चिदंबरम बोले- तमिलभाषी एक हो जाएं तो सभी इस भाषा को स्वीकार करेंगे

आईएनएक्स मीडिया केस में तिहाड़ जेल में बंद हैं चिंदबरम

पी चिदंबरम (P Chidambaram) ने कहा,‘अगर तमिलभाषी एकजुट हो जाएं और एक सुर में बोलें तो हर व्यक्ति तमिल भाषा (Tamil Language) और संस्कृति की महानता को स्वीकार करेगा.’

  • Share this:
    नई दिल्ली. पूर्व वित मंत्री और कांग्रेस नेता पी चिदंबरम (P Chidambaram) ने रविवार को कहा कि अगर तमिलभाषी (Tamil Language) लोग एक हो जाएं तो सभी तमिल भाषा और संस्कृति की महानता को स्वीकार करेंगे.

    चिदंबरम आईएनएक्स मीडिया मामले (INX Media Case) में फिलहाल तिहाड़ जेल (Tihar Jail) में बंद हैं. उनका यह बयान ऐसे वक्त आया है जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने अमेरिका के ह्यूस्टन में ‘हाउडी मोदी’ कार्यक्रम में कहा था कि देश की विभिन्न भाषाएं उसके उदार एवं लोकतांत्रिक समाज की अहम पहचान है.

    शाह ने की थी एक भाषा बनाने की वकालत
    मोदी ने भाषाई विविधता के महत्व को ऐसे वक्त रेखांकित किया जब गृह मंत्री अमित शाह ने हिंदी को एक भाषा बनाने की वकालत की थी. इस बयान के लिए अमित शाह को तीखी आलोचनाओं का सामना करना पड़ा था.

    ‘एक एकजुट में बोलें तमिलभाषी’
    पी चिदंबरम ने ट्वीट किया,‘अगर तमिलभाषी एकजुट हो जाएं और एक सुर में बोलें तो हर व्यक्ति तमिल भाषा और संस्कृति की महानता को स्वीकार करेगा.’

    गौरतलब है कि मोदी ने संयुक्त राष्ट्र महासभा के सत्र में अपने संबोधन में तमिल विचारक कनियान का उल्लेख किया था.

     

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.