होम /न्यूज /राष्ट्र /

9 राज्यों में 50 फीसदी से ज्यादा वयस्कों को लगा पहला डोज, अब फिर धीमा हुआ टीकाकरणः रिपोर्ट

9 राज्यों में 50 फीसदी से ज्यादा वयस्कों को लगा पहला डोज, अब फिर धीमा हुआ टीकाकरणः रिपोर्ट

छत्तीसगढ़, राजस्थान, केरल, कर्नाटक, एमपी में 50% से ज्यादा आबादी को वैक्सीन का पहला डोज लग चुका है.(प्रतीकात्मक तस्वीर: AP)

छत्तीसगढ़, राजस्थान, केरल, कर्नाटक, एमपी में 50% से ज्यादा आबादी को वैक्सीन का पहला डोज लग चुका है.(प्रतीकात्मक तस्वीर: AP)

Vaccination in India: रिपोर्ट में आधार कार्ड (Aadhar Card) के डेटा के हवाले से बताया गया कि देश में कुल वयस्क आबादी 93.39 करोड़ है. इनमें से 40.69 करोड़ लोगों को कोविड-19 के खिलाफ पहला डोज लग गया है.

    नई दिल्ली. उम्मीद की जा रही थी कि कोरोना वायरस (Coronavirus) के खिलाफ जुलाई के बाद से टीकाकरण (Covid-19 Vaccination) की रफ्तार बढ़ेगी, लेकिन हाल ही में सामने आए आंकड़े अलग संकेत दे रहे हैं. 5 अगस्त को दैनिक टीकाकरण का औसत 56 लाख से ज्यादा था, जबकि, 11 अगस्त को यह आंकड़ा 42.5 लाख पर आ गया है. देश का सबसे ज्यादा जनसंख्या वाला राज्य उत्तर प्रदेश आबादी के बड़े हिस्से को टीका लगाने के मामले में पीछे है, लेकिन वैक्सीन के सबसे ज्यादा डोज लगाने वाले राज्यों में उसका नाम शीर्ष पर है. वहीं, ज्यादा से ज्यादा आबादी को वैक्सीन देने वालों में हिमाचल प्रदेश का नाम पहले नंबर पर है। टीकाकरण की कम होती दर के बाद अधिकारियों ने संभावना जताई है कि सितंबर से देश में टीका निर्माण में तेजी आएगी, जिसके बाद रोज लगने वाले टीकों का औसत 59 लाख तक पहुंच सकता है.

    दैनिक भास्कर ने आधार कार्ड के डेटा के हवाले से लिखा है कि देश में कुल वयस्क आबादी 93.39 करोड़ है. इनमें से 40.69 करोड़ लोगों को कोविड-19 के खिलाफ पहला डोज लग गया है. आंकड़े बताते हैं कि हिमाचल प्रदेश टीककारण के मामले में सबसे आगे चल रहा है. रिपोर्ट में दर्ज आंकड़ों के अनुसार, राज्य में 77 फीसदी आबादी को पहला डोज लग गया है. यहां कुल टीकाकरण की संख्या 58.8 लाख है.

    सबसे ज्यादा डोज देने वाले टॉप-5 राज्य

    राज्यपहला डोजदूसरा डोजकुल
    उत्तर प्रदेश4,75,16,97188,22,1715,63,39,142
    महाराष्ट्र3,55,54,9251,23,83,3144,79,38,239
    गुजरात2,92,02,56094,35,6713,86,38,231
    मध्य प्रदेश3,08,53,54159,21,9813,67,75,522
    राजस्थान2,76,92,30286,66,7753,63,59,077

    टीकाकरण में किस राज्य की क्या स्थिति
    रिपोर्ट के अनुसार, उत्तर प्रदेश में 31.4% आबादी को पहला और 5.8% को दूसरा डोज लगा है. पहली और दूसरी लहर के दौरान सर्वाधिक प्रभावित कहे जाने वाले महाराष्ट्र में 39.8% को पहला और 13.8% जनसंख्या को दूसरा डोज मिल सका है. रिपोर्ट के मुताबिक टीकाकरण के मामले में सबसे चिंताजनक ट्रेंड यूपी और बिहार में देखने को मिल रहा है. यूपी में 14.9 करोड़ लोग 18 साल से ऊपर के हैं. इनमें से अभी 4.68 करोड़ को वैक्सीन की एक खुराक दी गई है.

    आबादी के लिहाज से पिछड़े ये पांच राज्य

    राज्यपहला डोज (आबादी का प्रतिशत)दूसरा डोज (आबादी का प्रतिशत)
    उत्तर प्रदेश31.4%5.8%
    बिहार33.3%6.4%
    झारखंड35.6%8.5%
    तमिलनाडु36.2%8.2%
    पंजाब34.7%9.8%

    केवल तीन राज्यों में 20% से ज्यादा आबादी को मिला दूसरा डोज
    रिपोर्ट में जारी आंकड़े बताते हैं कि देश के केवल तीन राज्य ऐसे हैं, जहां 20% से ज्यादा आबादी को वैक्सीन का दूसरा डोज मिला है. इनमें हिमाचल प्रदेश (24.7%), उत्तराखंड (20.1%) और केरल (21.8%) का नाम शामिल है. वहीं, गुजरात में 19.7% और जम्मू-कश्मीर में 18.6% जनसंख्या ने दूसरा डोज प्राप्त किया है, जबकि, मध्य प्रदेश में यह आंकड़ा 10.7%, कर्नाटक में 15.8% है.

    छत्तीसगढ़, राजस्थान, केरल, कर्नाटक, एमपी में 50% से ज्यादा आबादी को वैक्सीन का पहला डोज लग चुका है. वहीं, जम्मू-कशमीर, उत्तराखंड और गुजरात में 60% से ज्यादा आबादी पहला डोज प्राप्त कर चुकी है. हिमाचल प्रदेश के मामले में यह संख्या 77% है. आंकड़ों के अनुसार, देश में 43.6% वयस्क आबादी को पहला डोज लग चुका है. एक्सपर्ट्स का कहना है कि 60% से ज्यादा वयस्क आबादी का टीका लगा चुके राज्यों में तीसरी लहर का खतरा कम है.

    Tags: Coronavirus, Covid-19 vaccine, Vaccination in India

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर