लाइव टीवी

हैदराबाद एनकाउंटर: गैंगरेप आरोपी की पत्‍नी ने शव दफनाने से किया इनकार, रखी ये मांग

भाषा
Updated: December 8, 2019, 7:19 AM IST
हैदराबाद एनकाउंटर: गैंगरेप आरोपी की पत्‍नी ने शव दफनाने से किया इनकार, रखी ये मांग
हैदराबाद एनकाउंटर के बाद आरोपी की पत्‍नी ने रखी मांग.

हैदराबाद में महिला डॉक्‍टर के साथ गैंगरेप और हत्‍या (Hyderabad Gangrape Murder) के चार आरोपियों को पुलिस ने मुठभेड़ में मार गिराया था. पुलिस का दावा है कि चारों ने फरार होने के मकसद से पुलिस के हथियार छीनकर उनपर फायरिंग की थी. जवाबी कार्रवाई में वे मारे गए.

  • Share this:
हैदराबाद. हैदराबाद की महिला डॉक्‍टर से गैंगरेप और हत्या (Hyderabad Gang Rape-Murder) के मामले में पुलिस एनकाउंटर (Hyderabad Encounter) में मारे गए चार आरोपियों में से एक की पत्नी ने शनिवार को अपने पति की मौत पर दुख और नाराजगी जाहिर की है. हालांकि शहर में पुलिस कार्रवाई को लेकर अब भी लोग अपनी खुशी जाहिर कर रहे हैं. आरोपी चेन्नकेशावुलू की पत्नी ने कहा, 'गलती करने पर कितने लोग जेल में हैं... उन्हें भी उसी तरह गोली मार दी जानी चाहिए जैसे इन्हें (महिला पशुचिकित्सक मामले के आरोपी) मारी गई... हम तब तक शवों को नहीं दफनाएंगे... हम शवों को तब दफनाएंगे जब उन्हें भी गोली मारी जाएगी.'

धरने पर बैठी आरोपी की पत्‍नी
आरोपी की पत्‍नी गर्भवती है और उसने आरोप लगाया कि उसके साथ अन्याय हुआ है. वह नारायणपेट जिले में अपने गांव में कुछ अन्य ग्रामीणों के साथ धरने पर बैठ गयी. उसने शुक्रवार को कहा कि पुलिस को उसे भी मार देना चाहिए क्योंकि वह अब अकेली है. उसने शुक्रवार को कहा था, 'मुझे बताया गया था कि मेरे पति को कुछ नहीं होगा और वह जल्द ही वापस लौट आएगा. अब मुझे नहीं पता कि क्या करूं. कृपया मुझे भी उस जगह ले चलों जहां मेरे पति को मारा गया और मुझे भी मार दो.'

शराबी थे चारों आरोपी

स्थानीय लोगों ने बताया कि चारों आरोपी आर्थिक रूप से कमजोर परिवार से आते थे जहां साक्षरता कम थी लेकिन कमाई अच्छी और वे विलासितापूर्ण जीवनशैली के साथ रहते थे. शराब और अन्य चीजों पर खर्चा करते थे. इस बीच कथित पुलिस मुठभेड़ में चारों आरोपियों के मारे जाने को लेकर यहां लोगों में खुशी का माहौल बरकरार है. महिलाओं के एक समूह ने यहां मुठभेड़ में आरोपियों के मारे जाने पर खुशी जताई तथा पुलिस और मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव की प्रशंसा में नारेबाजी की.

'ऐसी ही सजा के हकदार थे, जैसी पुलिस ने कार्रवाई की'
पीड़िता के पिता ने शनिवार को कहा कि जिन आरोपियों ने उनकी बेटी के साथ राक्षसों से भी बदतर सलूक किया वे ऐसी ही सजा के हकदार थे जैसी पुलिस ने कार्रवाई की. उन्होंने एक बार फिर पुलिस और मुख्यमंत्री को पुलिस की कार्रवाई के लिये शुक्रिया कहा. इस बीच कांग्रेस विधायक दल के नेता एम भट्टी विक्रमार्क के नेतृत्व में पार्टी नेताओं के एक प्रतिनिधिमंडल ने यहां राज्यपाल तमिलसाई सुंदराराजन से शनिवार को यहां मुलाकात की और इस बात के लिए पुलिस की शिकायत की कि उसने अधिकार क्षेत्र का हवाला देकर पीड़िता के परिवार की शिकायत दर्ज नहीं की थी.

विक्रमार्क ने संवाददाताओं से कहा कि प्रदेश में हालात ऐसे हैं कि पुलिस तब तक शिकायत दर्ज नहीं करती जब तक वे (सत्ताधारी) टीआरएस या उसके पदाधिकारियों से जुड़े न हों या उनकी तरफ से फोन करके उन्हें ऐसा करने के लिये कहा जाए. इसकी वजह से तेलंगाना का बड़ा नुकसान हो रहा है. हम यह उनके (राज्यपाल के) संज्ञान में लाए.

यह भी पढ़ें: हैदराबाद एनकाउंटर के बाद CJI का बड़ा बयान, 'बदले की भावना से किया गया न्‍याय, इंसाफ नहीं'

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 7, 2019, 6:15 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर