Cyclone Tauktae: भीषण चक्रवाती तूफान में तब्दील हो रहा 'तौकते', IMD ने जारी किया अलर्ट

भारत के कई स्‍थानों पर तेज बारिश होने के आसार है. (File pic)

भारत के कई स्‍थानों पर तेज बारिश होने के आसार है. (File pic)

Cyclone Tauktae: भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के मुताबिक गहरे दबाव के कारण 'तौकते' (Tauktae) ने काफी खतरनाक रूप ले लिया है और शनिवार तक इसके भीषण चक्रवाती तूफान (Cyclonic Storm) में तब्‍दील होने का अलर्ट जारी कर दिया गया है.

  • Share this:

नई दिल्ली. भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने एक चेतावनी जारी कर कहा कि अरब सागर पर बना कम दबाव का क्षेत्र 17 मई तक भीषण चक्रवाती तूफान (Cyclonic Storm Tauktae) में बदल सकता है. खतरनाक चुक्रवाती तूफान 'तौकते' (Tauktae) के 18 मई तक गुजरात तट को पार करने की संभावना जताई गई है. मौसम विभाग के मुताबिक गहरे दबाव के कारण ये काफी खतरनाक रूप लेने लगा है और शनिवार तक इसके भीषण चक्रवाती तूफान में तब्‍दील होने का अलर्ट जारी कर दिया गया है. 'तौकते' चक्रवाती तूफान के चलते गोवा और दक्षिण कोंकण क्षेत्र में कुछ स्थानों पर भारी बारिश का अनुमान है.

मौसम विभाग के चक्रवात चेतावनी प्रभाग ने अलर्ट जारी करते हुए कहा है कि अभी हम अरब सागर में जिस तरह का दबाव देख रहे हैं, उसे देखने के बाद हम कह सकते हैं कि 16-19 मई के बीच यह 150-160 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार वाली हवाओं के साथ एक ‘अत्यंत भीषण चक्रवाती तूफान’ में तब्दील हो जाएगा. इस खतरना चक्रवाती तूफान का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि हवाओं की रफ्तार बीच-बीच में 175 किलोमीटर प्रति घंटा भी हो सकती है.


चक्रवाती तूफान 'तौकते' के मुताबिक मौसम विभाग ने पश्चिमी तटीय राज्य को सतर्क किया है. आईएमडी के मुताबिक आज और कल लक्षद्वीप में कहीं-कहीं तेज बारिश होगी. मौसम विभाग के मुताबिक 15 मई को कुछ स्थानों पर भारी से अत्यंत भारी तथा कुछ स्थानों पर 16-17 मई को भारी से अत्यंत भारी बारिश होने की संभावना है.
इसे भी पढ़ें :- जानिये राजस्थान में कहां-कहां असर दिखायेगा ये चक्रवाती तूफान, कैसा रहेगा मौसम

इन राज्यों में भारी बारिश का जारी किया गया अलर्ट

मौसम विभाग ने दक्षिण कोंकण और गोवा क्षेत्र में शनिवार को कई स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश होगी और रविवार और सोमवार को कुछ स्थानों पर भारी से बहुत भारी बारिश होगी. विभाग के अनुसार, 24 घंटों में 64.5 मिलीमीटर से 115.5 मिमी. बारिश को भारी बारिश माना जाता है. महाराष्ट्र के दक्षिण कोंकण क्षेत्र में सिंधुदुर्ग और रत्नागिरी जिले आते हैं. इसी तरह 17 मई के बाद गुजरात तट पर बारिश होगी. 18 मई को सौराष्ट्र और कच्छ में भारी से बहुत भारी बारिश का अनुमान है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज