देश के इन हिस्सों में अगले 24 घंटे चल सकती है लू, यहां होगी झमाझम बारिश

देश के इन हिस्सों में अगले 24 घंटे चल सकती है लू, यहां होगी झमाझम बारिश
विदर्भ, पश्चिम राजस्थान में अलग-अलग जगह पर भीषण लू चलने की आशंका है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (Indian Meteorological Department) ने कहा कि पश्चिमी विक्षोभ से 29 और 30 मई को कुछ राहत मिलने की उम्मीद है. इस दौरान, उत्तर भारत (North India) के कुछ हिस्सों में धूल भरी आंधी और गरज के साथ छींटे पड़ने की संभावना भी है.

  • Share this:
नई दिल्ली. भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (Indian Meteorological Department) ने बुधवार को अगले 24 घंटे तक उत्तर और मध्य भारत (North & Central India) के कई हिस्सों में लू चलने की आशंका जाहिर की है. उत्तर और मध्य भारत में पिछले कई दिनों से लू जारी है और साथ ही कई जगहों पर तापमान 47 डिग्री सेल्सियस से अधिक रह रहा है. आईएमडी ने कहा, ‘‘उत्तर-पश्चिम भारत, मध्य भारत और पूर्वी भारत के निकटवर्ती आंतरिक हिस्सों और मैदानी भागों में जारी शुष्क उत्तर-पश्चिमी हवाओं के कारण, अभी चल रही लू के अगले 24 घंटे तक जारी रहने की आशंका है.’’ उसने कहा कि विदर्भ, पश्चिम राजस्थान में अलग-अलग जगह पर भीषण लू चलने की आशंका है.

इन क्षेत्रों में 24 घंटे चल सकती है लू
मौसम विभाग ने कहा कि हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, पश्चिम उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और पूर्वी राजस्थान के कुछ हिस्सों तथा पंजाब, बिहार, झारखंड, ओडिशा, सौराष्ट्र और कच्छ, मध्य महाराष्ट्र और मराठवाड़ा, तेलंगाना के सुदूर इलाकों और कर्नाटक के उत्तरी आतंरिक इलाकों में अगले 24 घंटे तक लू चलने की आशंका है. साथ ही आईएमडी ने कहा कि पश्चिमी विक्षोभ से 29 और 30 मई को कुछ राहत मिलने की उम्मीद है. इस दौरान, उत्तर भारत के कुछ हिस्सों में धूल भरी आंधी और गरज के साथ छींटे पड़ने की संभावना भी है.

इन राज्यों में होगी बारिश



हालांकि, आईएमडी ने असम और मेघालय के लिए 26 से 28 मई के लिए रेड अलर्ट जारी किया है. विभाग के मुताबिक पूर्वोत्तर के इन दोनों राज्यों में मूसलाधार बारिश हो सकती है. अरुणाचल प्रदेश में भी लगातार बारिश हो रही है और दिबांग घाटी जिले में भूस्खलन की चपेट में एक मकान के आने से उसमें रह रही 30 वर्षीय महिला और उसके दो बच्चे जिंदा दफन हो गए.



आईएमडी के महानिदेशक मृत्युंजय महापात्रा ने कहा, ‘‘असम और मेघालय में अगले तीन दिन के लिए रेड अलर्ट जारी किया गया है.’’ उन्होंने कहा कि मई के बाद जून में भी पूर्वोत्तर भारत में अधिकतम वर्षा होगी. इस बीच, राष्ट्रीय मौसम पूर्वानुमान केंद्र की प्रमुख सती देवी ने बताया कि अल्फान तूफान की वजह से मानसून के आगे बढ़ने की रफ्तार थम गई थी लेकिन बुधवार से दोबारा यह अपनी गति पकड़ लेगा.

4 दिन की देरी से केरल पहुंचेगा मानसून
आईएमडी के मुताबिक इस बार मानसून निर्धारित तारीख से चार दिन की देरी के साथ पांच जून को केरल पहुंचेगा. भारतीय मौसम विभाग ने तटीय केरल और कर्नाटक के मछुआरों को अगाह किया है कि वे 30 मई से चार जून के बीच गहरे समुद्र में मछली पकड़ने नहीं जाएं.

ये भी पढ़ें-
बुन्देलखंड-ब्रज क्षेत्र के इन 16 जिलों में आज शाम पलटेगा मौसम, राहत की उम्मीद

उत्तराखंड के जंगलों में लगी भयानक आग, ट्विटर पर ट्रेंड हुआ #PrayForUttarakhand
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading