नजीब की मां बोलीं ‘अगर आप चौकीदार हैं तो मेरा बेटा कहां है’

ट्वीट के जरिए नजीब की मां फातिमा ने पूछा है कि अगर आप चौकीदार हैं तो मेरा बेटा नजीब कहां है. एबीवीपी के आरोपी गिरफ्तार क्यों नहीं हो रहे हैं. क्यों देश की तीन टॉप एजेंसी मेरे बेटे की तलाश में फेल हो गई हैं.

नासिर हुसैन | News18Hindi
Updated: May 10, 2019, 5:56 PM IST
नजीब की मां बोलीं ‘अगर आप चौकीदार हैं तो मेरा बेटा कहां है’
फाइल फोटो. फातिमा नफीस.
नासिर हुसैन
नासिर हुसैन | News18Hindi
Updated: May 10, 2019, 5:56 PM IST
पीएम नरेंद्र मोदी के ट्वीट के जवाब में जेएनयू के गायब चल रहे छात्र नजीब अहमद की मां फातिमा नफीस ने भी एक ट्वीट किया है. ट्वीट के जरिए फातिमा ने पूछा है कि अगर आप चौकीदार हैं तो मेरा बेटा नजीब कहां है.

दरअसल, पीएम नरेंद्र मोदी ने शनिवार को 'मैं भी चौकीदार' हैशटैग के साथ एक ट्वीट कर कहा था, 'आपका चौकीदार मजबूती से खड़ा है और देश की सेवा कर रहा है. लेकिन, मैं अकेला नहीं हूं. हर कोई जो भ्रष्टाचार, गंदगी और सामाजिक बुराइयों से लड़ा रहा है, वह चौकीदार है. भारत की प्रगति के लिए जो भी कड़ी मेहनत कर रहा है, वह चौकीदार है. आज हर भारतीय कह रहा है, मैं भी चौकीदार.'

इससे पहले, एयर फोर्स के विंग कमांडर अभिनन्दन वर्धमान की पाकिस्तान से रिहाई होने पर नजीब की मां ने एक ट्वीट किया था कि “पायलट अभिनन्दन को तो पाकिस्तान ने रिहा कर दिया, लेकिन एबीवीपी मेरे बेटे नजीब को कब रिहा करेगी.”

शनिवार को किए गए अपने ट्वीट में नजीब की मां ने ये भी सवाल उठाया है कि “अगर आप चौकीदार हैं तो अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के आरोपी गिरफ्तार क्यों नहीं हो रहे हैं. क्यों देश की तीन टॉप एजेंसी मेरे बेटे की तलाश में फेल हो गई हैं.”


न्यूज18 हिन्दी से बातचीत में नजीब के भाई हसीब अहमद ने कहा कि “सीबीआई, दिल्ली पुलिस और एसआईटी नजीब को तलाश करने में फेल हो गई हैं तो फिर ये कैसी निगरानी है. मोबाइल और लैपटॉप की जांच तक नहीं हो पाती है तो ये कैसी निगरानी है.”

न्यूज18 हिंदी का असर: सीआरपीएफ के शहीद की पत्नी को 4 साल बाद मिला मुआवजा 

गौरतलब रहे कि यूपी के बदायूं का रहने वाला नजीब अक्टूबर 2016 से जेएनयू के हॉस्टल से गायब चल रहा है. सीबीआई इस मामले में क्लोजर रिपोर्ट दाखिल कर चुकी है. कुछ समय बाद नजीब के मामले को तीन साल होने वाले हैं.

ये भी पढ़ें- 

नजीब की बीमार मां बोलीं- पाक ने अभिनंदन को छोड़ दिया, ABVP मेरे बेटे को कब छोड़ेगी

 

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...

वोट करने के लिए संकल्प लें

बेहतर कल के लिए#AajSawaroApnaKal
  • मैं News18 से ई-मेल पाने के लिए सहमति देता हूं

  • मैं इस साल के चुनाव में मतदान करने का वचन देता हूं, चाहे जो भी हो

    Please check above checkbox.

  • SUBMIT

संकल्प लेने के लिए धन्यवाद

जिम्मेदारी दिखाएं क्योंकि
आपका एक वोट बदलाव ला सकता है

ज्यादा जानकारी के लिए अपना अपना ईमेल चेक करें

डिस्क्लेमरः

HDFC की ओर से जनहित में जारी HDFC लाइफ इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड (पूर्व में HDFC स्टैंडर्ड लाइफ इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड). CIN: L65110MH2000PLC128245, IRDAI R­­­­eg. No. 101. कंपनी के नाम/दस्तावेज/लोगो में 'HDFC' नाम हाउसिंग डेवलपमेंट फाइनेंस कॉर्पोरेशन लिमिटेड (HDFC Ltd) को दर्शाता है और HDFC लाइफ द्वारा HDFC लिमिटेड के साथ एक समझौते के तहत उपयोग किया जाता है.
ARN EU/04/19/13626

News18 चुनाव टूलबार

  • 30
  • 24
  • 60
  • 60
चुनाव टूलबार