होम /न्यूज /राष्ट्र /

अगले महीने से कोवैक्सीन टीके की 20 लाख खुराकों की आपूर्ति शुरू कर सकता IIL : सरकार

अगले महीने से कोवैक्सीन टीके की 20 लाख खुराकों की आपूर्ति शुरू कर सकता IIL : सरकार

बेंगलुरु संयंत्र के चालू हो जाने से कोवैक्सीन की उत्पादन क्षमता में बहुत अधिक वृद्धि हुई है. (फाइल फोटो)

बेंगलुरु संयंत्र के चालू हो जाने से कोवैक्सीन की उत्पादन क्षमता में बहुत अधिक वृद्धि हुई है. (फाइल फोटो)

Covid Vaccine Production: पॉल ने बताया कि कंपनी ने गुजरात के अंकलेश्वर में अतिरिक्त संयंत्र शुरू किया है जहां पर टीके की 60 लाख खुराकों का उत्पादन किया जाएगा. उन्होंने कहा, ‘‘….उन्होंने कोशिश की. कुछ बाधाएं आई जिसका हमें सम्मान करना चाहिए और उनकी कोशिश को हतोत्साहित नहीं करना चाहिए.’’

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. केंद्र सरकार ने मंगलवार को बताया कि इंडियन इम्यूनोलॉजिकल लिमिटेड (आईआईएल) सितंबर महीने से कोवैक्सीन की 20 लाख खुराकों की आपूर्ति शुरू कर सकता है. विभिन्न संयंत्रों में कोवैक्सीन के उत्पादन के बारे में नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ्य) डॉ.वीके पॉल ने बताया कि शुरुआत में बेंगलुरु स्थित भारत बायोटेक के संयंत्र से उत्पादित खेपों के मानकीकरण और गुणवत्ता को लेकर कुछ बाधा आई जिसकी वजह से इस कोविड-19 रोधी टीके के उत्पादन में देरी हुई.

    उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘‘बेंगलुरु संयंत्र के चालू हो जाने से कोवैक्सीन की उत्पादन क्षमता में बहुत अधिक वृद्धि हुई है. मानकीकरण, गुणवत्ता सुनिश्चित करने और टीके के प्रभावी प्रवाह को लेकर थोड़ी देरी हुई. यह उद्योग शुरू हुआ है, ऐसे में सत्यापित करने और मानकीकरण में कुछ समय लगता है, इसलिए यह देरी हुई.’’

    पॉल ने बताया कि कंपनी ने गुजरात के अंकलेश्वर में अतिरिक्त संयंत्र शुरू किया है जहां पर टीके की 60 लाख खुराकों का उत्पादन किया जाएगा. उन्होंने कहा, ‘‘….उन्होंने कोशिश की. कुछ बाधाएं आई जिसका हमें सम्मान करना चाहिए और उनकी कोशिश को हतोत्साहित नहीं करना चाहिए.’’

    ये भी पढ़ें- महिला हॉकी टीम और लवलीना इतिहास रचने की कगार पर, नीरज चोपड़ा पर रहेगी नजर, जानिए 4 अगस्त का पूरा शेड्यूल

    पॉल प्रेस वार्ता में कोवैक्सीन के उत्पादन में देरी और बेंगलुरु में उत्पादित कुछ शुरुआती खेपों के मानक पूरे नहीं कर पाने के सवाल का जवाब दे रहे थे. उन्होंने कहा, ‘‘जहां तक आईआईएल का सवाल है तो यह अगस्त के आखिर में या सितंबर से कोवैक्सीन टीके की 20 लाख खुराकों की आपूर्ति शुरू कर देगा.’’

    पॉल ने बताया कि हफ्फकिन बायोफार्मास्युटिकल कॉरपोरेशन लिमिटेड, द गुजरात बायोटेक्नोलॉजी रिसर्च सेंटर और बीआईबीसीओएल को कोवैक्सीन टीके का उत्पादन करने के लिए काफी अवसंरचना विकसित करने की जरूरत है. इन सार्वजनिक उपक्रमों में दिसंबर से कोवैक्सीन के उत्पादन की उम्मीद है.

    (Disclaimer: यह खबर सीधे सिंडीकेट फीड से पब्लिश हुई है. इसे News18Hindi टीम ने संपादित नहीं किया है.)

    Tags: Corona vaccine, Corona Vaccine in India, Coronavirus, Coronavirus Case, Covaxin

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर