अपना शहर चुनें

States

टैगोर की कुर्सी पर बैठने के आरोपों पर अमित शाह का पलटवार, तस्वीरें दिखा बोले- नेहरू, राजीव बैठे

गृहमंत्री ने कहा कि जब हम सदन में बात करते हैं तो पहले तथ्यों को जांचना और परखना चाहिए. (Photo-ANI)
गृहमंत्री ने कहा कि जब हम सदन में बात करते हैं तो पहले तथ्यों को जांचना और परखना चाहिए. (Photo-ANI)

Rabindranath Tagore: अधीर रंजन चौधरी (Adhir Ranjan Chowdhury) के आरोपों पर मंगलवार को अमित शाह (Amit Shah) ने सबूतों के साथ जवाब दिया और कहा कि वो कुर्सी पर नहीं बैठे, लेकिन देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू (Jawaharlal Nehru) और राजीव गांधी बैठे थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 9, 2021, 7:47 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. बंगाल विधानसभा चुनाव (Bengal Election 2021) अब ज्यादा दूर नहीं है और गुरुदेव रवींद्रनाथ टैगोर (Rabindranath Tagore) को लेकर सियासी पार्टियों के बीच वार पलटवार तेज होता दिख रहा है. इसी क्रम में मंगलवार को लोकसभा में एक बार फिर रवींद्रनाथ टैगोर की कुर्सी पर बैठने को लेकर वार पलटवार हुआ. दरअसल कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी (Adhir Ranjan Chowdhury) ने सोमवार को गृहमंत्री पर आरोप लगाया था कि हालिया शांतिनिकेतन दौरे पर अमित शाह (Amit Shah) टैगोर की कुर्सी पर बैठे थे. चौधरी के आरोपों पर मंगलवार को अमित शाह ने सबूतों के साथ जवाब दिया और कहा कि वो कुर्सी पर नहीं बैठे, लेकिन देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू और राजीव गांधी बैठे थे.

गृहमंत्री अमित शाह ने दस्तावेज दिखाते हुए कहा, "यह विश्व भारती के उपकुलपति का पत्र है. मैंने उनसे कहा था कि सारे फोटो और वीडियो का एनालिसिस करके बताया जाए कि मैं कहां बैठा हूं?" उन्होंने स्पष्ट किया कि ऐसी कोई घटना नहीं हुई है. मैं एक खिड़की के पास बैठा था, जहां कोई भी बैठ सकता है." अमित शाह ने कहा, 'जहां वह बैठे थे, उस जगह पर भारत की पूर्व राष्ट्रपति बैठी हैं, प्रणब दा भी बैठे हैं, राजीव गांधी बैठे हैं और बांग्लादेश की प्रधानमंत्री ने भी स्मारिका में वहीं बैठकर अपनी टिप्पणी लिखी थी.' गृहमंत्री ने कहा कि जब हम सदन में बात करते हैं तो पहले तथ्यों को जांचना और परखना चाहिए. सोशल मीडिया की अफवाहों से सदन की गरिमा की क्षति होती है.

ये भी पढ़ेंः लालकिला हिंसाः कोर्ट ने दीप सिद्धू को 7 दिन की पुलिस कस्टडी में भेजा



कांग्रेस नेता पर तंज कसते हुए अमित शाह ने कहा, "मैं इसमें इनका दोष नहीं देखता, इनकी पार्टी का बैकग्राउंड ही ऐसा है." तस्वीरें दिखाते हुए अमित शाह ने कहा कि मेरे पास दो फोटोग्राफ हैं. एक में जवाहर लाल नेहरू टैगोर की कुर्सी पर बैठे हैं. ये फोटोग्राफ रिकॉर्ड में हैं. दूसरी तस्वीर में राजीव गांधी तो टैगोर के सोफे पर बैठकर आराम से चाय पी रहे हैं."
ये भी पढ़ेंः बंगाल में चढ़ा सियासी पारा, नड्डा बोले- जनता चाहती बदलाव, ममता का पलटवार

गृहमंत्री ने लोकसभा स्पीकर से कहा, "मेरा अनुरोध है कि इस बात को रिकॉर्ड में स्पष्ट कर दिया जाए. मैं (दादा) अधीर रंजन चौधरी की अपील पर इसे पटल पर रख रहा हूं." स्पीकर ने शाह की इस अपील को स्वीकार कर लिया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज