इस तरह भारत के खिलाफ साजिशों का चक्रव्यूह तैयार कर रहा है चीन

भारत के बढ़ते कद से चीन और पाकिस्तान दोनों ही परेशान हैं. एक तरफ चीन भारत को हर मोर्चे पर उकसा रहा है.

भारत के बढ़ते कद से चीन और पाकिस्तान दोनों ही परेशान हैं. एक तरफ चीन भारत को हर मोर्चे पर उकसा रहा है.

  • Share this:
    भारत के बढ़ते कद से चीन और पाकिस्तान दोनों ही परेशान हैं. एक तरफ चीन भारत को हर मोर्चे पर उकसा रहा है. उसने भारत की सीमाओं पर घेराबंदी तेज कर दी है. वहीं, दूसरी तरफ पाकिस्तान भी भारत के खिलाफ साजिशें रचने से बाज नहीं आ रहा है. वह आतंकवाद को हथियार बनाकर भारत पर वार कर रहा है. इस तरह चीन हिंदुस्तान के खिलाफ साजिशों का चक्रव्यूह तैयार कर रहा है, जिससे निपटने के लिए भारत को समय रहते तैयार होना होगा.

    सीमा पर चीन की पहली साजिश: भारत और चीन की सीमा 5 राज्यों से जुड़ती है जो जम्मू-कश्मीर, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, सिक्किम और अरुणाचल प्रदेश से लगती है. इसकी कुल लंबाई 4 हजार किलोमीटर है.



    चीन इस पूरे 4000 किलोमीटर की सीमा पर जगह-जगह विवाद करता रहा है, लेकिन अब वो भारत को उकसाने के लिए भूटान में भी हरकतें कर रहा है.

    भूटान में चीन की दूसरी साजिश: भारत, चीन और भूटान की सीमा से लगने वाला 'डोका ला इलाका', जो भूटान में है. चीन अब इस इलाके पर भी कब्जा करने की कोशिश कर रहा है. (तस्वीर में देखें)



    जमीनी सीमाओं के अलावा चीन समंदर में भी अपने पैर फैला रहा है. हिंद महासागर में युद्धपोत तैनात करने की उसकी चोरी भरतीय उपग्रह पहले ही पकड़ चुके हैं. अब उसने एक और साजिश को अंजाम दिया है.

    समंदर में चीन की तीसरी साजिश: अफ्रीकी देश जिबूती में चीन ने अपना सैन्य अड्डा बनाया है, जिबूती में चीन का सैन्य अड्डा भारत के लिए बड़ा खतरा है, क्योंकि इससे चीन भारत को घेरने की साजिश रच रहा है.



    जानकारों के मुताबिक जिबूती में चीन का सैन्य भारत के लिए चिंता की बात है और उसकी इस चाल से निपटने के लिए हमें कई बड़ी तैयारियां करनी होंगीं.

    जमीनी सीमाओं के अलावा चीन समंदर में भी अपने पैर फैला रहा है. हिंद महासागर में युद्धपोत तैनात करने की उसकी चोरी भारतीय उपग्रह पहले ही पकड़ चुके हैं.



    अब उसने एक और साजिश को अंजाम दिया है. भारत के खिलाफ चीन अकेले ही साजिश नहीं रच रहा है बल्कि पाकिस्तान के साथ मिलकर भी वो भारत के लिए मुश्किलें खड़ी करने की कोशिश कर रहा है.

    पाकिस्तान से मिलकर चीन की चौथी साजिश

    चीन और पाकिस्तान इकोनॉमिक कॉरिडोर तैयार कर रहे हैं. ये कॉरिडोर चीन के काश्गर से पाकिस्तान के ग्वादर पोर्ट तक जाता है. चीन पाकिस्तान के साथ मिलकर इस कॉरिडोर के रास्ते में अपने सैन्य अड्डे बना रहा है, जो पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) में पड़ता है. चीन पीओके में सैन्य अड्डे बना रहा है.



    इन सबके अलावा चीन भारत की सीमाओं तक अपनी रेल और सड़क ला रहा है. इसे देखते हुए जानकारों का मानना है कि भारत को अपनी सैन्य तैयारयों को मजबूत करने के साथ-साथ सेना को और खुली छूट देनी होगी.

    एक तरफ चीन और पाकिस्तान मिलकर सीमाओं पर भारत को घेर रहे हैं तो दूसरी ओर पाकिस्तान ने आतंकवाद को हथियार बनाकर भारत के खिलाफ जंग छेड़ रखी है. इस बीच पाकिस्तान की केमिकल बम वाली साजिश का भी पर्दाफाश हुआ है. हिज्ब के एक आतंकी के मुताबिक घाटी केमिकल हथियार घाटी में पहुच भी चुके हैं.

    कश्मीर में केमिकल बम से हमले की साजिश

    चीन और पाकिस्तान ने भारत के खिलाफ जो चक्रव्यूह तैयार किया है. उसकी एक वजह दुनिया में भारत का बढ़ता कद भी है. महाशक्ति बनने का ख्वाब देख रहे चीन को हिंदुस्तान से सबसे ज्यादा खतरा सता रहा है, इसलिए वो भारत को किसी भी कीमत पर कमजोर करना चाहता है. जानकारों का मानना है कि दुनिया में जिस तेजी से भारत का कद बढ़ रहा है. हमें रक्षा तैयारियों में भी उतनी ही तेजी लानी होगी. वरना यही सुपरपावर बनने में हमारे रास्ता का कांटा बन जाएगा.

    ये भी पढ़ें-

    अब 'ऑपरेशन 2.5 मोर्चा' से चीन-पाकिस्तान को मात देगा भारत

    अमेरिका ने पास किया रक्षा बजट, भारत को रक्षा सहयोग बढ़ाने का प्रस्‍ताव

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.