लाइव टीवी

हैदराबाद गैंगरेप-मर्डर केस: आरोपी की मां बोलीं- मेरे बेटे को भी ज़िंदा जला दो

News18Hindi
Updated: December 1, 2019, 9:13 AM IST
हैदराबाद गैंगरेप-मर्डर केस: आरोपी की मां बोलीं- मेरे बेटे को भी ज़िंदा जला दो
हैदराबाद में शनिवार को बड़ी संख्या में लोगों ने उस थाने के बाहर प्रदर्शन किया जहां बलात्कार और हत्या के आरोपियों को रखा गया है

हैदराबाद में महिला वेटनरी डॉक्टर (Veterinary Doctor) से गैंगरेप और हत्या के आरोपी चेन्नाकेशावुलु की मां ने बताया कि हमनें पांच महीने पहले उसकी पसंद की लड़की से उसकी शादी कराई थी. उन्होंने कहा, 'अगर उसने यह जुर्म किया है तो उसे भी फांसी की सजा दे दो या आग लगा दो.'

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 1, 2019, 9:13 AM IST
  • Share this:
हैदराबाद. तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में महिला वेटनरी डॉक्टर (Veterinary Doctor) से गैंगरेप के बाद हत्या और फिर लाश को जला देने की घटना ने देश को हिला कर रख दिया है. हर तरफ लोग आरोपियों को तुरंत सरेआम सज़ा देने की मांग कर रहे हैं. इस बीच चारों आरोपी के परिवारवालों ने कहा है कि अगर उसने ऐसा घिनौना अपराध किया है तो फिर उन्हें तुरंत फांसी की सज़ा दे देनी चाहिए या उसे ज़िंदा जला दिया जाए.

'ज़िंदा जला दो'
घटना के एक आरोपी सी चेन्नाकेशावुलु की मां श्यामला ने अंग्रेजी अखबार द टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत में कहा, 'उसे भी फांसी की सजा दे दो या आग लगा दो जैसा कि उसने महिला डॉक्टर के साथ रेप के बाद किया.' आरोपी की मां ने ये भी कहा कि वो उस परिवार के दर्द को समझ सकती है. उन्होंने कहा, 'मुझे भी एक बेटी है और मैं उस परिवार के दर्द को समझ सकती हूं कि उस परिवार के साथ इस वक्त क्या गुज़र रही होगी. अगर मैं अपने बेटे का बचाव करूंगी तो जीवन भर लोग मुझसे घृणा करेंगे.'

5 महीने पहले हुई थी शादी

 श्यामला ने बताया कि गुरुवार सुबह जब पुलिसवाले उनके बेटे को पूछताछ के लिए ले गए तो उनके पति परेशान होकर घर से बाहर चले गए थे. आरोपी की मां ने ये भी बताया कि चेन्नाकेशावुलु की शादी 5 महीने पहले ही हुई थी. उन्होंने कहा, 'उसकी पसंद की लड़की से हमने शादी कराई. मेरे बेटे को किडनी की बीमारी है. लिहाजा हमने कभी भी उस पर दबाव नहीं डाला. हर छह महीने के बाद हमलोग उसको हॉस्पिटल ले कर जाते थे.'

14 दिनों की रिमांड
इस बीच कोर्ट ने चारों आरोपियों को 14 दिन की न्‍यायिक हिरासत में भेज दिया है. गुस्‍साए लोगों के विरोध प्रदर्शन के कारण पुलिस आरोपियों को कोर्ट नहीं ले जा पा रही थी. इस कारण आरोपियों की पुलिस स्‍टेशन से ही वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मजिस्‍ट्रेट के सामने पेशी कराई गई.
Loading...


ये भी पढ़ें:

संसद के पास प्रदर्शन कर रही युवती से दिल्ली पुलिस का व्यवहार शर्मनाक: आप

बिपिन रावत ने जवानों से कहा- दुश्‍मन पर पैनी नजर रखो और मुंहतोड़ जवाब दो

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 1, 2019, 8:21 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...