोगों की हो गई मौत
    हादसे में मरे 10 लोग में से नौ विशाखापत्तनम जिले के थे जबकि एक तेलंगाना का था. हादसे के वक्त इस क्रेन के भीतर मौजूद सभी लोगों की मौत हो गई. दुर्घटना की वजह का अभी तक पता नहीं चला है.

    इससे पहले रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने विशाखापत्तनम के हिंदुस्तान शिपयार्ड में एक क्रेन के दुर्घटनाग्रस्त होने के मामले में लोगों की जान जाने पर क्षोभ व्यक्त करते हुए कहा कि इस हादसे के कारणों का पता लगाने के लिए विभागीय जांच समिति गठित की गई है.

    यह भी पढ़ें: कोरोना पीड़ित परिवार में हर किसी को वायरस का संक्रमण होना जरूरी नहीं- स्टडी

    सिंह ने ट्वीट किया, ‘‘विशाखापत्तनम के एचएसएल में दुर्घटना के कारण लोगों की मौत से काफी क्षुब्ध हूं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘मृतकों के परिवार से मेरी संवेदना है. घायल लोगों के जल्द ठीक होने की कामना करता हूं. दुर्घटना के कारणों का पता लगाने के लिए विभागीय जांच समिति गठित कर दी गई है.’’

    Tags: Andhra Pradesh, Coronavirus, COVID-19 pandemic, Rajnath Singh

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें