Home /News /nation /

विदेश मंत्री एस जयशंकर बोले- भारत और चीनी सैनिकों के बीच नहीं हुई कोई झड़प

विदेश मंत्री एस जयशंकर बोले- भारत और चीनी सैनिकों के बीच नहीं हुई कोई झड़प

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने मंगलवार को कहा कि भारत और चीनी सैनिकों के बीच लद्दाख के पेंगांगा तसो झील के पास हाल की घटना ‘झड़प’ नहीं बल्कि तनातनी थी.

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने मंगलवार को कहा कि भारत और चीनी सैनिकों के बीच लद्दाख के पेंगांगा तसो झील के पास हाल की घटना ‘झड़प’ नहीं बल्कि तनातनी थी.

विदेश मंत्री एस जयशंकर (S Jaishankar) ने मंगलवार को कहा कि भारत (India) और चीनी (China) सैनिकों के बीच लद्दाख (Ladakkh) के पेंगांगा तसो झील के पास हाल की घटना ‘झड़प’ नहीं बल्कि तनातनी थी.

    नई दिल्ली. विदेश मंत्री एस जयशंकर (S Jaishankar) ने मंगलवार को कहा कि भारत (India) और चीनी (China) सैनिकों के बीच लद्दाख (Ladakkh) के पेंगांगा तसो झील के पास हाल की घटना ‘झड़प’ नहीं बल्कि तनातनी थी. उन्होंने कहा कि ऐसे मामलों को सुलझाने के लिये स्थापित द्विपक्षीय तंत्र का उपयोग करते हुए सुलझा लिया गया.

    हाल ही में झील के पास भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच धक्कामुक्की की खबरें आई थी और इस मामले को दोनों देशों की सेना ने तेजी से सुलझा लिया था. इसे दोनों पक्षों ने शिष्टमंडल स्तर की वार्ता के बाद सुलझा लिया था.

    फेसऑफ को सुलझा लिया गया
    सरकार के 100 दिन पूरे होने पर आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान जयशंकर ने कहा, ‘‘यह झड़प नहीं थी. मैं स्पष्ट रूप से समझता हूं कि यह तनातनी (फेसऑफ) थी. इसे सुलझा लिया गया.’’ विदेश मंत्री ने कहा, ‘‘समय-समय पर ऐसी घटनाएं सामने आती रही हैं जो वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) को लेकर अलग-अलग समझ के कारण होती है. कई बार ऐसी स्थिति उत्पन्न होती है.’’ उन्होंने कहा कि ऐसी स्थिति में स्थापित तंत्र के तहत काफी प्रयास होते हैं. हाल की घटना में तंत्र का उपयोग किया गया और इसे सुलझा लिया गया.

    हिन्द महासागर (Indian Ocean) के पास चीनी पोतों की मौजूदगी के बारे में एक सवाल पर उन्होंने कहा कि यह राजनयिक मामला नहीं है और यह नौसेना (Indian Navy) से जुड़ा विषय है .

    तय नहीं चिनपिंग दौरे की तारीख
    दक्षिण चीन सागर (South China Sea) में चीन के आक्रामक रुख पर उन्होंने कहा कि भारत ऐसे मुद्दों पर वियतनाम (Vietnam) के साथ काम करता है और काफी मामलों में वियतनाम निपटता है. चीनी राष्ट्रपति शी चिनपिंग (Xi Jinping) की अनौपचारिक वार्ता को लेकर भारत यात्रा के बारे में एक सवाल के जवाब में जयशंकर ने कहा कि इसकी तिथि अंतिम रूप दिये जाने के बाद सार्वजनिक की जायेगी.

    5G पर फैसला लेगा भारत
    यह पूछे जाने पर कि सीमा वार्ता के लिये चीन के विशेष दूत वांग यी के कार्यक्रम को पुन: निर्धारित किया गया है, उन्होंने कहा कि अक्सर दो..तीन तिथियां आगे की जाती हैं और इसे पुन: निर्धारित नहीं किया गया है. चीनी दूरसंचार कंपनी हुवावे के बारे में प्रश्न पर उन्होंने कहा कि यह दूरसंचार और प्रौद्योगिकी से जुड़ा विषय है और भारत न केवल हुवावे पर बल्कि 5जी पर निर्णय करेगा. चीन की वन बेल्ट वन रोड परियोजना के संबंध में उन्होंने कहा कि इस पर हमारे रुख में कोई बदलाव नहीं आया है.

    ये भी पढ़ें-
    भारत-पाक में कम हुआ तनाव, जल्द करूंगा PM मोदी और इमरान से मुलाकात: ट्रंप

    100 दिनों का रिपोर्ट कार्ड पेश करते हुए सुषमा को याद करना नहीं भूले जयशंकर

    Tags: China, India, India china, S Jaishankar, Xi jinping

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर