लाइव टीवी

अभी और बढ़ेगा गर्मी का सितम, IMD ने चेताया- अगले कुछ दिन चलेगी बेहद तेज़ लू

News18Hindi
Updated: May 23, 2020, 10:37 PM IST
अभी और बढ़ेगा गर्मी का सितम, IMD ने चेताया- अगले कुछ दिन चलेगी बेहद तेज़ लू
आईएमडी ने कहा कि दिल्ली में शनिवार को सीजन का सबसे गर्म दिन रहा (सांकेतिक तस्वीर)

राजस्थान (Rajasthan) के चूरू (Churu) में अधिकतम तापमान 46.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो शनिवार को देश में सबसे अधिक था.

  • Share this:
(निखिल घानेकर)

नई दिल्ली. महाचक्रवात अम्फान (Cyclone Amphan) के गुजर जाने के बाद अब देश भर में शुक्रवार से तेज गर्मी पड़नी शुरू हो गई है. यहां तक कि उत्तर पूर्व के राज्यों में जहां चक्रवात के कारण तेज बारिश हुई थी, वहां भी अब लोग तेज गर्मी झेल रहे हैं. भारतीय मौसम विभाग ( The India Meteolorogical Department) ने कई राज्यों के लिए 'तेज से लेकर बेहद तेज़ लू' चलने की चेतावनी जारी की है. इसमें उत्तर पश्चिम, मध्य, पूर्वी और दक्षिण के राज्यों में तेज़ और बेहद तेज़ लू चलने की संभावना जताई गई है.

देश के कई हिस्सों में पारा सामान्य से 4-5 डिग्री सेल्सियस अधिक ऊपर चला गया है, जिससे कई शहरों में तापमान 42-43 डिग्री सेल्सियस से अधिक हो गया है और कुछ में 45 डिग्री सेल्सियस के स्तर को भी पीछे छोड़ दिया है.



दिल्ली में सबसे गर्म दिन



आईएमडी ने कहा कि दिल्ली में शनिवार को इस सीजन का सबसे गर्म दिन रहा, जहां पारा 46 डिग्री सेल्सियस से अधिक था. शहर के पालम मौसम केंद्र में 45.6 डिग्री सेल्सियस, जबकि सफदरजंग स्टेशन में 44.7 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया.

राजस्थान के चूरू में भी अधिकतम तापमान 46.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो शनिवार को देश में सबसे अधिक था.

महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश के कई शहरों, अकोला, नागपुर, ग्वालियर, खजुराहो, आगरा और बिलासपुर में पारा 44 डिग्री से अधिक रहा.

अम्फान के गुजरने के बाद पैदा हुई ये स्थिति
मौसम निगरानी संस्था वेदरमैन के मुताबिक, उत्तर-पश्चिम और मध्य भारत पर गर्म और शुष्क उत्तर-पश्चिमी हवाएं और चक्रवात अम्फान के गुजरने के बाद हवाओं में बदलाव के कारण लू की स्थिति पैदा हो गई है.

आईएमडी ने लू की स्थिति पर अपने नोट में कहा “इसके (शुष्क उत्तर-पश्चिमी हवाओं के प्रभाव) के तहत, उत्तर-पश्चिम भारत और इससे सटे मध्य भारत के मैदानी इलाकों में  तेज़ और बेहद तेज़ लू चलने की स्थिति होने की संभावना है. दक्षिण प्रायद्वीपीय भारत में वर्षा की गतिविधि में काफी कमी आई है, जिससे उस क्षेत्र के कुछ हिस्सों में हीट वेव की गतिविधि को बढ़ावा मिलता है.”

27 मई तक रहेगी ये स्थिति
MeT विभाग के वरिष्ठ वैज्ञानिकों ने कहा कि ये स्थितियां उत्तर पश्चिम और मध्य भारत में 27 मई तक रहेंगी, और 26 मई से मराठवाड़ा और दक्षिणी क्षेत्रों में मामूली सुधार होगा.

मौसम विभाग के वैज्ञानिक नरेश कुमार ने कहा कि अम्फान के गुजरने के बाद, हवा के पैटर्न बदल गए हैं. हम 15-17 किमी प्रति घंटे की गति के साथ गर्म और शुष्क सतह वाली हवाओं का सामना कर रहे हैं. अगले कुछ दिनों में लू की हवाओं का भी अनुभव होगा. यह तेज लू राजस्थान, गुजरात, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, बिहार, पूर्वी महाराष्ट्र, तेलंगाना और तटीय आंध्र को प्रभावित करेगी.

मौसम विभाग के अनुसार इन शहरों का पारा सबसे ज्यादा हुआ-
तापमान- डिग्री सेल्सियस में-
चुरु-46.6
दिल्ली (सफदरगंज)-44.7
पालम-45.6
भोपाल-43.8
चंडीगढ़-41.4
हैदराबाद-42.8
जयपुर-43.6
बिलासपुर-44.6
रायपुर-44.4
रांची-39.9
ग्वालियर-45.9
खजुराहो-46
अकोला-46
नागपुर-46
मेदक-44
आगरा-46

ये भी पढ़ें-
कोरोना से पहले घर बुक कराने वालों के​ लिए खड़ी हुई समस्या, जानिए अब क्या करें

सिक्किम में सामने आया Covid-19 का पहला मामला, दिल्ली से लौटा छात्र संक्रमित

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 23, 2020, 9:56 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading