लाइव टीवी

वायुसेना ने मानी गलती, 27 फरवरी को भारतीय मिसाइल से ही क्रैश हुआ था Mi-17 हेलीकॉप्‍टर

News18Hindi
Updated: October 4, 2019, 4:47 PM IST
वायुसेना ने मानी गलती, 27 फरवरी को भारतीय मिसाइल से ही क्रैश हुआ था Mi-17 हेलीकॉप्‍टर
27 फरवरी को जम्‍मू-कश्‍मीर के बडगाम में दुर्घटनाग्रस्‍त हुआ वायुसेना का हेलीकॉप्‍टर भारतीय मिसाइल से ही टकरा गया था.

जम्‍मू-कश्‍मीर (Jammu-Kashmir) के बडगाम (Budgam) में 27 फरवरी को वायुसेना का हेलीकॉप्‍टर दुर्घटनाग्रस्‍त हो गया था. इसमें 6 सैन्‍यकर्मियों और एक नागरिक की मौत हो गई थी. वायुसेना प्रमुख राकेश कुमार सिंह भदौरिया (Air Chief Marshal RKS Bhadauria) ने बताया कि उच्‍चस्‍तरीय जांच में चार अधिकारी दुर्घटना के लिए दोषी पाए गए हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 4, 2019, 4:47 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. वायुसेना प्रमुख (IAF Chief) एयर चीफ मार्शल राकेश कुमार सिंह भदौरिया (RKS Bhadauria) ने स्‍वीकार किया है कि 27 फरवरी को जम्‍मू-कश्‍मीर (Jammu-kashmir) के बडगाम (Budgam) में दुर्घटनाग्रस्‍त हुआ एमआई-17 (Mi-17) हेलीकॉप्‍टर भारतीय मिसाइल (Indian missile) से ही टकरा गया था. भदौरिया ने बताया कि इस मामले में कोर्ट ऑफ इन्‍क्‍वॉयरी पूरी हो चुकी है. उच्‍चस्‍तरीय जांच में पता चला है कि दुर्घटना हमारी ही गलती से हुई थी. हम स्‍वीकार करते हैं कि ये बहुत बड़ी गलती थी. हम सुनिश्चित करेंगे कि भविष्‍य में किसी भी सूरत में ऐसी गलती नहीं हो.

बता दें कि ये दुर्घटना उसी दिन हुई थी, जिस दिन विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान पाकिस्‍तान के एफ-16 विमान को ध्‍वस्‍त करने के बाद अपने मिग के क्षतिग्रस्‍त होने के बाद पाकिस्‍तान में उतर गए थे.

एयर चीफ मार्शल ने कहा- दो अधिकारियों के खिलाफ की जाएगी कार्रवाई
भदौरिया ने बताया कि इस मामले में दो अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. इस हेलीकॉप्‍टर को स्‍क्‍वाड्रन लीडर सिद्धार्थ वशिष्‍ठ उड़ा रहे थे. उनके साथ स्‍क्‍वाड्रन लीडर निनाद, कुमार पांडे, सार्जेंट विक्रांत सहरावत, कॉरपोरल दीपक पांडे और पंकज कुमार भी थे. हेलीकॉप्‍टर ने 27 फरवरी की सुबह 10.10 बजे श्रीनगर हवाईअड्डे से उड़ान भरी थी. इससे करीब 40 मिनट पहले पाकिस्‍तानी वायुसेना के जेट ने भारतीय वायु सीमा का उल्‍लंघन कर बडगाम में घुसपैठ करने की कोशिश की थी. भारतीय वायुसेना तत्‍काल कार्रवाई करते हुए उसे खदेड़ दिया था.

हेलीकॉप्‍टर क्रू और ग्राउंड स्‍टाफ के कम्‍युनिकेशन की कमी से हुई दुर्घटना
घटना की जांच में पता चला कि हेलीकॉप्‍टर क्रू और ग्राउंड स्‍टाफ के बीच बेहतर संचार व समन्‍वय की कमी के कारण दुर्घटना हुई. बता दें कि इस दुर्घटना में हेलीकॉप्‍टर में सवार छह सैन्‍यकर्मियों और एक नागरिक की मौत हो गई थी. जांच में कम से कम चार अधिकारी इस घटना के लिए जिम्‍मेदार हैं. वहीं, घटना के समय पाकिस्‍तानी सशस्‍त्र बल के प्रवक्‍ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने कहा था कि इस घटना में इस्‍लामाबाद का कोई हाथ नहीं है. हेलीकॉप्‍टर से हमारी वायुसेना का कोई आमना सामना नहीं हुआ था.

ये भी पढ़ें:
Loading...

LoC पर पाकिस्तान की नापाक हरकत, मार्च से पहले पुंछ में 2 घंटे की फायरिंग

इजराइली स्पाइक ATGMs सेना में शामिल, पाक सेना की बढ़ी मुश्किल

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 4, 2019, 1:58 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...