लाइव टीवी

गांधी जयंती पर सैकड़ों कैदियों को किया जाएगा रिहा

भाषा
Updated: September 29, 2019, 3:51 PM IST
गांधी जयंती पर सैकड़ों कैदियों को किया जाएगा रिहा
2 अक्टूबर को करीब 600 कैदियों को रिहा किया जा सकता है

जिन्होंने गम्भीर अपराध नही किए हैं ऐसे करीब 600 कैदियों को महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi Jayanti) की 150वीं जयंती पर 2 अक्टूबर को रिहा किया जा सकता है.

  • भाषा
  • Last Updated: September 29, 2019, 3:51 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) की 150वीं जयंती (150th Birth Anniversary) पर हत्या, बलात्कार और भ्रष्टाचार के अपराधों को छोड़कर छिटपुट मामलों के सैकड़ों दोषियों को रिहा किया जाएगा. अधिकारियों ने रविवार को बताया कि 2 अक्टूबर को करीब 600 कैदियों को रिहा किया जा सकता है. राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेश की सरकारों के सहयोग से गृह मंत्रालय अंतिम सूची तैयार कर रहा है.

गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि महात्मा गांधी की 150वीं जयंती मनाने के लिए कैदियों को विशेष छूट देने की योजना के तहत अभी तक 1,424 कैदियों को राज्य एवं केन्द्र शासित प्रदेशों ने रिहा किया है. इन्हें 2 अक्टूबर 2018 और 6 अप्रैल 2019 को दो चरणों में रिहा किया गया.

अधिकारी ने बताया कि तीसरे चरण के तहत इस, साल दो अक्टूबर को कैदियों को रिहा किया जाएगा. पिछले साल सरकार द्वारा घोषित की गई अपराध-क्षमा योजना के तहत हत्या, बलात्कार या भ्रष्टाचार के मामलों में दोषी ठहराए गए कैदियों को रिहा नहीं किया जाएगा.

2 अक्टूबर को कई कार्यक्रमों का आयोजन भी किया जा रहा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को बताया कि महात्मा गांधी की जयंती के अवसर पर खेल मंत्रालय 'फिट इंडिया प्लागिंग रन' का आयोजन करने जा रहा है. फिट इंडिया प्लागिंग रन के तहत दो अक्टूबर को दो किलोमीटर प्लागिंग दौड़ का कार्यक्रम पूरे देशभर में होने वाला है.

दो अक्टूबर को एक बार उपयोग होने वाले प्लास्टिक से मुक्ति के लिए अभियान का भी आयोजन किया जा रहा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोगों से अपील की थी कि वे इस वर्ष महात्मा गांधी की 150वीं जयंती दिवस को भारत को प्लास्टिक मुक्त बनाने के दिवस के तौर पर मनाएं.

ये भी पढ़ें : महिलाओं के अधिकार सुरक्षित करने के लिए और प्रयासों की जरूरत: सोनिया

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 29, 2019, 3:51 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...