लापता विमान पर एक पिता का छलका दर्द, बोले- पुराने विमान ले रहे लोगों की जान

जुलाई 2016 में एक एएन- 32 विमान चेन्नई से पोर्ट ब्लेयर के लिए रवाना होने के बाद बंगाल की खाड़ी में लापता हो गया था.

News18Hindi
Updated: June 5, 2019, 4:57 PM IST
लापता विमान पर एक पिता का छलका दर्द, बोले- पुराने विमान ले रहे लोगों की जान
प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर
News18Hindi
Updated: June 5, 2019, 4:57 PM IST
भारतीय वायु सेना के एक एएन- 32 परिवहन विमान के लापता होने से 62 वर्षीय राजेंद्र बारपट्टे की दुखद यादें फिर ताजा हो गईं. बारपट्टे के पुत्र वायुसेना के अधिकारी थे और करीब तीन साल पहले ऐसे ही एक विमान में सवार थे जो लापता हो गया था. उस विमान में कुल 29 लोग सवार थे.

बारपट्टे ने कहा कि इन पुराने विमानों को बदल दिया जाना चाहिए क्योंकि वे उन लोगों के जीवन को खतरे में डाल रहे हैं जो उन्हें उड़ाते हैं. जुलाई 2016 में एक एएन- 32 विमान चेन्नई से पोर्ट ब्लेयर के लिए रवाना होने के बाद बंगाल की खाड़ी में लापता हो गया था. बारपट्टे के 27 वर्षीय पुत्र कुणाल उस विमान में फ्लाइट नेविगेटर थे.

कई विमानों द्वारा उस विमान की तलाश के लिए अभियान चलाने के बावजूद खोजा नहीं जा सका. उन्होंने कहा कि महीनों बाद वायुसेना की कोर्ट ऑफ इनक्वायरी ने निष्कर्ष निकाला कि विमान में सवार लोगों के बचने की संभावना नहीं है. उन्होंने कहा, 'पिछले 35 वर्षों से हम उसी विमान का उपयोग कर रहे हैं....'

ये भी पढ़ें: AN-32 विमान के साथ लापता पायलट की पत्नी भी हादसे के दिन कर रही थी जोरहाट एयरपोर्ट पर ग्राउंड ड्यूटी

बता दें कि भारतीय वायुसेना के विमान AN32 को खोजने के लिए अराकोनम (तमिलनाडु) स्थित INS रजाली से लॉन्ग रेंज मैरीटाइम रीकानसन्स एयरक्राफ्ट्स ने उड़ान भरी है. यह जानकारी नौसेना ने ट्विटर पर दी.

ये भी पढ़ें: भारतीय वायुसेना के लापता विमान IAF AN-32 को ढूंढेगा इसरो, नौसेना और सुखोई भी कर रहे हैं खोज

नौसेना की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार मंगलवार को दोपहर एक बजे इस विमान ने उड़ान भरी. जानकारी दी गई कि यह विमान घने जंगलों वाले क्षेत्रों में इलेक्ट्रो ऑप्टिकल और इंफ्रा रेड (ईओ और आईआर) सेंसर के साथ खोज करेगा. वायुसेना का एक एएन- 32 विमान सोमवार को लापता हो गया था.
Loading...

इससे पहले भी हो चुके हैं हादसे

इससे पहले 2009 में वायुसेना का एक और एएन-32 विमान अरुणाचल प्रदेश के पश्चिम सियांग जिले के एक गांव के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गया था. उस हादसे में 13 रक्षा कर्मियों की मौत हो गई थी. एंतो नोव एएन -32 एक दो इंजन वाला सैन्य परिवहन विमान है जो बिना पुन: ईंधन भरे चार घंटे तक उड़ान भर सकता है.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
First published: June 5, 2019, 4:30 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...