अपना शहर चुनें

States

लीजन ऑफ मेरिट पुरस्कार मिलने पर बोले प्रधानमंत्री मोदी- बहुत सम्मानित महसूस कर रहा हूं

प्रधानमंत्री मोदी को अपने नेतृत्व में भारत और अमेरिका की रणनीतिक साझेदारी मजबूत करने और भारत को एक वैश्विक ताकत के रूप में आगे बढ़ाने के लिए यह पुरस्कार दिया गया.  (फाइल फोटो)
प्रधानमंत्री मोदी को अपने नेतृत्व में भारत और अमेरिका की रणनीतिक साझेदारी मजबूत करने और भारत को एक वैश्विक ताकत के रूप में आगे बढ़ाने के लिए यह पुरस्कार दिया गया. (फाइल फोटो)

Legion of Merit Award: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ‘चीफ कमांडर ऑफ द लीजन ऑफ मेरिट’ पुरस्कार दिया गया, जो केवल सरकार या राष्ट्र प्रमुख को दिया जाता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 22, 2020, 9:07 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (American President Donald Trump) की ओर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) को देश के सर्वोच्च सैन्य सम्मानों में शामिल प्रतिष्ठित ‘लीजन ऑफ मेरिट’ (Legit of Merit) पुरस्कार दिए जाने पर पीएम मोदी ने कहा कि वह बेहद सम्मानित महसूस कर रहे हैं. पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा कि लीजन ऑफ मेरिट पुरस्कार पाकर बेहद सम्मानित महसूस कर रहा हूं, यह संबंधों में सुधार के भारत और अमेरिका (India & America) के लोगों के प्रयास को मान्यता है.

प्रधानमंत्री मोदी को अपने नेतृत्व में भारत और अमेरिका की रणनीतिक साझेदारी मजबूत करने और भारत को एक वैश्विक ताकत के रूप में आगे बढ़ाने के लिए यह पुरस्कार दिया गया. अमेरिका में भारत के राजदूत तरणजीत सिंह संधू ने प्रधानमंत्री की ओर से यह पुरस्कार स्वीकार किया. उन्हें अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार रॉबर्ट ओ’ब्रायन ने व्हाइट हाउस में सोमवार को यह पुरस्कार दिया. ओ’ब्रायन ने ट्वीट किया कि राष्ट्रपति ट्रंप ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ‘‘अपने नेतृत्व में अमेरिका और भारत के बीच रणनीतिक साझेदारी को मजबूत करने के लिए लीजन ऑफ मेरिट’’ पुरस्कार प्रदान किया.

ये भी पढ़ें- PM मोदी की नसीहत पर ध्यान देकर अपने संस्थापक के सपने को ही पूरा करेंगे AMU के छात्र




इन लोगों को दिया जाता है ये पुरस्कार
मोदी को ‘चीफ कमांडर ऑफ द लीजन ऑफ मेरिट’ पुरस्कार दिया गया, जो केवल सरकार या राष्ट्र प्रमुख को दिया जाता है. उन्हें यह पुरस्कार उनके बेहतरीन ‘‘नेतृत्व और दूरदृष्टि के लिए दिया गया, जिसने भारत को वैश्विक शक्ति के तौर पर उभरने की दिशा में तेजी से आगे बढ़ाया है और वैश्विक चुनौतियों से निपटने के लिए अमेरिका एवं भारत की रणनीतिक साझेदारी को मजबूत’’ किया है.

नई दिल्ली में विदेश मंत्रालय ने कहा कि इस पुरस्कार के जरिए वैश्विक शक्ति के तौर पर भारत के उत्थान के लिए प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व और दूरदृष्टि को सम्मानित किया गया है. उसने एक बयान में कहा, ‘‘इस पुरस्कार के जरिए वैश्विक शक्ति के तौर पर भारत को आगे ले जाने के लिए प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व एवं उनकी दूरदृष्टि और भारत एवं अमेरिका के बीच रणनीतिक साझेदारी को मजबूत करने एवं वैश्विक शांत एवं समृद्धि को प्रोत्साहित करने में उनके अनुकरणीय योगदान को सम्मानित किया गया है.’’

ओ’ब्रायन ने एक अन्य ट्वीट में बताया कि ट्रंप ने ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन और जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे को भी लीजन ऑफ मेरिट से सम्मानित किया.

अमेरिका से पहले प्रधानमंत्री मोदी को कई अन्य देश भी अपने सर्वोच्च सम्मान से सम्मानित कर चुके हैं. इनमें 2016 में सऊदी अरब द्वारा दिया गया ‘ऑर्डर ऑफ अब्दुलअजीज अल सऊद’, ‘स्टेट ऑर्डर ऑफ गाजी अमानुल्लाह खान’ (2016), ‘ग्रैंड कॉलर ऑफ स्टेट ऑफ फलस्तीन अवार्ड (2018), संयुक्त अरब अमीरात के ‘ऑर्डर ऑफ जायद अवार्ड’ (2019), रूस के ‘ऑर्डर ऑफ सेंट एंड्रयू’ (2019) और मालदीव के ‘ऑर्डर ऑफ डिस्टिग्विंश्ड रूल ऑफ निशान आईज्जुद्दीन’ (2019) पुरस्कार शामिल हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज