यूपी में वोटिंग से पहले भारी मात्रा में हथियारों की बरामदगी, 4132 बम भी मिले

एक लाख पुलिसकर्मी और पैरामिलिट्री फोर्स की 157 कंपनियां लगाई गई हैं. वहीं सहयोग के लिए पीएसी को भी लगाया गया है. लेकिन वोटिंग से पहले हथियार और गोला बारूद की बरामदगी ने पुलिस-प्रशासन को चौंका दिया है.

नासिर हुसैन | News18Hindi
Updated: April 11, 2019, 8:05 AM IST
यूपी में वोटिंग से पहले भारी मात्रा में हथियारों की बरामदगी, 4132 बम भी मिले
फाइल फोटो. प्रतीकात्मक.
नासिर हुसैन
नासिर हुसैन | News18Hindi
Updated: April 11, 2019, 8:05 AM IST
यूपी में गुरुवार को लोकसभा चुनाव 2019 का पहला चरण है. इसके तहत 10 जिलों में मतदान होना है. चुनाव कराने के लिए एक लाख पुलिसकर्मी और पैरामिलिट्री फोर्स की 157 कंपनियां लगाई गई हैं. वहीं सहयोग के लिए पीएसी को भी लगाया गया है. लेकिन वोटिंग से पहले हथियार और गोला बारूद की भारी मात्रा में बरामदगी ने पुलिस-प्रशासन को चौंका दिया है.

वोटिंग की तारीख 11 अप्रैल से पहले यूपी में पुलिस 7506 हथियार, 10267 कारतूस और 4132 बम बरामद कर चुकी है. साथ ही 6 हजार किलो से ज्यादा बारूद भी बरामद किया गया है. अवैध हथियार और गोला बारूद की संख्या और मात्रा ने पुलिस की परेशानी को बढ़ा दिया है. ये बरामदगी पुलिस की अभी तक की चेकिंग में हुई है.

पहले चरण के चुनाव को देखते हुए पुलिस कोई रिस्क नहीं लेना चाहती है. परेशानी का सबब ये भी है कि  बरामद हुई अवैध हथियारों की संख्या हजारों में है, लेकिन उन हथियारों की संख्या कितनी होगी जो पुलिस की निगाह से बचकर अपने ठिकानों पर पहुंच चुकी होगी. इसीलिए पुलिस, पीएसी, पैरामिलिट्री फोर्स और होमगार्ड-पीआरडी के जवानों की मदद भी ली जा रही है.

ये भी पढ़ें- कोई और डाल गया है आपका वोट, फिर भी आप ऐसे कर सकते हैं मतदान

हथियार और गोला-बारूद की बरामदगी के साथ ही पुलिस ने 27 करोड़ रुपये से ज्यादा कैश और 127 किलो सोना भी बरामद किया है.

ये भी पढ़ें- 

‘जक़ात’ से 18 मुस्लिम लड़के-लड़कियां बने IAS और IPS अफसर, जुनैद को मिली तीसरी रैंक
गायब नजीब केस का गवाह बना IAS अफसर, मदरसे से भी की है पढ़ाई

Loksabha Election 2019: मुसलमान लोकसभा में इसलिए सिमट गए सिर्फ 24 सीट पर
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...