लाइव टीवी

गैंगरेप से पहले महिला डॉक्‍टर को आरोपियों ने पिलाई थी शराब, पेट्रोल-डीजल से जलाया

News18Hindi
Updated: December 2, 2019, 12:11 AM IST
गैंगरेप से पहले महिला डॉक्‍टर को आरोपियों ने पिलाई थी शराब, पेट्रोल-डीजल से जलाया
हैदराबाद गैंगरेप और मर्डर केस में पुलिस रिपोर्ट में चौंकाने वाली बातें सामने आईं.

हैदराबाद गैंगरेप और मर्डर केस (Hyderabad Gangrape And Murder) में पुलिस की रिमांड रिपोर्ट में कहा गया है कि चारों आरोपियों ने ही महिला डॉक्‍टर (Hyderabad Doctor Gangrape) के दोपहिया वाहन का एक टायर जानबूझकर पंचर किया था. इसके बाद गैंगरेप और मर्डर को अंजाम दिया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 2, 2019, 12:11 AM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. हैदराबाद (Hyderabad) के सरकारी अस्‍पताल में वेटनरी महिला डॉक्‍टर के गैंगरेप और मर्डर केस (Hyderabad Gangrape And Murder) में कुछ चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं. News18 के हाथ लगी पुलिस रिपोर्ट की कॉपी में कहा गया है कि गैंगरेप और मर्डर से पहले महिला डॉक्‍टर को आरोपियों ने जबरन शराब पिलाई थी. इसके बाद पीड़िता को पेट्रोल और डीजल, दोनों की मदद से जला दिया था.

पुलिस की रिमांड रिपोर्ट में कहा गया है कि ट्रक चालक और क्‍लीनर का काम करने वाले चारों आरोपियों मोहम्मद आरिफ, नवीन, चिंताकुंता केशावुलु और शिवा ने ही महिला डॉक्‍टर के दोपहिया वाहन का एक टायर जानबूझकर पंचर किया था. जिसे डॉक्‍टर ने टोल प्‍लाजा पर खड़ा किया था. इसके बाद वह टैक्‍सी से गई थीं.

रिपोर्ट के मुताबिक जब तीन घंटे बाद वह वापस लौटीं तो उन्‍होंने देखा था कि उनकी स्‍कूटी पंचर है. इस दौरान चारों आरोपियों ने उनसे मदद करने की बात कही थी. चार में से तीन आरोपियों ने उन्‍हें झाड़ियों में धकेल दिया था और उनका मोबाइल स्विच ऑफ कर दिया था.

चारों आरोपियों के बयान के आधार पर तैयार हुई इस रिपोर्ट में कहा गया है कि महिला डॉक्‍टर से रेप के पहले आरोपियों ने उन्‍हें जबरन शराब पिलाई थी. इस दौरान पीड़िता बेसुध हो गई थी और उसके ब्‍लीडिंग होने लगी थी. रेप के बाद आरोपियों ने उसकी हत्‍या की. उसके शव को एक कंबल में लपेटा और ट्रक पर रख दिया.

चारों आरोपी महिला डॉक्‍टर के शव को ट्रक से लेकर चटनपल्‍ली तक गए. इसके बाद वहां एक ब्रिज के नीचे पीड़िता के शव को पेट्रोल छिड़क कर आग के हवाले कर दिया. रिपोर्ट में इस बात का भी खुलासा है कि आरोपियों ने शव को पेट्रोल और डीजल डालकर आग लगाई थी.

रिपोर्ट में कहा गया है कि एक व्‍यक्ति ने पुलिस से इस बाबत संपर्क करके बताया था कि घटना के एक दिन पहले दो व्‍यक्ति उसके पास पेट्रोल खरीदने आए थे. लेकिन दोनों संदिग्‍ध लग रहे थे तो उसने पेट्रोल देने से मना कर दिया था. इसके बाद उन्‍होंने दूसरी जगह से पेट्रोल खरीदा था. चार में से एक आरोपी ने शव पर पेट्रोल छिड़का था, वहीं दूसरे आरोपी ने शव पर डीजल छिड़का था. उन्‍होंने डॉक्‍टर का सिम कार्ड भी जला दिया था.

घटना को लेकर लोगों में गुस्‍सा है.

Loading...

लोगों में नाराजगी
लोगों के हाथों में तख्तियां थी जिस पर लिखा था- नो मीडिया, नो पुलिस, नो आउटसाइडर्स, नो सिमपैथी, ओनली एक्शन, जस्टिस. यानी यहां के लोग नहीं चाहते हैं कि बाहरी लोग इनकी कॉलोनी में आए. ये लोग परिवारवालों के लिए सिर्फ और सिर्फ न्याय की मांग कर रहे हैं. यहां मीडिया की एंट्री पर भी रोक लगा दी गई है.

लोगों ने पूछा- सीएम क्यों हैं चुप?
लोग इस बात से नाराज़ हैं कि वहां के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने अभी तक इतनी बड़ी घटना पर क्यों नहीं कुछ कहा है. कॉलोनी की एक महिला ने कहा, 'पुलिस ने चार अपराधियों को पकड़ा है और उन्होंने अपना गुनाह भी कबूल कर लिया है. मंत्रियों को तुरंत न्याय दिलाना चाहिए.'

4 आरोपी गिरफ्तार
बता दें कि सरकारी अस्पताल में काम करने वाली वेटनरी डॉक्टर से गुरुवार रात शहर के बाहरी इलाके में चार लोगों ने बलात्कार करके उसकी हत्या कर दी थी. बाद में 25 वर्षीय इस महिला का झुलसा हुआ शव बरामद हुआ था. मामले के चार आरोपियों को शुक्रवार को गिरफ्तार कर लिया गया. मामले की जांच कर रही पुलिस ने रविवार को बताया कि वह चारों आरोपियों से आगे पूछताछ के लिए अदालत में याचिका दायर कर उनकी हिरासत की मांग करेगी.

यह भी पढ़ें: बिल्डिंग की छत पर चढ़ा छात्र, बोला- हैदराबाद गैंगरेप केस के दोषियों को फांसी दो, वरना सुसाइड कर लूंगा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 1, 2019, 11:41 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...