पीएम मोदी ने IIT-बॉम्बे के छात्रों को दिए सफलता के ये 10 मंत्र

पीएम मोदी ने कहा कि इनोवेशन और उद्यम भारत को एक विकसित राष्ट्र बनाने की आधारशिला है. उन्होंने कहा कि आज जो डिग्री आपको मिली है, ये आपके निष्ठा,प्रतिबद्धता का प्रतीक है.

News18Hindi
Updated: August 11, 2018, 2:28 PM IST
पीएम मोदी ने IIT-बॉम्बे के छात्रों को दिए सफलता के ये 10 मंत्र
पीएम मोदी ने कहा कि इनोवेशन और उद्यम भारत को एक विकसित राष्ट्र बनाने की आधारशिला है. उन्होंने कहा कि आज जो डिग्री आपको मिली है, ये आपके निष्ठा,प्रतिबद्धता का प्रतीक है.
News18Hindi
Updated: August 11, 2018, 2:28 PM IST
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को आईआईटी-बंबई के 56वें दीक्षांत समारोह को संबोधित किया. इसके साथ ही प्रधानमंत्री ने आईआईटी-बंबई में ऊर्जा विज्ञान एवं इंजीनियरिंग के नए भवन और सेंटर फॉर एन्वॉयरामेंटल साइंस एंड इंजीनियरिंग का उद्घाटन भी किया. इस दौरान अपने संबोधन में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आईआईटी की अवधारणा प्रौद्योगिकी के जरिये राष्ट्र निर्माण में योगदान के लिए की गई थी. उन्होंने कहा कि देश को आईआईटी और उनकी उपलब्धियों पर गर्व है.

आइए आपको प्रधानमंत्री मोदी के भाषण की 10 बड़ी बाते बताते हैं.
1- पीएम मोदी ने कहा, 'आज इस अवसर पर सबसे पहले मैं डिग्री पाने वाले देश-विदेश के विद्यार्थियों, और उनके परिवारों को बधाई देता हूं, उनका अभिनंदन करता हूं.'

2- पीएम मोदी ने कहा, 'आईआईटी ने देशभर में कई इंजीनियरिंग कॉलेज स्थापित करने की प्रेरणा दी और ये एक वैश्विक ब्रांड के रूप में उभरे हैं. उन्होंने कहा कि इनोवेशन तथा नवीन प्रौद्योगिकी विकास के लिए भविष्य की दिशा तय करेगी, जिसमें आईआईटी की महत्वपूर्ण भूमिका होगी.'

3- पीएम ने कहा कि इनोवेशन और उद्यम भारत को एक विकसित राष्ट्र बनाने की आधारशिला है.  पीएम मोदी ने कहा कि 5 जी ब्रॉडबैंड, कृत्रिम मेधा, आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस, और ब्लॉक चेन, स्मार्ट मैन्यूफैक्चरिंग तथा स्मार्ट सिटी के निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करेंगे.

4- पीएम ने कहा कि IIT को देश और दुनिया इंडियन इंस्टिट्यूट्स ऑफ टेक्नोलॉजी के रूप में जानती है, लेकिन आज हमारे लिए इनकी परिभाषा थोड़ी बदल गई है. उन्होंने कहा कि IIT सिर्फ टेक्नोलॉजी की पढ़ाई से जुड़े स्थान भर नहीं रह गए हैं, बल्कि IIT आज भारत के परिवर्तन का साधन (India’s Instrument of Transformation) बन गए हैं.

यह भी पढ़ें: OPINION: क्या है राज्यसभा में हरिवंश बाबू की जीत के मायने?

5- पीएम मोदी ने कहा कि बीते 6 दशकों की निरंतर कोशिशों का ही परिणाम है कि आईआईटी-बंबई ने देश के चुनिंदा सेंटर फॉर एमिनेंस में अपनी जगह बनाई है.

6-पीएम ने कहा कि आपको अब एक हजार करोड़ रुपए की आर्थिक मदद मिलने वाली है जो आने वाले समय में यहां इंफ्रास्ट्रक्चर के विकास में काम आने वाला है.

7- पीएम ने कहा कि मेरा आप सभी से भी इतना ही आग्रह है कि अपनी असफलता की उलझन को मन से निकालें और  अभिलाषाओं पर ध्यान लगाएं. ऊंचे लक्ष्य, ऊंची सोच आपको अधिक प्रेरित करेगी. उलझन आपके टैलेंट को सीमाओं में बांध देगा. सिर्फ आकांक्षाएं होना ही काफी नहीं है, लक्ष्य भी अहम होता है.

8- पीएम मोदी ने कहा कि यहां पहुंचने के लिए आपने बहुत परिश्रम किया है. आप में से अनेक साथी ऐसे होंगे जो अभावों से जूझते हुए यहां तक पहुंचे है. आप में अद्भुत क्षमता है, जिसके बेहतर परिणाम भी आपको मिल रहा है.

यह भी पढ़ें: राहुल गांधी बोले, नरेंद्र मोदी की मानसिकता दलित विरोधी, समावेशी भारत के लिए संघर्ष करेगी कांग्रेस

9- पीएम मोदी ने कहा कि ऐसे भी लाखों युवा हैं जो यहां आने के लिए परिश्रम करते हैं लेकिन उन्हें सफलता नहीं मिल पाती. उनमें टैलेंट की कमी है ऐसा नहीं है, अवसरों और गाइडेंस के अभाव में उन्हें ये मौका नहीं मिल पाया है, ऐसे अनेक छात्रों के जीवन में, उनका मार्गदर्शन कर आप नई रोशनी ला सकते हैं.

10- पीएम मोदी ने कहा कि आज जो डिग्री आपको मिली है, ये आपके निष्ठा,प्रतिबद्धता का प्रतीक है.याद रखिए कि ये सिर्फ एक पड़ाव भर है, असली चुनौती आपका बाहर इंतज़ार कर रही है आपने आज तक जो हासिल किया और आगे जो करने जा रहे हैं, उससे आपकी अपनी, आपके परिवार की, 125 करोड़ देशवासियों की उम्मीदें जुड़ी हैं.

यह भी पढ़ें: राज्यसभा उपसभापति चुनाव: खुद ही 'महागठबंधन' को हरा देंगे राहुल गांधी?
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर