Home /News /nation /

पाकिस्तान-तालिबान गठजोड़: गुजरात में पकड़ी गई कंधार से भेजी गई 21 हजार करोड़ रुपये की ड्रग्स

पाकिस्तान-तालिबान गठजोड़: गुजरात में पकड़ी गई कंधार से भेजी गई 21 हजार करोड़ रुपये की ड्रग्स

बड़ी मात्रा में ड्रग्स जब्त.

बड़ी मात्रा में ड्रग्स जब्त.

डायरेक्टरेट ऑफ रेवेन्यू इंटेलिजेंस (DRI) ने गुजरात के मुंद्रा बंदरगाह (Mundra Port) से बीते सप्ताह 21 हजार करोड़ रुपये की ड्रग्स जब्त की है. दो कंटेनर में मौजूद ये ड्रग्स कंधार से भेजी गई थी. इन दो कंटेनरों की जब्ती गोपनीय सूचना के आधार पर की गई है.

अधिक पढ़ें ...
  • News18Hindi
  • Last Updated :

नई दिल्ली. अफगानिस्तान में तालिबान के शासन (Taliban) ने पाकिस्तान (Pakistan) की शह पर अपना रूप दिखाना शुरू कर दिया है. डायरेक्टरेट ऑफ रेवेन्यू इंटेलिजेंस (DRI) ने गुजरात के मुंद्रा बंदरगाह (Mundra Port) से बीते सप्ताह 21 हजार करोड़ रुपये की ड्रग्स जब्त की है. दो कंटेनर में मौजूद ये ड्रग्स कंधार से भेजी गई थी. इन दो कंटेनरों की जब्ती गोपनीय सूचना के आधार पर की गई है.

दिलचस्प रूप से जब यह ड्रग्स पकड़ी गई तो शुरुआती आकलन 3500 करोड़ रुपये का किया गया था लेकिन एक हफ्ते की जांच के बाद पता चला कि ये 21 हजार करोड़ रुपये कीमत की है. शीर्ष खुफिया सूत्रों से न्यूज़18 को मिली जानकारी के मुताबिक इस ड्रग्स से मिले पैसे का इस्तेमाल आतंकी गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए किया जा सकता था. पूर्ववर्ती अशरफ गनी सरकार ने ऐसी गतिविधियों पर बिल्कुल रोक लगा दी थी लेकिन अब तालिबान शासन आने के बाद ये फिर शुरू हो गई हैं.

दिल्ली-एनसीआर इलाके में रह रहे अफगानी नागरिकों से पूछताछ की जा रही
केंद्रीय लैब में जांच के बाद सामने आया है कि ये ड्रग्स बेहद हाई क्वालिटी की है. इस संदर्भ में दिल्ली-एनसीआर इलाके में रह रहे अफगानी नागरिकों से पूछताछ की जा रही है. शीर्ष सूत्रों का कहना है कि इन लोगों का आईएसआई के साथ अप्रत्यक्ष संबंध है. लेकिन ज्यादा बातें पूरी पूछताछ के बाद ही निकलकर सामने आएंगी.

ड्रग्स के जरिए आईएसआई की मदद
एक सूत्र का कहना है- जब दुनिया की बड़ी अर्थव्यवस्थाओं ने तालिबान को छोड़ दिया तो उनके पास फंड का ये एकमात्र जरिया है. इसके जरिए वो आईएसआई की मदद कर सकते हैं. अभी ड्रग्स की पूरी कीमत तो नहीं बताई जा सकती है लेकिन लगभग तीन सौ किलो ड्रग्स है जिसकी कीमत 21 हजार करोड़ रुपये हो सकती है.

इस मामले में न्यूज़18 की पहुंच इंटेलिजेंस नोट तक भी हुई है. इस नोट के मुताबिक इस कंसाइनमेंट को आशी ट्रेडिंग कंपनी (विजयवाड़ा) के नाम पर मंगाया गया था जिसके मुताबिक ये उन पत्थरों का पाउडर है जो अफगानिस्तान में मिलते हैं. इसे ईरान के बांदार अब्बास पोर्ट के जरिए मुंद्रा लगाया गया. खुफिया सूत्रों के मुताबिक ये ड्रग्स अफगानिस्तान से भेजी गई. मामले के संदर्भ में अहमदाबाद, दिल्ली, चेन्नई, गांधीधाम और मांडवी में छापे जारी हैं.

(पूरी स्टोरी यहां क्लिक कर पढ़ी जा सकती है.)

Tags: Pakistan, Taliban

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर