लाइव टीवी
Elec-widget

हैदराबाद गैंगरेप मर्डर: पीड़‍िता की मां बोलीं- सबके सामने जिंदा जलाए जाएं दोषी

News18Hindi
Updated: November 29, 2019, 10:07 PM IST
हैदराबाद गैंगरेप मर्डर: पीड़‍िता की मां बोलीं- सबके सामने जिंदा जलाए जाएं दोषी
हैदराबाद गैंगरेप पीड़‍िता की मां ने दोषियों को सबके सामने जिंदा जलाने की मांग की.

हैदराबाद (Hyderabad) में महिला डॉक्‍टर के साथ गैंगरेप (Hyderabad Gang Rape and Murder Case) के मामले में पुलिस ने चार लोगों को गिरफ्तार किया है. इस बीच, पीड़‍िता की मां ने कहा कि दोषियों को जिंदा जलाकर सजा देनी चाहिए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 29, 2019, 10:07 PM IST
  • Share this:
हैदराबाद. तेलंगाना पुलिस (Telangana POlice) ने हैदराबाद (Hyderabad) में एक महिला डॉक्‍टर के साथ गैंगरेप (Gangrape) के मामले में अब तक चार लोगों को गिरफ्तार किया है. इसमें दो गाड़ी के ड्राइवर और एक क्लीनर है. आरोपी की पहचान मोहम्मद पाशा, नवीन, केशावुलु और शिवा के तौर पर हुई है. इस बीच, पीड़‍िता की मां ने आरोपियों को सबके सामने जिंदा जलाकर सजा देने की मांग की है.

पीड़‍िता की मां ने कहा, 'मेरी बेटी मासूम थी. मैं चाहती हूं कि दोषियों को सबके सामने जिंदा जलाकर मारने की सजा दी जाए.' उन्‍होंने कहा कि घटना के बाद मेरी छोटी बेटी जब पुलिस के पास शिकायत लेकर गई तो उसे दूसरे थाने भेज दिया गया. पुलिस को पहले कार्रवाई करनी चाहिए थी, लेकिन उन्‍होंने यह कहकर पल्‍ला झाड़ दिया कि यह मामला उनके क्षेत्र में नहीं आता है.

पीड़‍िता के परिजनों ने कहा, 'अगर पुलिस ने तत्‍काल कार्रवाई की होती तो शायद पीड़‍िता की जान जाने से बच जाती. लेकिन, पुलिस उन्‍हें दौड़ाती रही.' पुलिस ने कहा है कि पहले आरोपियों ने पीड़िता को किडनैप किया और फिर गैंग रेप (Gang Rape) किया. बाद में उसे मौत के घाट उतार दिया. पुलिस ने यह भी कहा कि जल्‍द ही आरोपियों को मीडिया के सामने लाया जाएगा.


पीड़िता की बहन ने बताई आपबीती
22 वर्षीय पीड़‍िता वेटेनरी डॉक्‍टर थीं. वो बुधवार को कोल्लुरु स्थित पशु चिकित्सालय अपनी ड्यूटी पर निकली थीं. टोल प्‍याजा के पास उन्‍होंने अपनी स्कूटी पार्क की थी. चिकित्‍सालय से लौटते समय उन्‍होंने देखा कि उनकी स्‍कूटी पंक्‍चर है. इसके बाद उन्‍होंने अपनी बहन को फोन किया. इस मामले में न्यूज़ 18 ने पीड़िता की बहन से बातचीत की और उन्होंने सिलसिलेवार तरीके से पूरी घटना के बारे में जानकारी दी.

पीड़िता ने बहन से कहा- मुझे डर लग रहा है
Loading...

पीड़िता की बहन ने कहा, 'उसने मुझे कॉल किया और कहा कि तुम थोड़ी देर मुझसे बात करती रहो. उसने मुझे पूरी घटना के बारे में बताया फिर कहा कि उसे डर लग रहा है. मुझे लगा कि देर हो गई है इसलिए वो ऐसा कह रही है. मैंने उससे कहा कि तुम टोल बूथ पर जाकर खड़ी हो जाओ. फिर मैंने कहा कि मैं आपको 5 मिनट के बाद कॉल करती हूं. इसके बाद मैंने 15 मिनट के बाद उसे कॉल किया तब तक उसका मोबाइल स्विच ऑफ हो गया. जब वो घर से जा रही थी तब मैंने देखा था कि उसके मोबाइल में सिर्फ 10 परसेंट चार्जिंग बची थी. तो मुझे लगा कि उसका मोबाइल शायद बंद हो गया होगा. इसके 15 मिनट बाद मैंने फिर से कॉल किया, मोबाइल फिर भी बंद था.'

रात भर भटकते रहे परिवारवाले
डॉक्टर की बहन ने आगे कहा, 'मेरी मां ने कहा कि वो अभी तक घर नहीं लौटी है. फिर मैं उसे देखने के लिए टोल प्लाजा पर गईं. वो वहां नहीं मिली. मैंने पुलिस को कॉल किया. इसके बाद पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज देखी. टोल प्लाजा पर पहुंचते हुए उसे देखा गया. लेकिन बाद का फुटेज उसमें नहीं था. इस बीच पुलिस ने कहा कि ये उनके पुलिस स्टेशन का मामला नहीं है किसी और थाने के अंदर वो इलाका आता है. वहां पहुंचते-पहुंचते रात के साढ़े तीन बज गए थे. मैं घर लौट आई और मेरे पापा दो सिपाहियों के साथ मेरी बहन की तलाश करते रहे. साढ़े पांच बजे वो वापस आ गए.'

ये भी पढ़ें: हैदराबाद गैंगरेप-मर्डर: पुलिस ने बताया आरोपियों ने वारदात को कैसे दिया अंजाम

ये भी पढ़ें: कोटखाई गैंगरेप-मर्डर: फोरेंसिक एक्सपर्ट के बयान के बाद फिर घेरे में CBI जांच

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 29, 2019, 9:31 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...