मंत्रिमंडल से बाहर करने के 'षड़यंत्र' का पुस्तक में पर्दाफाश करूंगा: खड़से

मंत्रिमंडल से बाहर करने के 'षड़यंत्र' का पुस्तक में पर्दाफाश करूंगा: खड़से
खड़से ने कहा कि पार्टी के वरिष्ठ नेताओं की नजरों में उनकी छवि एक भ्रष्ट व्यक्ति की बनाई गई. (File Photo)

देवेन्द्र फडणवीस मंत्रिमंडल (Devendra Fadanvis Cabinet) में नंबर दो माने जाने वाले खड़से पर जमीन हथियाने के आरोप लगे थे जिसके चलते उन्होंने इस्तीफा दे दिया था.

  • भाषा
  • Last Updated: September 10, 2020, 10:49 PM IST
  • Share this:
मुंबई. भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janta Party) के असंतुष्ट नेता एकनाथ खड़से (Eknath Khadse) ने गुरुवार को कहा कि वह एक पुस्तक लिख रहे हैं, जिसमें वह चार साल पहले देवेन्द्र फडणवीस मंत्रिमंडल (Devendra Fadanvis Cabinet) से बाहर करने के 'षड़यंत्र' का पर्दाफाश करेंगे. खड़से ने कहा कि उनकी पुस्तक का नाम 'नानासाहेब फडणवीसांच षडयंत्र' होगा. नानासाहेब फडणवीस पेशवा साम्राज्य के दौरान एक मंत्री थे. उन्हें प्राय: "मराठा मैक्यावलि" भी कहा जाता है.  भाजपा के वरिष्ठ नेता खड़से ने आरोप लगाया अतीत में उन पर लगे सिलसिलेवार आरोपों के पीछे प्रत्यक्ष या परोक्ष रूप से पूर्व मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस (Former CM Devendra Fadanvis) का हाथ था.

एक समय फडणवीस मंत्रिमंडल में नंबर दो माने जाने वाले खड़से ने जमीन हथियाने के आरोपों के चलते राजस्व मंत्री (Revenue Minister) के पद से इस्तीफा दे दिया था, तब से वह पार्टी में हाशिये पर चल रहे हैं. खड़से ने अपने गृह जिले जलगांव में स्वयं पर आधारित एक पुस्तक के विमोचन के बाद पत्रकारों से से कहा कि वह बेदाग रहे हैं, लेकिन तत्कालीन मुख्यमंत्री फडणवीस ने इसकी घोषणा करने से परहेज किया. उन्होंने कहा कि साजिश के तहत उन पर एक के बाद एक आरोप लगाए गए, जिसकी वजह से उन्हें इस्तीफा देना पड़ा.

ये भी पढ़ें- कंगना रनौत की हुंकार- सौ करोड़ में गूंजेगी मेरी आवाज, आप कितने मुंह बंद करेंगे




पार्टी नेताओं की नजरों में भ्रष्ट व्यक्ति की छवि बनाई गई
खड़से ने कहा कि पार्टी के वरिष्ठ नेताओं की नजरों में उनकी छवि एक भ्रष्ट व्यक्ति की बनाई गई. उन्होंने कहा कि वह कई बार फडणवीस से मिले थे और उनसे कहा था कि वह निर्दोष हैं. पूर्व मंत्री ने कहा कि उन्होंने (फडणवीस) कहा कि इसकी (भ्रष्टाचार मामले की) जांच होगी ‘‘जबकि लोकायुक्त, एसीबी ने मेरी ओर से कोई गड़बड़ नहीं पाई.’’

खड़से ने कहा, 'मुझे न्याय मिलना चाहिये था. लेकिन दुर्भाग्यवश, केवल मुझे ही क्लीन चिट नहीं दी गई. और सभी जिनपर आरोप लगे उन्हें क्लीन चिट दे दी गई.' उन्होंने कहा कि वह दस्तावेजों का अध्ययन कर रहे हें और उन्हें पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ साझा करेंगे.

ये भी पढ़ें- बंगाल में TMC-BJP को टक्कर देने तैयारी, कांग्रेस-वाम मोर्चा में दोस्ती की आहट

उन्होंने कहा, 'मैं इस पूरे प्रकरण पर पुस्तक लिख रहा हूं. पुस्तक का नाम नानासाहेब फडणवीस षड़यंत्र होगा.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज