Home /News /nation /

पांच लाख रुपये के लिए पति ने कराया पत्नी का बीमा, फिर कर दी हत्या

पांच लाख रुपये के लिए पति ने कराया पत्नी का बीमा, फिर कर दी हत्या

गिरफ्तार आरोपी

गिरफ्तार आरोपी

अब्दुल मुरादाबाद पैसेंजर ट्रेन से पत्नी को लेकर वापस दिल्ली लौट रहा था, जब ट्रेन गाजियाबाद के पास आउटर में रुकी और स्लीपर बोगी खाली हुई तो मौका देखकर उसने पत्नी का गला दबाकर हत्या कर दी. पत्नी की लाश को स्लीपर बर्थ पर सुलाकर अब्दुल विवेक विहार रेलवे स्टेशन पर उतर गया.

अधिक पढ़ें ...
    दिल्ली रेलवे पुलिस ने एक अब्दुल हकीम नाम के एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है जिसने बड़ी ही प्लानिंग से अपनी तीसरी पत्नी को मौत की नींद सुला दिया. रेलवे डीसीपी डी के गुप्ता के मुताबिक उत्तम नगर का रहने वाला और तह बाजारी करने वाला अब्दुल हकीम 6 जुलाई को अपनी पत्नी मैसर के घुटनों का इलाज कराने के लिए हापुड़ के पास सिंभावली लेकर गया. पत्नी का इलाज करवाया और दिल्ली आने के लिए ट्रेन में बैठा फिर उसी ट्रेन में पत्नी की गला दबाकर हत्या कर दी.

    अब्दुल मुरादाबाद पैसेंजर ट्रेन से पत्नी को लेकर वापस दिल्ली लौट रहा था, जब ट्रेन गाजियाबाद के पास आउटर में रुकी और स्लीपर बोगी खाली हुई तो मौका देखकर उसने पत्नी का गला दबाकर हत्या कर दी.  पत्नी की लाश को स्लीपर बर्थ पर सुलाकर अब्दुल विवेक विहार रेलवे स्टेशन पर उतर गया.

    आपको बतादें कि आरोपी इसलिए विवेक विहार स्टेशन पर उतरा क्योंकि उसे पहले से पता था कि इस रेलवे स्टेशन पर सीसीटीवी कैमरा नहीं लगे हैं. जिसके बाद आरोपी ने उत्तम नगर स्थित अपने घर जाकर मोबाइल फोन ऑन किया और रिश्तेदारों को पत्नी की गुमशुदगी की जानकारी देकर सो गया. सात जुलाई को अब्दुल ने उत्तम नगर पुलिस थाने में पत्नी की गुमशुदगी की रिपोर्ट भी दर्ज करवाई थी.

    कत्ल वाली रात जब ट्रेन ओल्ड दिल्ली रेलवे के यार्ड में आकर रुकी तब रेलवे स्टाफ ने ओल्ड दिल्ली रेलवे पुलिस को इसकी जानकारी दी. जिसके बाद रेलवे पुलिस लाश की शिनाख्त करने में जुट गई. वहीं, आरोपी पत्नी की बीमा पॉलिसी को कैश कराने की तैयारी करने लगा, तब उसे पता चला कि बिना लाश के वो पांच लाख रुपये का बीमा क्लेम नहीं कर सकेगा. जिसके बाद आरोपी पत्नी की फोटो लेकर 23 जुलाई को ओल्ड दिल्ली रेलवे स्टेशन पहुंचा, जिसे देखते ही रेलवे थाने की पुलिस ने यार्ड में मिली लाश की शिनाख्त कर ली. अब तक पुलिस पति को पीड़ित समझ रही थी. उसके बाद 25 जुलाई को पति की मौजूदगी में ही मैसर जान का पोस्टमार्टम करवाया गया. जिसमें खुलासा हुआ कि गला दबाकर उसकी हत्या कर दी गई थी.

    पुलिस को अब्दुल पर शक हुआ और पूछताछ शुरू कर दी गई. आरोपी ने पुलिस को गुमराह करने के लिए ये विनोद नाम शख्स पर पत्नी की हत्या का आरोप लगा दिया. लेकिन जब पुलिस ने सख्ती दिखाई तो आरोपी ने कबूल कर लिया कि पत्नी की हत्या उसने की थी.

    पुलिस के मुताबिक पहले ही दो पत्नियों को तलाक दे चुका 45 साल का आरोपी पति तीसरी पत्नी के साथ भी ख़ुश नहीं था और उसे भी तलाक देना चाहता था.आरोपी ने ही अपनी पत्नी की करीब 5 लाख रुपये की बीमा पॉलिसी लेकर उसकी किश्त भरी. बाद में पॉलिसी को भुनाने के लिए पत्नी का कत्ल कर दिया.

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर