Home /News /nation /

कृष्ण भक्ति के लिए IPS भारती अरोड़ा ने रिटायरमेंट से 10 साल पहले लिया VRS, सीएम मनोहर लाल खट्टर ने किया ओके

कृष्ण भक्ति के लिए IPS भारती अरोड़ा ने रिटायरमेंट से 10 साल पहले लिया VRS, सीएम मनोहर लाल खट्टर ने किया ओके

हरियाणा कैडर की आईपीएस अफसर भारती अरोड़ा को वीआरएस मिल गई है. (File)

हरियाणा कैडर की आईपीएस अफसर भारती अरोड़ा को वीआरएस मिल गई है. (File)

Haryana News: सीनियर IPS भारती अरोड़ा ने इसी साल जुलाई 2021 में वीआरएस के लिए आवेदन किया था, जिसे हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज (Anil Vij) और पुलिस के आला अधिकारियों ने मंजूर नहीं किया था. इसके बाद भारती अरोड़ा ने नवंबर महीने में वीआरएस के लिए दोबारा आवेदन कर दिया. इस पर गृह मंत्री अनिल विज ने उसे मंजूरी देते हुए फाइल सीएम के पास भिजवा दी. गृह मंत्रालय और पुलिस महकमे की मंजूरी के बाद सीएम ने भी मंजूर देते हुए फाइल पर साइन कर दिए. सीएम की मंजूरी मिलने के बाद भारती अरोड़ा ने कहा कि उनकी बाकी जिंदगी कृष्ण भक्ति में गुजरेगी.

अधिक पढ़ें ...

    रोहतक. हरियाणा में अंबाला रेंज की IG और IPS अधिकारी भारती अरोड़ा
    (Bharti Arora) के स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति (VRS) से जुड़े आवेदन को मुख्यमंत्री ने मंजूरी दे दी है. सीएम मनोहर लाल ने उनकी वीआरएस से जुड़ी फाइल पर गुरुवार को साइन कर दिए हैं. भारती अरोड़ा अब एक दिसंबर की दोपहर में रिलीव हो जाएंगी. भगवान श्रीकृष्ण की भक्ति में ऐसे डूबी हैं कि रिटायरमेंट से 10 साल पहले वीआरएस ले ली है.

    भारती अरोड़ा ने इसी साल जुलाई 2021 में वीआरएस के लिए आवेदन किया था, जिसे गृह मंत्री अनिल विज (Anil Vij) और पुलिस के आला अधिकारियों ने मंजूर नहीं किया था. इसके बाद भारती अरोड़ा ने नवंबर महीने में वीआरएस के लिए दोबारा आवेदन कर दिया. इस पर गृह मंत्री अनिल विज ने उसे मंजूरी देते हुए फाइल सीएम के पास भिजवा दी. गृह मंत्रालय और पुलिस महकमे की मंजूरी के बाद सीएम ने भी मंजूर देते हुए फाइल पर साइन कर दिए. सीएम की मंजूरी मिलने के बाद भारती अरोड़ा ने कहा कि उनकी बाकी जिंदगी कृष्ण भक्ति में गुजरेगी.

    10 साल पहले ही ले लिया VRS

    भारती अरोड़ा पुलिस पुलिस सेवा (IPS) की 1998 बैच की अफसर हैं. 23 साल की पुलिस सर्विस में वह हरियाणा में कई जिलों में एसपी के अलावा करनाल रेंज की आईजी रह चुकी हैं. इस समय अंबाला रेंज की आईजी हैं. उनका रिटायरमेंट वर्ष 2031 में होना था, मगर उन्होंने 10 साल पहले वीआरएस ले ली. भारती अरोड़ा की शादी हरियाणा काडर के आईपीएस अधिकारी विकास अरोड़ा से हुई है. विकास अरोड़ा फिलहाल फरीदाबाद के पुलिस कमिश्नर हैं. भारती अरोड़ा राई स्पोर्ट्स स्कूल की प्रिंसिपल भी रह चुकी हैं, जहां उन्होंने कई बेहतर काम किए।

    IG Bharti Arora VRS Krishna Bhakti CM Manohar Lal Haryana News Haryana News in Hindi Haryana news live Haryana Samachar haryana news today in english haryana news youtube Haryana

    वीआरएस मिलने पर खुशी जताते हुए IG भारती अरोड़ा ने कहा कि अब वह बाकी जिंदगी कृष्ण भक्ति में गुजरेगी.

    श्रीकृष्ण से भक्ति खींच ले जाती थी वृंदावन की गलियां

    भारती अरोड़ा वर्ष 2004 से वृंदावन जा रही हैं. 24 जुलाई को वीआरएस के लिए पंजाब के डीजीपी को भेजे पत्र में भारती अरोड़ा ने लिखा कि पुलिस सेवा उनके लिए गर्व और जूनून रही है. अब वह जिंदगी धार्मिक तरीके से बिताना चाहती हैं. वह चैतन्य महाप्रभु, कबीरदास और मीराबाई की तरह प्रभु श्रीकृष्ण की साधना करना चाहती हैं.

    गोसेवक हैं IPS भारती अरोड़ा

    साल 2012-13 में भारती अरोड़ा रेवाड़ी जिले में तैनात थी. उस समय इस इलाके में बड़े पैमाने पर गौ-तस्करी होती थी, तब भारती अरोड़ा ने गौ-तस्करी पर शिकंजा कसते हुए कई अपराधियों को पकड़ा. गौ-तस्करी पर काफी हद तक लगाम लगाने के साथ-साथ उन्होंने रेवाड़ी में पंचायत से जमीन दिलवाकर श्री मोहन गोपाल गौशाला का निर्माण करवाया. इस गौशाला में आज भी बड़ी संख्या में गाय रखी जाती हैं.

    कबूतरबाजों पर कसा शिकंजा

    आईपीएस अफसर भारती अरोड़ा ने 2020 में कबूतरबाजों पर शिकंजा कसने की मुहिम चलाई. गृहमंत्री अनिल विज के आदेश पर भारती अरोड़ा की अगुवाई में ही इसके लिए SIT का गठन किया गया. इस एसआईटी ने 452 कबूतरबाजों को पकड़ा, जिसके बाद गृह विभाग ने भारती अरोड़ा को सम्मानित किया.

    Tags: CM Manohar Lal Khattar, Haryana education, Haryana Government, Haryana news, Haryana news live, Haryana police, Haryana politics, Home Minister Anil Vij

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर