अपना शहर चुनें

States

14 दिन में 300 km चलकर किसान आंदोलन में शामिल होने टिकरी बॉर्डर पहुंचे पति-पत्नी

किसान संगठनों का दावा है कि पुलिस ने उन्हें ट्रैक्टर रैली निकालने की इजाजत दे दी है.
किसान संगठनों का दावा है कि पुलिस ने उन्हें ट्रैक्टर रैली निकालने की इजाजत दे दी है.

भारतीय किसान यूनियन (Bharatiya Kisan Union) के नेता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) ने दावा किया है कि गणतंत्र दिवस पर करीब तीन लाख ट्रैक्टर दिल्ली की सड़कों पर उतरेंगे. उन्होंने कहा कि यूपी गेट बॉर्डर पर किसानों का जत्था लगातार आ रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 24, 2021, 1:00 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्र सरकार की ओर से लाए गए तीन कृषि कानून (Agricultural Laws) के विरोध में दिल्ली बॉर्डर (Delhi border) पर बैठे किसान संगठन 26 जनवरी को ट्रैक्टर रैली (Tractor Rally) निकालने जा रहे हैं. अलग अलग राज्यों से किसानों के जत्थे ट्रैक्टर के साथ अभी से टिकरी बॉर्डर पहुंचने लगे हैं. इसी बीच एक दंपति 300 किलोमीटर पैदल चलकर किसान आंदोलन में शामिल होने के लिए टिकरी बॉर्डर पहुंचा है.

बताया जाता है कि पंजाब के बठिंडा जिले के फतेहाबाद के रहने वाले पति-पत्नी किसान आंदोलन में शामिल होने के लिए 300 किलोमीटर का सफर तय कर यहां पहुंचे हैं. टिकरी बॉर्डर पहुंचे लवप्रीत सिंह ने बताया कि वे 10 जनवरी को अपने घर से निकले थे. उन्होंने बताया कि हमें किसान आंदोलन में शामिल होना था. हमने ये भी नहीं सोचा कि हम यहां तक कैसे पहुंचेंगे. 14 दिन पैदल चलकर हम यहां पहुंचे हैं. हम अब किसानों की ट्रैक्टर रैली में भी शामिल होंगे.

बता दें कि भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने दावा किया है कि गणतंत्र दिवस पर करीब तीन लाख ट्रैक्टर दिल्ली की सड़कों पर उतरेंगे. उन्होंने कहा कि यूपी गेट बॉर्डर पर किसानों का जत्था लगातार आ रहा है. किसान नेता ने बताया कि आंदोलन के दौरान किसी भी तरह की गड़बड़ी से बचने के लिए अराजकतत्वों पर खास नजर रखी जा रही है.
इसे भी पढ़ें :- Kisan Andolan: किसान नेताओं का दावा- 26 जनवरी को दिल्ली की सड़क पर उतरेंगे 3 लाख ट्रैक्टर



अंदोलन में किसी भी गड़बड़ी से बचने के लिए 500 वॉलेंटियर को लगाया है, जो ट्रैक्टर रैली में आने वाले सभी किसानों की तलाशी लेंगे.​ किसान नेता का कहना है हम शांतिपूवर्क ट्रैक्टर मार्च निकालना चाहते हैं. किसी भी अराजक स्थिति के लिए पुलिस जिम्मेदार होगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज