हैदराबाद निकाय चुनाव: वोटर लिस्ट में 30 हजार रोहिंग्या के दावे पर असदुद्दीन ओवैसी बोले- अमित शाह क्या कर रहे हैं?

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन ( AIMIM) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी (PTI)

रोहिंग्या मुसलमानों (Rohingya Muslims) के मुद्दे पर AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) और बीजेपी के बीच जुबानी जंग हैदराबाद निकाय चुनाव की तारीख नजदीक आते ही तेज हो गई है. इस मामले में ओवैसी ने कहा कि अगर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) वाकई ईमानदार है तो उसे मंगलवार शाम तक ऐसे 1000 नाम दिखाने चाहिए.

  • Share this:
    हैदराबाद. बिहार विधानसभा चुनाव में सबको चौंकाने वाले ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन ( AIMIM) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) को खुला चैलेंज दिया है. ओवैसी ने सोमवार को हैदराबाद में एक जनसभा को संबोधन के दौरान रोहिंग्या मुसलमानों (Rohingya Muslims) का मुद्दा उठाया. AIMIM चीफ ने पूछा कि अगर इलेक्टोरल लिस्ट (मतदाता सूची) में 30 हजार रोहिंग्या हैं, तो गृहमंत्री अमित शाह क्या कर रहे हैं? क्या यह देखना उनका काम नहीं है? इलेक्टोरल लिस्ट आखिर 30 से 40 हजार रोहिंग्या का नाम कैसे शामिल हो गया.

    दरअसल, रोहिंग्या मुसलमानों के मुद्दे पर AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी और बीजेपी के बीच जुबानी जंग हैदराबाद निकाय चुनाव की तारीख नजदीक आते ही तेज हो गई है. न्यूज़ एजेंसी ANI के मुताबिक, इस मामले में ओवैसी ने कहा कि अगर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) वाकई ईमानदार है तो उसे मंगलवार शाम तक ऐसे 1000 नाम दिखाने चाहिए.



    ओवैसी ने कहा कि उनका इरादा नफरत फैलाने का है. यह लड़ाई हैदराबाद और भाग्यनगर के बीच है. यह अब आपकी जिम्मेदारी है कि कौन जीतेगा.

    ...तो इस तरह अख्तरुल इमान ने बिहार में भी असदुद्दीन ओवैसी की विचारधारा की शुरुआत की



    कैसे शुरू हुआ विवाद?
    ये सारा मामला इसलिए शुरू हुआ क्योंकि बीजेपी के यूथ विंग के अध्यक्ष और सांसद तेजस्वी सूर्या ने आरोप लगाया था कि ओवैसी केवल विकास की बात करते हैं लेकिन वो हैदराबाद मे केवल रोहिंग्या मुसलमानों को आने की इजाजत देते हैं. इतना ही नहीं तेजस्वी सूर्या ने ये भी कहा कि असदुद्दीन ओवैसी, मोहम्मद अली जिन्ना के अवतार हैं, उन्हें वोट देने का मतलब भारत के खिलाफ वोट देना है. हैदराबाद में प्रचार कर रहे तेजस्वी सूर्या ने कहा कि ये सिर्फ एक निगम चुनाव नहीं है, अगर आप यहां ओवैसी को वोट देते हैं तो वो महाराष्ट्र, कर्नाटक, बिहार, यूपी जैसे राज्यों में मजबूत होते हैं.

    तेजस्वी सूर्या ने ओवैसी भाइयों के लिए कहा कि ये ठीक वैसी ही बातें करते हैं जैसे मोहम्मद अली जिन्ना किया करते थे और विभाजनकारी राजनीति करते हैं. कट्टर इस्लाम की बात करने वाली एआईएमआईएम से लोगों को दूर रहना चाहिए.

    निकाय चुनाव में बीजेपी कर रही है जोरदार प्रचार
    भारतीय जनता पार्टी बिहार विधानसभा चुनाव के बाद अब दक्षिण के राज्यों में अपनी पैठ बढ़ाने की कोशिश कर रही है. तेलंगाना में इन दिनों हैदराबाद नगर निगम चुनाव के लिए जो प्रचार चल रहा है इससे पहले राजनीतिक दलों के स्टार प्रचारकों ने मोर्चा संभाल लिया है. बीजेपी सांसद तेजस्वी सूर्या ने कहा कि तेलंगाना में बीजेपी की सफलता तमिलनाडु, केरल जैसे राज्यों में पार्टी के लिए फायदेमंद होगी.

    लव जिहाद के खिलाफ कानून की बात पर भड़के ओवैसी, BJP पर लगाए आरोप

    1 दिसंबर को है वोटिंग
    हैदराबाद में निकाय चुनाव के लिए एक दिसंबर को मतदान होना है. इस बार असदुद्दीन ओवैसी की एआईएमआीएम और केसीआर की टीआरएस अलग होकर चुनाव लड़ रही हैं जबकि राज्य की सत्ता में दोनों पार्टियां साथ हैं. नगर निगम के 150 वार्ड के लिए होने वाले चुनाव अहम माने जा रहे हैं और तेलंगाना के सीएम केसीआर की ओर से बयान दिया गया है कि इस बार वो ओवैसी के गढ़ में घुसकर उन्हें मात देंगे और सभी 150 सीटों पर लड़ेंगे.