लाइव टीवी

IIT हैदराबाद में तीसरी मंजिल से कूदकर छात्र ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखा-पढ़ाई में नहीं लग रहा ध्यान

News18Hindi
Updated: October 29, 2019, 6:43 PM IST
IIT हैदराबाद में तीसरी मंजिल से कूदकर छात्र ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखा-पढ़ाई में नहीं लग रहा ध्यान
आत्महत्या की तीन में से दो में छात्रों ने छत से कूदकर अपनी जान दे दी. प्रतीकात्मक फोटो

आत्महत्या (Suicide) से पहले सिद्धार्थ ने अपने एक दोस्त को एक ईमेल लिखा. इसमें उसने लिखा, 'मैं अपनी पढ़ाई पर ध्यान केंद्रित नहीं कर पा रहा हूं. इस कारण डिप्रेशन में आ गया हूं. इसी कारण अब मैं ये कदम उठाने जा रहा हूं.'

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 29, 2019, 6:43 PM IST
  • Share this:
हैदराबाद. इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी हैदराबाद (IIT-H) में मंगलवार तड़के एक छात्र ने आत्महत्या कर ली. इस साल इस इस इंस्टीट्यूट में आत्महत्या (Suicide) का ये तीसरा हादसा है. पुलिस के अनुसार, कंप्यूटर साइंस (Computer Science) से बीटेक (B.Tec) के तीसरे वर्ष के छात्र सिद्धार्थ पिचिकाला ने सुबह 3.26 मिनट पर कॉलेज तीसरी मंजिल से कूदकर आत्महत्या कर ली.

सिद्धार्थ को एक निजी अस्पताल में ले जाया गया, डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. इसके बाद पोस्टमार्टम के लिए उसके शव को गांधी हॉस्पिटल भेज दिया गया. अपनी मौत से कुछ देर पहले ही उसने एक ईमेल अपने दोस्त को भेजा था. इसमें उसने लिखा कि वह अपनी पढ़ाई पर ध्यान केंद्रित नहीं कर पा रहा है. वह इसके कारण डिप्रेशन में आ गया है. इसी कारण वह ये कदम उठाने जा रहा है. सिद्धार्थ ने अपने मेल कहा है, मेरे भीतर एक आलोचक है, जो मेरे हर कदम पर इस सवाल करता है. ऐसे में मुझे लगता है कि मेरा अस्तित्व ही नहीं है. मैं हर समय अपने साथियों के साथ तुलना करते हुए बड़ा हुआ हूं.

पुलिस के अनुसार, ऐसा लगता है कि पिछले दो महीने से सिद्धार्थ पढ़ाई में अपने प्रदर्शन से डिप्रेस था. वह अपने भविष्य और करियर को लेकर बहुत बुरी तरह से डरा हुआ था. ईमेल में सिद्धार्थ ने लिखा भी है, 'जीवन अवसाद से भरा हुआ लगता है. दुर्भाग्य का कभी न खत्म होने वाला ये किस्सा इस हद तक बढ़ चुका है कि मैं मानसिक रूप से इसे बर्दाश्त नहीं कर सकता. मुझे कुछ भी अंदाजा नहीं है कि मेरा भविष्य किस दिशा में जा रहा है. मैं ऐसा पिछले दो महीने से महसूस कर रहा हूं.'

इंस्टीट्यूट प्रबंधन की ओर से शिकायत के बाद पुलिस ने सीआरपीसी की धारा 174 के तहत मामला दर्ज कर लिया है. इस इंस्टीट्यूट में इस साल ये तीसरा मामला है. इससे पहले फरवरी में तृतीय वर्ष के छात्र अनिरुद्धया मुम्मानेनी ने हॉस्टल की बिल्डिंग से कूदकर आत्महत्या कर ली थी. जुलाई में द्वितीय वर्ष के छात्र मार्क एंड्रयू चार्ल्स ने हॉस्टल के कमरे में खुद को फांसी लगा ली थी. मार्क यूपी का रहने वाला था. अपने सुसाइड नोट में मार्क ने लिखा था कि वह अच्छे नंबर नहीं ला सका और दुनिया में असफल लोगों का कोई भविष्य नहीं होता, इसलिए मैं आत्महत्या कर रहा हूं.

यह भी पढ़ें...
RBI से नाराज PMC बैंक के ग्राहक, कहा- आतंकी बनने के लिए अलावा दूसरा रास्ता नहीं

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 29, 2019, 6:30 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...