लाइव टीवी

हैदराबाद गैंगरेप-मर्डर केस: अपर्णा सेन बोलीं- आरोपियों को फांसी देने से क्या कम हो जाएंगे बलात्कार के मामले

News18Hindi
Updated: December 3, 2019, 1:05 PM IST
हैदराबाद गैंगरेप-मर्डर केस: अपर्णा सेन बोलीं- आरोपियों को फांसी देने से क्या कम हो जाएंगे बलात्कार के मामले
मशहूर फिल्मकार अपर्णा सेन ने कहा ऐसा

मशहूर फिल्मकार अपर्णा सेन (Aparna Sen) ने कहा, यह एक बेहद घिनौना अपराध लेकिन क्या बलात्कारियों को फांसी देने से इस तरह के अपराधों में कमी आएगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 3, 2019, 1:05 PM IST
  • Share this:
कोलकाता. हैदराबाद (Hyderabad) में वेटनरी डॉक्टर से गैंगरेप और मर्डर के मामले से जहां देश में हर ओर आक्रोश है और आरोपियों को फांसी देने की मांग उठ रही है, वहीं मशहूर फिल्मकार अपर्णा सेन (Aparna Sen) ने पूछा है कि क्या ऐसा करने से इस तरह के अपराधों में कमी आएगी.

राज्यसभा के कई सांसदों ने मामले के चार आरोपियों को मौत की सजा, लिंचिंग और बधिया करने की मांग की थी, जिसके बाद सेन ने यह बयान दिया. उन्होंने सोमवार को ट्वीट किया, 'हैदराबाद में हुए बलात्कार एवं हत्या के मामले के आरोपियों को संभवत: फांसी की सजा मिलेगी. सारा देश उनके खून का प्यासा है.'

सेन ने कहा, 'यह बेहद घिनौना अपराध है. लेकिन इसके बाद क्या? क्या बलात्कार की और कोई वारदात नहीं होगी? क्या बलात्कार के मामलों में कमी आएगी?'


Loading...

फेसबुक और ट्विटर पर तमाम लोगों ने इस मामले के आरोपियों को सार्वजनिक रूप से फांसी देने, बधिया करने और निजी अंग काटने की मांग की है. महिलाओं के एक धड़े ने बलात्कारियों को जल्द से जल्द सजा न दिए जाने पर चुनाव का बहिष्कार करने की मांग की है.

गौरतलब है कि हैदराबाद के एक सरकारी अस्पताल में बतौर असिस्टेंट वेटनरी डॉक्टर काम करने वाली एक युवती का जला हुआ शव शहर के शादनगर इलाके में 28 नवंबर को एक पुल के नीचे मिला था. एक दिन पहले वह लापता हो गई थी.

इस मामले में चार लोगों को 29 नवंबर को गिरफ्तार किया गया था. शनिवार को इन सभी आरोपियों को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया. सभी आरोपियों की आयु 20 से 24 साल के बीच है. (भाषा इनपुट के साथ)

ये भी पढ़ें : हैदराबाद गैंगरेप: डॉक्टर ने आखिरी फोन में कही थी ये बात, यादकर रो पड़ी बहन 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 3, 2019, 12:29 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...