Home /News /nation /

HTLS 2021: क्या अर्थव्यवस्था के लिए खतरनाक है ओमिक्रॉन?, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कही ये बात

HTLS 2021: क्या अर्थव्यवस्था के लिए खतरनाक है ओमिक्रॉन?, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कही ये बात

वह किसी भी तरह से इस वेरिएंट को एक स्पष्ट खतरे के तौर पर नहीं देख रही हैं.(फाइल फोटो)

वह किसी भी तरह से इस वेरिएंट को एक स्पष्ट खतरे के तौर पर नहीं देख रही हैं.(फाइल फोटो)

Nirmala Sitharaman, GDP, GDP Growth, Indian Economy: कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन (Corona Virus Omicron Varian) को लेकर उन्होंने कहा कि इस वेरिएंट ने एक बार फिर से हमें सावधानी बरतने के लिए आगाह किया है. इस वायरस को लेकर फिलहाल जितने वैज्ञानिक प्रमाण सामने आ रहे है उससे यह प्रतीत होता है कि यह तेजी से फैलता है लेकिन हमें घबराने की जरूरत नहीं है. उन्होंने कहा कि हम जिस स्तर पर हैं वहां पर किसी प्रकार की ढिलाई नहीं बरत सकते.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली: केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने CNN-News18 की साझेदारी में शनिवार को आयोजित एचटी लीडरशिप समिट (HTLS 2021) में कहा कि कोरोना महामारी (Corona Pandemic) के बाद अब भारतीय अर्थव्यवस्था (Indian Economy) से अच्छे संकेत मिल रहे हैं और डेटा बताते हैं कि अर्थव्यवस्था एक बेहतर स्थिति में है. उन्होंने कहा कि इस साल की जीडीपी (GDP) संख्या भी उत्साहजनक होगी और हम जिस तेजी से कोविड संकट (Covid-19 Crisis) के बाद आगे बढ़ रहे हैं भारत अभी भी दुनिया में सबसे तेज गति से बढ़ती अर्थव्यवस्था वाला देश होगा.

    कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन (Corona Virus Omicron Varian) को लेकर उन्होंने कहा कि इस वेरिएंट ने एक बार फिर से हमें सावधानी बरतने के लिए आगाह किया है. इस वायरस को लेकर फिलहाल जितने वैज्ञानिक प्रमाण सामने आ रहे है उससे यह प्रतीत होता है कि यह तेजी से फैलता है लेकिन हमें घबराने की जरूरत नहीं है. उन्होंने कहा कि हम जिस स्तर पर हैं वहां पर किसी प्रकार की ढिलाई नहीं बरत सकते. वित्त मंत्री ने कहा कि संक्रमण से बचा जा सके इसलिए पीएम बार बार मास्क पहनने और कोविड प्रॉटोकॉल का प्रयोग करने के लिए कह रहे हैं.

    कोविड काल में नागरिकों ने दिखाई सहनशक्ति
    वित्त मंत्री ने कोविड-19 जैसी महामारी के दौर में लोगों की सहन शक्ती, एकजुकटता और निरंतर समायोजन के साथ आग बढ़ने की सोच के लिए प्रशंसा की. उन्होंने कहा कि महामरी की शुरुआत से ही भारत सरकार का छोटे उद्योंगों की तरफ ध्यान था और इसी के चलते आपातकालीन गारंटी क्रेडिट योजना और ई-श्रम पोर्टल की शुरुआत की गई.

    यह भी पढ़ें- Nirmala Sitharaman in HTLS: वित्त मंत्री बोलीं- हमारी इकोनॉमी सही दिशा में, GDP के आंकड़े उत्साहजनक

    उनसे जब यह पूछा गया कि क्या ओमिक्रॉन भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए खतरा है तो उन्होंने कहा कि फिलहाल अभी वह किसी भी तरह से इस वेरिएंट को एक स्पष्ट खतरे के तौर पर नहीं देख रही हैं. उन्होंने कहा कि कोविड-19 के खिलाफ भारत में तेजी से वैक्सीनेशन हो रहा है अब तक 1.25 बिलियन टीकाकरण हो चुका है और अभी भी तेज गति जारी है. उन्होंने कहा कि नया वेरिएंट अर्थव्यवस्था के लिए खतरा नहीं हो सकता लेकिन यह एक चनौती है और हमें सतर्क रहने की जरूरत है.

    कोविड-19 संकट के प्रभाव के बारे में बोलते हुए उन्होंने कहा कि भारत ने काफी हद तक महामारी की चुनौतियों को खत्म कर दिया है. हम लगातार विकास के मार्ग में आगे बढ़ रहे हैं. अर्थव्यवस्था के 40 क्षेत्रों से 22 में अच्छे संकेत मिल रहे हैं जबकि इन 22 में से 19 ऐसे क्षेत्र हैं जिन्होंने दोबारा महामारी के पहले वाली स्थिति को हासिल कर लिया है. इन क्षेत्रों में लगातार प्रदर्शन सुधर रहा है.

    केंद्र द्वारा मंगलवार को जारी आधिकारिक आंकड़ों से पता चलता है कि वित्त वर्ष 2021-22 की दूसरी तिमाही (जुलाई-सितंबर) में भारत की जीडीपी में 8.4 प्रतिशत की वृद्धि हुई, जबकि एक साल पहले यह 7.4 प्रतिशत थी. उन्होंने कहा कि सरकार विनिवेश की प्रक्रिया को तेज करने की कोशिश कर रही है. बजट के बारे में उन्होंने कहा कि आगमी बजट में बुनियादी ढांचे में ज्यादा खर्च पर जोर रहेगा.

    Tags: GDP growth, Nirmala sitharaman, Omicron variant

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर