AN-32 को लेकर कांग्रेस ने उठाया सवाल, पूछा- क्यों नहीं हुआ विमानों का आधुनिकीकरण

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, सरकार को बताना चाहिए कि भारत और यूक्रेन के 2009 के समझौते के बावजूद एएन-32 का आधुनिकीकरण क्यों पूरा नहीं किया गया.

News18Hindi
Updated: June 5, 2019, 8:06 PM IST
AN-32 को लेकर कांग्रेस ने उठाया सवाल, पूछा- क्यों नहीं हुआ विमानों का आधुनिकीकरण
एएन-32 की फाइल फोटो
News18Hindi
Updated: June 5, 2019, 8:06 PM IST
कांग्रेस ने असम के जोरहाट से उड़ान भरने के बाद अरुणाचल प्रदेश में लापता हुए एएन-32 विमान में सवार भारतीय वायु सेना के कर्मियों की सुरक्षा और कुशल क्षेम को लेकर बुधवार को चिंता जताई और सरकार से सवाल किया कि उसने पुराने एएन-32 बेड़े को बदलने के लिए संसाधनों को आवंटित क्यों नहीं किया.

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि रक्षा मंत्री को जवाब देना चाहिए कि जब भारतीय वायु सेना ने अंडमान और निकोबार द्वीप के रास्ते में एएन-32 विमान को खो दिया था तो इसके बाद कदम क्यों नहीं उठाए गए. इस विमान का पता नहीं चला था.

सुरजेवाला  ने एक के बाद एक तीन ट्वीट किए. उन्होंने कहा, “लापता विमान एएन-32 के क्रू सदस्यों और भारतीय वायु सेना के कर्मियों की सुरक्षा तथा कुशल क्षेम के लिए प्रार्थना. यह जानकार दुख हुआ कि एएन-32 के पास एसओएस सिग्नल यूनिट थी जो पुरानी हो गई है.”



सूरजेवाला ने आगे कहा, “सरकार को बताना चाहिए कि भारत और यूक्रेन के 2009 के समझौते के बावजूद एएन-32 का आधुनिकीकरण क्यों पूरा नहीं किया गया.”



खतरनाक मार्ग पर क्यों भेजा गया एएन-32
Loading...

उन्होंने कहा कि सरकार और रक्षा मंत्रालय को यह भी जवाब देना चाहिए कि आखिर इतने खतरनाक और अनिश्चितता भरे मार्ग पर एएन-32 जैसे विमान को क्यों भेजा गया, जबकि हमारे पास बेहतर विकल्प मौजूद थे. इसके अलावा सरकार ने एएन-32 विमानों के बेड़े को बदलने के लिए आज तक रक्षा बजट में कोई प्रावधान क्यों नहीं किया?

गौरतलब है कि अरुणाचल प्रदेश के मेनचुका में घने जंगल में एएन-32 के लापता होने के दो दिन बाद व्यापक तलाश अभियान चलाया गया है. तलाश अभियान में विमानों, हेलीकॉप्टरों और जवानों का बड़ा दल शामिल हैं और उपग्रह से तस्वीरें लेने का भी इस्तेमाल किया जा रहा है.

ये भी पढ़ें: लापता AN-32 विमान तलाश कर रहीं हैं इतनी टीमें, ख़राब मौसम बना विलेन

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
First published: June 5, 2019, 8:04 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...