केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन का हर्ड इम्यूनिटी से इनकार, बोले- भारत अभी बहुत दूर

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने यह भी कहा कि कोविड-19 से फिर से संक्रमित होने वाले लोगों पर आईसीएमआर तेजी से जांच और रिसर्च कर रहा है (फाइल फोटो)
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने यह भी कहा कि कोविड-19 से फिर से संक्रमित होने वाले लोगों पर आईसीएमआर तेजी से जांच और रिसर्च कर रहा है (फाइल फोटो)

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन (Union Health Minister Harsh Vardhan) ने कहा कि रेमडेसिवीर और प्लाज्मा थेरेपी (Remdesivir and plasma therapies) को बढ़ावा नहीं दिया जाना है. सरकार (Government) ने उनके तर्कसंगत उपयोग के संबंध में नियमित सलाह जारी की है. निजी अस्पतालों (Private Hospital) को भी इन जांच उपचारों (investigational therapies) के नियमित उपयोग के खिलाफ सलाह दी गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 28, 2020, 12:42 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन (Union Health Minister Harsh Vardhan) ने कहा कि आईसीएमआर के दूसरे सीरो सर्वे (ICMR’s second Sero Survey) में दिखाया गया है कि भारत की जनसंख्या अब भी कोविड-19 (COVID-19) के खिलाफ हर्ड इम्युनिटी (herd immunity) डेवलप कर पाने से बहुत दूर है. ऐसे में, हम सभी को कोविड से जुड़े उपयुक्त व्यवहार का पालन करते रहना चाहिए. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री (Union Health Minister) ने यह भी कहा कि कोविड-19 से फिर से संक्रमित होने वाले लोगों पर आईसीएमआर (ICMR) तेजी से जांच और रिसर्च कर रहा है. हालांकि अब तक सामने आये पुनर्संक्रमण (Reinfection) के मामले बहुत ही कम हैं, लेकिन सरकार मामले को पूरा महत्व दे रही है.

केंद्रीय मंत्री (Union Minister) ने यह भी कहा कि रेमडेसिवीर और प्लाज्मा थेरेपी (Remdesivir and plasma therapies) को बढ़ावा नहीं दिया जाना है. सरकार (Government) ने उनके तर्कसंगत उपयोग के संबंध में नियमित सलाह जारी की है. निजी अस्पतालों (Private Hospital) को भी इन जांच उपचारों (investigational therapies) के नियमित उपयोग के खिलाफ सलाह दी गई है.


देश में कोविड-19 से ठीक होने वाले मरीजों की संख्या 50 लाख के करीब पहुंची
देश में गत 24 घंटे में कोविड-19 से 92,043 मरीजों के ठीक होने के साथ ही भारत में इस महमारी को मात देने वालों की संख्या 50 लाख के करीब पहुंच गई है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने रविवार को बताया कि इसके साथ ही उपचाराधीन मरीजों के मुकाबले ठीक होने वाले मरीजों की संख्या 39,85,225 अधिक है. गत कुछ दिनों से रोजाना ठीक होने वाले मरीजों की औसत संख्या 90 हजार से अधिक है. इस तथ्य को रेखांकित करते हुए मंत्रालय ने कहा, ‘‘रोजाना मरीजों के ठीक होने की दर से भारत का वैश्विक स्तर पर सबसे अधिक मरीजों के ठीक होने का दर्जा बना हुआ है.’’



यह भी पढ़ें: फडणवीस और राउत की मुलाकात पर संजय निरुपम का तंज- शिवसेना देगी कांग्रेस को धोखा

मंत्रालय द्वारा रविवार सुबह आठ बजे अद्यतन किए गए आंकड़ों के मुताबिक गत 24 घंटे में देश में 92 हजार लोग कोरोना वायरस के संक्रमण से मुक्त हुए जबकि इस अवधि में करीब 86,000 नये मामले सामने आए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज