होम /न्यूज /राष्ट्र /हैदराबादः बुर्का पहने दो महिलाओं ने दुर्गा पूजा स्‍थल पर की तोड़फोड़, ग‍िरफ्तार

हैदराबादः बुर्का पहने दो महिलाओं ने दुर्गा पूजा स्‍थल पर की तोड़फोड़, ग‍िरफ्तार

पुलिस दोनों आरोपियों का मेडिकल पूरा होने के बाद उन्हें कोर्ट में पेश करेगी. सांकेतिक फोटो

पुलिस दोनों आरोपियों का मेडिकल पूरा होने के बाद उन्हें कोर्ट में पेश करेगी. सांकेतिक फोटो

Hyderabad News: डीसीपी के मुताब‍िक पूछताछ के दौरान दोनों मह‍िलाओं का अजीब व्यवहार सामने आया. वह अजीबोगरीब तरह से जवाब द ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

हाइलाइट्स

देवी दुर्गा की एक मूर्त‍ि को कथ‍ित रूप से तोड़ने वाली दोनों मह‍िलाए मानस‍िक तौर पर बीमार
एक चर्च के स्‍टेच्‍यू को भी नुकसान पहुंचाने का लगा है आरोप
दोनों मह‍िलाओं का अस्‍पताल में चल रहा सिजोफ्रेनिया बीमारी का इलाज

हैदराबाद. देश भर में शारदीय नवरात्र‍ि और दुर्गा पूजा महोत्‍सव के चलते अलग-अलग आयोजन क‍िए जा रहे हैं. ऐसे में शांत‍ि और सौहार्द की स्‍थ‍िति बनी रही, इसको लेकर भी सुरक्षा एजेंस‍ियां और लोकल पुल‍िस पूरी तरह से अलर्ट है. इस बीच पूजा महोत्‍सव में बवाल खड़ा करने वाली एक घटना हैदराबाद में सामने आई है, जहां बुर्का पहनी दो मह‍िलाओं ने दुर्गा पूजा पंडाल में घुसकर मूर्त‍ियों को तोड़ने का प्रयास क‍िया. इस मामले में हैदराबाद की सेंट्रल जोन पुल‍िस ने दोनों मह‍िलाओं को ग‍िरफ्तार कर ल‍िया है. घटना मंगलवार की बताई जा रही है. TOI में प्रकाश‍ित र‍िपोर्ट के मुताब‍िक हैदराबाद पुल‍िस के सेंट्रल जोन डीसीपी सी. राजेश चंद्र ने बताया, ‘सैफाबाद पुलिस को कुछ लोगों की ओर से कॉल की गई क‍ि बुर्का पहने दो मह‍िलाएं च‍िंतल बस्‍ती, खैरताबाद के नवरात्र‍ि महोत्‍सव के पंडाल में घुस गई हैं और मूर्त‍ि तोड़ने का प्रयास कर रही हैं. इसकी सूचना म‍िलते ही मौके पर पुल‍िस पहुंच गई और पंडाल में देवी दुर्गा की एक मूर्त‍ि को कथ‍ित रूप से तोड़ने वाली दोनों मह‍िलाओं को ग‍िरफ्तार कर ल‍िया गया.’

पुल‍िस के मुताबि‍क एक मह‍िला ने पंडाल में घुसकर देवी दुर्गा की मूर्त‍ि को लोहे की रॉड से तोड़ने का प्रयास क‍िया तो दूसरी मह‍िला गार्ड के रूप में बाहर खड़ी रही. डीसीपी के मुताब‍िक उन्होंने देवी की मूर्ति के एक हिस्से को कथित तौर पर नुकसान पहुंचाया है. इस पर स्थानीय युवक ने उनको रोकने की कोशिश भी की तो उनमें से एक महिला ने उन पर भी हमला करने की कोशिश की. लेक‍िन स्थानीय लोगों ने दोनों को पकड़ लिया और पुलिस के हवाले कर द‍िया. दोनों आरोपियों को हिरासत में ले लिया गया है.’ बताते चलें क‍ि इससे पहले भी दोनों महिलाओं ने फर्स्‍ट लांसर स्‍थ‍ित एक चर्च के स्टेच्‍यू को तोड़ा है.

डीसीपी के मुताब‍िक पूछताछ के दौरान दोनों मह‍िलाओं का अजीब व्यवहार सामने आया. वह अजीबोगरीब तरह से जवाब दे रहीं थीं. इससे लग रहा था क‍ि वह मानसिक तौर पर अस्थिर थीं. पुल‍िस ने उनको मेडिकल जांच के लिए भेज दिया है. पूछताछ के दौरान पुलिस को पता चला कि चिंतलबस्ती क्षेत्र की दो महिलाएं इलाके में उपद्रव कर रही थीं और पड़ोसी भी नियमित रूप से उनके अजीब व्यवहार की शिकायत कर रहे थे. इस मामले पर उनके भाई असीमुद्दीन, जोक‍ि एक कॉर्पोरेट कंपनी में काम करते हैं, उनका कहना है क‍ि ‘वह परिवार से दूर रह रहे हैं. उनकी बहनें मानसिक रूप से परेशान हैं.’

सैफाबाद पुलिस ने दोनों महिलाओं के खिलाफ आईपीसी की अलग-अलग धाराओं 153-ए (दो समूहों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देना), 295 (पूजा स्थलों को अपवित्र करना), 295 ए (किसी धर्म का अपमान करने के इरादे से किया गया कार्य), 451 और 505 के तहत मामला दर्ज किया गया है. आरोपियों के भाई का यह भी कहना है क‍ि ‘उनकी मां, बहनें और भाई मानस‍िक तौर पर परेशान हैं. वह स‍िजोफ्रेनिया (schizophrenia) से पीड़‍ित हैं. उन्‍होंने माफी मांगी और आश्‍वस्‍त क‍िया क‍ि आगे वो कभी ऐसा नहीं करेंगे. साथ ही बताया क‍ि उनका अस्‍पताल में इलाज चल रहा है. आगे वह उन सभी का ख्याल रखेंगे.’

हालांकि पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है, ताकि यह पता लगाया जा सके कि क्या दोनों महिलाओं ने पहले भी इस तरह की हरकत की थी, पुल‍िस मेडिकल जांच के बाद दोनों आरोपियों को उच‍ित कार्रवाई के ल‍िए कोर्ट में पेश करेगी.

Tags: Durga Puja festival, Hyderabad News, Statue vandalism

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें