लाइव टीवी
Elec-widget

IIT मद्रास की छात्रा फातिमा लतीफ की खुदकुशी का मामला उलझा, मोबाइल से खुलेगा राज़

News18Hindi
Updated: November 16, 2019, 10:22 AM IST
IIT मद्रास की छात्रा फातिमा लतीफ की खुदकुशी का मामला उलझा, मोबाइल से खुलेगा राज़
बढ़ते दबाव के चलते अब कॉलेज प्रशासन ने केंद्रीय अपराध शाखा को जांच की जिम्मेदारी दी है

फातिमा लतीफ (Fathima Latif) के परिवारवाले इसे आत्महत्या नहीं बल्कि हत्या मान रहे हैं. उन्हें आरोप लगाया कि इसमें IIT मद्रास के ही एक प्रोफेसर का हाथ हो सकता है, जो कथित रूप से उसके अलग धर्म के कारण उसके साथ भेदभाव करता था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 16, 2019, 10:22 AM IST
  • Share this:
चेन्नई. IIT मद्रास की छात्रा फातिमा लतीफ (Fathima Latif) की खुदकुशी (Suicide) का मामला लगातार उलझता जा रहा है. किसी को ये यकीन नहीं हो रहा है कि फातिमा ने खुदकुशी कर ली. परिवारवाले इसे आत्महत्या नहीं बल्कि हत्या मान रहे हैं. उन्हें आरोप लगाया कि इसमें IIT मद्रास के ही एक प्रोफेसर का हाथ हो सकता है, जो कथित रूप से उसके अलग धर्म के कारण उसके साथ भेदभाव करता था. बढ़ते दबाव के चलते अब कॉलेज प्रशासन ने केंद्रीय अपराध शाखा को जांच की जिम्मेदारी दी है. आईए सिलसिलेवार तरीके से एक नज़र डालते हैं कि इस घटना में आखिर कब क्या हुआ और किस तरह मौत की गुत्थी उलझती जा रही है...

पंखे से लटकी मिली लाश
केरल के कोल्लम की रहने वाली फातिमा ने इस साल जुलाई में आईआईटी मद्रास में एडमिशन लिया था. 9 नवंबर को उसकी लाश हॉस्टल के कमरे में मिली. 10 नवंबर को जब फातिमा की मां को कॉल का कोई जवाब नहीं मिला तो उन्होंने उसके दोस्तों को फोन मिलाया. तलाश की गई तो उसकी लाश पंखे से लटकी मिली.

मोबाइल से खुलेगा राज़

घटना के बारे में मालूम चलते ही परिवारवाले चेन्नई पहुंचे. यहां उन्हें फातिमा का मोबाइल मिला. फोन मिलते ही परिवार के लोग हैरान हो गए. फातिमा की बहन आयशा के मुताबिक किसी ने उसके मोबाइल से छेड़छाड़ की थी. फातिमा के फोन के पासवर्ड बदल दिए गए थे. परिवार का आरोप है कि फातिमा ने मोबाइल के होमस्क्रीन पर एक नोट लिखा था, जिसमें उसने अपनी मौत के लिए ह्यूमैनिटीज और सोशल साइंस डिपार्टमेंट के प्रोफेसर को ज़िम्मेदार ठहाराया था. 14 नवंबर को मोबाइल को जांच के लिए सायबर सेल के पास भेज दिया गया है.

प्रोफेसर करता था परेशान!
मीडिया से बातचीत में परिवारवालों ने कहा कि फातिमा ने बताया था कि उन्हें एक प्रोफेसर परेशान करता था. परिवार को पूरा यकीन है कि ये खुदकुशी नहीं आत्महत्या है. उनका कहना है कि पंखे में रस्सी भी नहीं लगी थी. इसके अलावा मौत से एक दिन पहले रात को खाने के समय कैंटीन में वो रो रही थी. उन्हें किसी दोस्त ने चुप भी कराया था. परिवारवालों का आरोप है कि उन्होंने सीसीटीवी फुटेज की मांग की थी, लेकिन अभी उन्हें नहीं दिया गया है.
Loading...

CM से मिले पिता
मुख्यमंत्री पलानीस्वामी और पुलिस महानिदेशक जेके त्रिपाठी से मुलाकात के बाद फातिमा के पिता अब्दुल लतीफ ने कहा कि परिवार निष्पक्ष जांच चाहता है. उन्होंने कहा, ‘तमिलनाडु के मुख्यमंत्री पलानीस्वामी ने भरोसा दिया है कि दोषियों को जल्द गिरफ्तार किया जाएगा. मैं उनके आश्वासन से संतुष्ट हूं. जांच कल शुरू हुई देखते हैं कि क्या होता है.’ अब्दुल लतीफ ने कहा कि पुलिस महानिदेशक ने भी कार्रवाई का भरोसा दिया है. उन्होंने दावा किया कि जब बेटी का शव लेने परिवार और कोल्लम के महापौर आए थे तो पुलिस ने उनके साथ दुर्व्यवहार किया.

भारी विरोध प्रदर्शन
फातिमा लतीफ के लिए न्याय की मांग के साथ द्रमुक की युवा शाखा, कांग्रेस से संबद्ध नेशनल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया और भाकपा की विद्यार्थी शाखा ऑल इंडिया स्टूडेंट्स फेडरेशन ने संस्थान के सामने विरोध प्रदर्शन किए.  तमिलनाडु और केंद्र सरकार के खिलाफ नारे लगाते हुए विद्यार्थियों ने अपने लिए न्याय मांगा.

(भाषा इनपुट के साथ)

ये भी पढ़ें:

आइंस्टीन से तेज है इस बच्चे का दिमाग, 9 साल में हासिल की ग्रेजुएशन की डिग्री

इस डिवाइस से पता लगेगा कमरे के अंदर का पोल्यूशन, आसान है तरीका

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 16, 2019, 9:00 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...