लाइव टीवी

अल्पेश ठाकोर को कांग्रेस में वापसी के लिए मनाएंगे हार्दिक पटेल, कहा- BJP को हराना मकसद

News18Hindi
Updated: April 11, 2019, 1:33 PM IST
अल्पेश ठाकोर को कांग्रेस में वापसी के लिए मनाएंगे हार्दिक पटेल, कहा- BJP को हराना मकसद
हार्दिक पटेल, अल्पेश ठाकोर और जिग्नेश मेवानी की फाइल फोटो

हार्दिक पटेल ने कहा कि वो अल्पेश ठाकोर से संपर्क करने की कोशिश कर रहे हैं और पता करेंगे कि आखिर कांग्रेस से उनकी नाराजगी क्यों है?

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 11, 2019, 1:33 PM IST
  • Share this:
विजयसिंह परमार

गुजरात में लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका देने वाले ओबीसी नेता और विधायक अल्पेश ठाकोर को कांग्रेस में दोबारा लाने के लिए अब पाटीदार नेता हार्दिक पटेल मनाएंगे. हाल ही में कांग्रेस ज्वाइन करने वाले हार्दिक पटेल ने कहा कि वो अल्पेश ठाकोर से संपर्क करने की कोशिश कर रहे हैं और पता करेंगे कि आखिर कांग्रेस से उनकी नाराजगी क्यों है?

गुजरात में उभरे तीन युवा नेता
अल्पेश ठाकोर, जिग्नेश मेवाणी और हार्दिक पटेल तीनों ही नेता गुजरात की राजनीति में पिछले कुछ दिनों में तेजी से उभरकर आए हैं. हार्दिक पटेल ने 2015 में OBC के लिए शिक्षा और रोजगार में कोटा की मांग उठाते हुए, पाटीदार अनामत आंदोलन समिति की शुरुआत की थी. अल्पेश ठाकोर गुजरात के वो युवा नेता हैं, जो मजबूत ठाकोर समुदाय से ताल्लुक रखते हैं और शुरुआत में हार्दिक के विरोधी के तौर पर आगे बढ़े थे. हालांकि, राजनीतिक समीकरण बदल गए और बाद में दोनों ने भाजपा के खिलाफ लड़ने के लिए हाथ मिलाया. वहीं दलित नेता जिग्नेश मेवानी 2016 में उभरकर आए, जब गिर-सोमनाथ जिले के ऊना में गाय की चमड़ी उतारने वाले दलितों पर तथाकथित गौ-रक्षकों ने हमला कर दिया था. बाद में, मेवानी, हार्दिक पटेल और अल्पेश ठाकोर एक मंच पर आए और 2017 के विधानसभा चुनावों से पहले भाजपा सरकार को गिराने का आह्वान किया.

मोदी-शाह के गढ़ में बीजेपी को यूं फायदा पहुंचाएगा अल्पेश का इस्तीफा

इसलिए छोड़ी पार्टी
अल्पेश ठाकोर ने बुधवार को कांग्रेस के सभी पदों से इस्तीफा दे दिया था. अल्पेश का कहना है कि वह अपमान और धोखे की वजह से पार्टी छोड़ रहे हैं. यहां तक कि उन्होंने कांग्रेस पर टिकट बेचने, ठाकोर समाज का अपमान, उपेक्षा और विश्वासघात करने का आरोप भी लगाया. साथ ही साफ कर दिया कि वह किसी भी पार्टी में शामिल नहीं होंगे.
Loading...

कांग्रेस से जुड़ गए अल्पेश
गुजरात विधानसभा चुनाव से ठीक पहले अल्पेश ठाकोर और उनके सहयोगी कांग्रेस में शामिल हुए और चुनाव लड़ा. अल्पेश ठाकोर राधापुर विधानसभा क्षेत्र से जीते जबकि जिग्नेश मेवानी ने कांग्रेस के समर्थन से वडगाम विधानसभा सीट से निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ा और सीट जीत ली. कल जब अल्पेश ठाकोर ने कांग्रेस से अपने इस्तीफे की घोषणा की, उसके तुरंत बाद बिहार के बेगूसराय में कन्हैया कुमार के लिए प्रचार कर रहे जिग्नेश मेवानी ने भी अपने आधिकारिक फेसबुक पेज पर 'मन की बात' लिखी. मेवानी ने लिखा कि हम जानने की कोशिश कर रहे हैं कि अल्पेश ने इस्तीफा क्यों दिया? साथ ही उन्होंने अल्पेश को सलाह दी कि किसी भी सूरत में वो BJP के साथ न जाएं.

अल्पेश से बनाई दूरी
यूं तो तीनों ही नेता एक दूसरे को अपना दोस्त मानते हैं लेकिन पिछले कुछ दिनों से ठाकोर के साथ मंच पर दिखने के बाद पाटीदार नेता हार्दिक पटेल और दलित कार्यकर्ता जिग्नेश मेवानी ने ठाकोर से दूरी बना ली थी. विश्लेषकों का मानना ​​है कि दोनों नेता ठाकोर के BJP के प्रति झुकाव को महसूस कर रहे थे. इसलिए जैसे ही अल्पेश ने कांग्रेस छोड़ने का ऐलान किया, हार्दिक और मेवानी इस कोशिश में जुट गए हैं कि अल्पेश को वापस पार्टी में लाया जाए. उधर, गुजरात प्रदेश कांग्रेस कमिटी के प्रेसिडेंट ने भी अल्पेश के आरोपों को दुखद बताया है.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 11, 2019, 1:02 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...