अपना शहर चुनें

States

'पुलिस ने संतरों की बिक्री पर लगाई रोक'- फेक न्यूज़ फैलाने के आरोप में रिटायर्ड मेजर के खिलाफ केस दर्ज

सोशल मीडिया पर फेक न्यूज को किया पोस्ट
सोशल मीडिया पर फेक न्यूज को किया पोस्ट

खबर में यह कहा गया था कि धर्मनिरपेक्षता को बढ़ावा देने के लिए साइबराबाद पुलिस ने संतरे के प्रदर्शन, बिक्री और खपत पर रोक लगा दी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 28, 2020, 7:45 AM IST
  • Share this:
हैदराबाद. सोशल मीडिया (Socila Media) पर फर्जी खबर (Fake News) पोस्ट करने के आरोप में सेना के एक रिटायर्ड मेजर नीलम सिंह के खिलाफ साइबराबाद पुलिस (Cyberabad Police) ने मामला दर्ज किया है. साइबर अपराध पुलिस (Cyber Crime Police) ने देखा कि एक ट्विटर अकांउट से अंग्रेजी अखबार की पुरानी खबर में छेड़छाड़ कर फर्जी खबर बनाकर पोस्ट की गई है.

पुलिस के अनुसार फर्जी खबर में यह कहा गया था कि धर्मनिरपेक्षता को बढ़ावा देने के लिए साइबराबाद पुलिस ने संतरे के प्रदर्शन, बिक्री और खपत पर रोक लगा दी है, क्योंकि संतरे का केसरिया रंग एक समुदाय विशेष की भावनाओं को आहत करता है.

अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस में छपी खबर के अनुसार, आरोपी का theskindoctor13 के नाम से ट्विटर हैंडल है. जिसमें एक अंग्रेजी न्यूज पेपर में छेड़छाड़ कर, कहा गया था कि साइबराबाद पुलिस ने शहर में संतरों की बिक्री पर रोक लगा दी है. इसमें पुलिस अधिकारियों की एक तस्वीर भी है, जिसमें कमिश्नर वीसी सज्जन भी शामिल थे, जिन्होंने अपनी मेज पर संतरे के साथ एक मीडिया सम्मेलन को संबोधित कर रहे हैं.



इस ट्विटर यूजर ने साइबराबाद पुलिस के आधिकारिक हैंडल को टैग करते हुए पूछा है, "क्या यह सच है @cyberabadpolice? "
इसे 26 अप्रैल को सुबह 11.12 बजे पोस्ट किया गया था और इस पोस्ट को 17 हजार लाइक्स मिले हैं और हटाए जाने से पहले 5,572 बार रीट्वीट किया गया था. इसके 2,76,000 फॉलोअर्स हैं. साइबराबाद पुलिस ने इस मामले की जांच कर रही है, उन्होंने कहा कि दो ट्विटर हैंडल और दो इंस्टाग्राम हैंडल को ये एक ही उपयोगकर्ता संचालित करता है. साइबराबाद पुलिस की एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है कि पुलिस ने सोमवार को ट्वीट को देखा और कार्रवाई करने का फैसला किया.

कोरोना संक्रमण के इस कठिन समय में सरकार ने किसी भी तरह की फर्जी खबर फैलाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के आदेश दिए हैं.

ये भी पढ़ें: कोरोना वायरस: MHA ने कहा- प्रवासी मजदूरों के लौटने से ग्रामीण क्षेत्र को खतरा
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज