होम /न्यूज /राष्ट्र /IIT JEE (मेन) पेपर लीक केस: दिल्‍ली कोर्ट ने रूसी हैकर को 2 दिन की CBI कस्टडी में भेजा

IIT JEE (मेन) पेपर लीक केस: दिल्‍ली कोर्ट ने रूसी हैकर को 2 दिन की CBI कस्टडी में भेजा

दिल्‍ली की कोर्ट ने पेपर लीक केस में आरोपी को सीबीआई कस्‍टडी में भेजा है.

दिल्‍ली की कोर्ट ने पेपर लीक केस में आरोपी को सीबीआई कस्‍टडी में भेजा है.

पिछले साल हुई IIT JEE (मुख्य) परीक्षा में कथित हेरफेर के मामले में सीबीआई (CBI) ने रूसी हैकर मिखाइल शरगिन को दिल्‍ली की ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

IIT JEE (मुख्य) परीक्षा पेपर केस के आरोपी को CBI कस्‍टडी में भेजा
आरोपी रूसी हैकर को CBI ने दिल्‍ली की कोर्ट में पेश किया था
लुक आउट सर्कुलर के आधार पर कजाकिस्तान से आने पर गिरफ्तार किया था

नई दिल्‍ली. पिछले साल हुई IIT JEE (मुख्य) परीक्षा में कथित हेरफेर के मामले में सीबीआई (CBI) ने रूसी हैकर मिखाइल शरगिन को दिल्‍ली की राउज एवेन्‍यू कोर्ट (Delhi Court) में पेश किया. अदालत ने मंंगलवार को एक रूसी नागरिक को दो दिनों के लिए सीबीआई हिरासत में भेज दिया है. संयुक्त प्रवेश परीक्षा (जेईई) मेन 2021 पेपर लीक मामले में सीबीआई द्वारा जारी लुक आउट सर्कुलर (एलओसी) के आधार पर कजाकिस्तान से आने पर उसे 3 अक्टूबर को गिरफ्तार किया था.

CBI ने IGI हवाईअड्डे पर एक रूसी हैकर मिखाइल शरगिन को गिरफ्तार किया था. कोर्ट ने कहा कि आरोपी मिखाइल शरगीन जांच में सहयोग करें. अगर जांच में कुछ सामने नहीं आता है तो शरगीन ज़मानत के लिए अर्ज़ी दाखिल कर सकता है. सीबीआई ने कोर्ट को बताया कि आरोपी युवक मिखाइल शरगीन ने उस साफ्टवेयर में छेड़छाड़ की थी जिससे परीक्षा आयोजित की गई थी. इससे अनुमान से कहीं अधिक लोगों ने धोखाधड़ी करते हुए परीक्षा में अधिक अंक हासिल किए थे.

आरोपी मिखाइल जांच में सहयोग नहीं कर रहा 

साफ्टवेयर में छेड़छाड़ के अलावा आरोपी ने संदिग्‍ध परीक्षार्थियों के कंप्‍यूटर भी हैक कर लिए थे और अन्‍य आरोपियों की मदद की थी. इससे एक्‍जाम सेंटर से बाहर बैठे लोग, प्रश्‍न पत्र हल कर रहे थे. सीबीआई ने कोर्ट को बताया कि आरोपी मिखाइल जांच में सहयोग नहीं कर रहा है. वह पेशेवर हैकर है. सीबीआई ने बीते साल इस संबंध में मामला दर्ज किया था. इस परीक्षा में बीते साल करीब 9 लाख से अधिक छात्र शामिल हुए थे. यह परीक्षा केवल ऑनलाइन ही आयोजित होती है.

Tags: CBI, Delhi Court

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें